30 मई तक बंगाल पूरी तरह से बंद। कोरोना को देखते हुए लिया गया कड़ा फैसला।

चुनाव ख़त्म होने बाद ही बंगाल सरकार अब एक्शन मोड़ में नजर आ गयी है। 2 मई को चुनावी परिणाम आने के बाद ममता बनर्जी ने एक बार मुख्यमंत्री कि पद को संभाल रही है लेकिन चुनाव के बाद कोरोना तेजी से फ़ैल रहा है। कोरोना कि बढ़ती रफ़्तार पर स्पीड ब्रेकर के तौर पर लॉकडाउन लगाने का फैसला अब बंगाल सरकार ने किया है ताकि कोरोना कि बढ़ती रफ़्तार को रोका जा सके।

बंगाल में 16 मई से 30 मई तक पूर्ण लॉकडाउन लगाने का फैसला सरकार ने किया है। इस लॉकडाउन के दौरान जरुरी सेवाएं जारी रहेगी। जारी आदेश के अनुसार 15 दिनों तक पुरे राज्य में लॉकडाउन रहेगा। इस दौरान रात्रि 9 बजे से सुबह 5 बजे तक लोगो को निकलने कि अनुमति नहीं रहेगी। जरुरी सेवाएं जारी रहेगी।पश्चिम बंगाल में चुनाव समाप्त होते ही संक्रमण दर तेजी से बढ़ा है। बंगाल में शुक्रवार को 20,846 नए मरीज मिले जबकि 136 मरीजों ने जान गवाई। बंगाल में संक्रमण दर करीब 30 % से ज्यादा है।

आईये जानते है किन चीजों पर रहेगी छूट ?       

1. राशन कि दुकानें सुबह 7 बजे से 10 बजे तक खेलेंगी।
2. फल – सब्जी , दूध कि दुकानें भी सुबह 7 से 10 तक ही खुलेंगी।
3. मिठाई कि दुकानें शाम 5 बजे तक खुलेंगी।
4. बैंक अब सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक खुलेगी।
5. शादी में 50 और अंतिम संस्कार में सिर्फ 20 लोगो कि अनुमति।

लॉकडाउन में क्या रहेगा बंद ?

1. राजनीतिक, सांस्कृतिक और धार्मिक आयोजनों पर रहेगीं रोक।
2. लोकल ट्रैन ,मेट्रो सर्विस ,बस सर्विस बंद रखने का निर्देश।
3. इमरजेंसी के अलावा सभी प्राइवेट कार ,टैक्सी ,ऑटो के संचालन पर रोक।
4. सभी सरकारी और प्राइवेट ऑफिसेस (जरूरी सेवाओं को छोड़ कर )सब रहेंगे बंद।
5. स्कूल ,कॉलेज को भी खोलने पर रहेंगी पाबन्दी।
6. जरुरी सेवाओं को छोड़कर सभी तरह कि फैक्ट्री – इंडस्ट्रीज रहेगी बंद।
7. जरूरी सेवाओं में इस्तेमाल होने वालें ट्रक या गुड्स व्हीकल के अलावा बाकी सभी ट्रकों के आवाजाही पर रहेगी पाबन्दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *