Modi Cabinet Resuffle : मोदी के कैबिनेट विस्तार से पहले कुछ मंत्रियों कि हुई छुट्टी, सूची यहां देखें।

0
122
Modi Cabinet Resuffle

आज शाम 6:00 बजे मोदी कैबिनेट का विस्तार होना है। इस मोदी कैबिनेट विस्तार (Modi Cabinet Resuffle) से पहले कई मंत्रियों की छुट्टी करने की तैयारी कर ली गई है। इन मंत्रियों में रमेश पोखरियाल निशंक, सदानंद गौड़ा,देबोश्री चौधरी, संतोष गंगवार,संजय धोत्रे को इस्तीफा देने के लिए कहा गया है।

इन मंत्रियों के इस्तीफा दिलाने के पीछे आखिर क्या है वजह ?

कैबिनेट विस्तार (Modi Cabinet Resuffle) से ठीक पहले थावरचंद गहलोत को मंत्रिमंडल से बाहर निकाल दिया गया। थावरचंद गहलोत सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री के पद पर थे। इसके साथ ही उनके पास राज्यसभा में नेता सदन और बीजेपी पार्लियामेंट्री बोर्ड के सदस्य का भी मुख्य पद था। इनके इस्तीफे के पीछे कारण यह है कि उन्हें कर्नाटक का राज्यपाल बना दिया गया है।

यह भी पढ़े:  What’s new in market: सस्ते में शानदार कैमरे वाले स्मार्टफोन खरीदने का मौका, इतने सस्ते में 64MP कैमरे वाले धांसू फोन ।

इन मंत्रियों से माँगा गया है इस्तीफा

1. देबोश्री चौधरी पश्चिम बंगाल की लोकसभा सीट रायगंज से बीजेपी सांसद है। इन्हें भी इस्तीफा देने के लिए कहा गया है। देबोश्री चौधरी महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री है। सूत्रों के मुताबिक इन्हें पश्चिम बंगाल में अहम पद दिया जा सकता है।

2. रमेश पोखरियाल निशंक उत्तराखंड के हरिद्वार से सांसद हैं। निशंक को भी कैबिनेट विस्तार (Modi Cabinet Resuffle) से ठीक पहले इस्तीफा देने के लिए कहा गया है। रमेश पोखरियाल निशंक मानव संसाधन विकास मंत्री थे। इनके इस्तीफे का कारण उनका खराब स्वास्थ्य बताया जा रहा है।

3. सदानंद गौड़ा कर्नाटक के बेंगलुरु नार्थ से बीजेपी सांसद है। सदानंद गौड़ा रसायन एवं उर्वरक मंत्री थे और इन्हें भी इस्तीफा देने के लिए कहा गया है। खबरों के मुताबिक सदानंद गौड़ा कोरोना काल में दवाओं की कमी को लेकर मोदी सरकार की हुई फजीहत के वजह से इनको इस्तीफा देना पड़ रहा है।

यह भी पढ़े:  आईपीएल 2021 : Rishabh रहेंगे दिल्ली के कप्तान या Shreyas को मिलेगी कमान ? जानिए क्या है जवाब !

आलोचना के वजह से गयी मंत्री पद

4. संतोष गंगवार उत्तर प्रदेश के बरेली से सांसद है। संतोष गंगवार श्रम एवं रोजगार मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) के पद पर थे और इन्हें भी इस्तीफा देने का आदेश मिला है। इनके इस्तीफे के पीछे की वजह बताई जा रही है कि कोरोना काल के समय इनकी एक चिट्ठी वायरल हुई थी,जिसमे उन्होंने यूपी सरकार की आलोचना की थी। खबरों के मुताबिक इनकी जगह पर लखीमपुर खीरी से सांसद अजय मिश्र को मंत्री बनाया जा सकता है।

5. संजय धोत्रे महाराष्ट्र की अकोला लोकसभा सीट से सांसद है। ये शिक्षा के साथ ही साथ सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्रालय के राज्य मंत्री थे। इनके इस्तीफे के पीछे की वजह बताया जा रहा है कि इनके कामकाज से प्रधानमंत्री मोदी खुश नहीं थे। सूत्रों के मुताबिक इन्हें संगठन में कहीं भी एडजस्ट किया जा सकता है।

यह भी पढ़े:  Actor Dilip kumar : पेशावर का यूसुफ कैसे बना बॉलीवुड का ट्रेजेडी किंग? दिलीप कुमार से जुडी कुछ रोचक बाते !

डॉक्टर हर्षवर्धन का भी मंत्रालय बदलने पर विचार।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन कभी मंत्रालय बदला जा सकता है। मोदी सरकार कोरोना की दूसरी लहर आने के बाद जिस तरह से सवालों के घेरे में आई थी उसका खामियाजा अब डॉक्टर हर्षवर्धन को उठाना पड़ेगा। सूत्रों के मुताबिक मिली खबर के अनुसार उनका मंत्रालय बदला जा सकता है।

यह भी पढ़े:  Flipkart Amazon की बंपर सेल रोकेगी सरकार, जानिए क्या था नुकसान?

इस्तीफा देने वाले 11 मंत्रियों कि सूची

  1. डॉ. हर्षवर्धन (स्वास्थ्य मंत्री)
  2. रमेश पोखरियाल निशंक (शिक्षा मंत्री)
  3. देबोश्री चौधरी (महिला बाल विकास मंत्री)
  4. थावरचंद गहलोत (सामाजिक न्याय मंत्री)
  5. बाबुल सुप्रियो
  6. प्रताप सारंगी
  7. अश्विनी चौबे (स्वास्थ्य राज्य मंत्री)
  8. संतोष गंगवार (श्रम राज्य मंत्री)
  9. सदानंद गौड़ा (उर्वरक और रसायन मंत्री)
  10. संजय धोत्रे (शिक्षा राज्य मंत्री)
  11. रतन लाल कटारिया