निर्भय का सफल परीक्षण, चीन और पाकिस्तान हुए सतर्क : DRDO

DIFFENCE DRDO NEWS: भारत के रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन ( DRDO ) के द्वारा  सफलतापूर्वक क्रूज मिसाइल का परीक्षण सुबह 9:55AM ओडिशा के तट चांदीपुर  टेस्टिंग  फैसिलिटी में  किया गया है ।  जिसका नाम ‘ निर्भय ‘ है । और इसकी रेंज 1000 KM है जिससे  भारत की सेना  में और भी मजबूती आएगी । official के द्वारा यह बताया जा रहा है की परीक्षण के दौरान 100 km का सफर लगभग 15 मिनट में पूरा किया। जिसकी स्पीड .7 mach  से .9 mach के बीच थी। जो 300 kg का वॉर हेड ले जाने में सक्षम है ।

Nirbhay missile test
Nirbhay_Missile_Test

Read Also:LOK – SABHA में उम्मीद के मुताबिक काम नहीं हुआ, फिर अनिश्चित काल के लिए क्यों हुआ स्थगित ? 

DRDO ने रचा इतिहास

DRDO NEWS: अक्टूबर 2020 में असफल परीक्षण के बाद , ( DRDO ) ने यह शानदार सफल परीक्षण करके भारत के पडोशी देशो को चौंका दिया है । DRDO के सूत्रों के मुताबिक इसमें स्वदेशी इंजन का इस्तेमाल किया गया है ।

पूरी तरह स्वदेशी है निर्भय मिसाइल

निर्भय मिसाइल से मेक इन इंडिया को मजबूती मिलेगी । इससे पहले DRDO ने आकाश NG(New Generation  ) का भी सफलतापूर्वक परीक्षण किया है। भारत में 2017 में डोकलाम standoff चीन से होने के बाद ने भारत ने अपनी सुरक्षा में तेजी से बढ़ोतरी की है । भारत ने साल दर साल अपनी डिफेंस बजट में बढ़ोतरी की है। जिससे डिफेन्स मार्केट को बढ़ावा मिलेगा और हम दूसरें देश में निर्यात भी कर सकेंगे ।
nirbhay
Nirbhay  Cruise (drdo)

Read Also:Tech News: वोडाफोन-आइडिया लॉन्च किया नया प्लान?

क्या है क्रूज मिसाइल ?

क्रूज मिसाइल के कई प्रकार  होते है । (1) हाइपरसोनिक मिसाइल जिसकी स्पीड mach  5 यानि यह ध्वनि की 5 गुना तेजी गति कर सकता है। जैसे -ब्रह्मोस 2 (2) सुपरसोनिक मिसाइल जो mach  2 से 3 की स्पीड यानी यह ध्वनि की 2 से 3 गुना तेजी से गति कर सकता है । जैसे – ब्रम्होस 1 (3) सबसोनिक मिसाइल जिनकी स्पीड mach 1 यानी ध्वनि की स्पीड से काम या बराबर चले तो उसे सबसोनिक मिसाइल कहते है  जैसे निर्भय ।
Nirbhay Missile
Nirbhay Missile

Read Also:UTTAR PRADESH में कोरोना लॉकडाउन से जुडी जारी हुई नई दिशा निर्देश, जाने क्या – क्या हुआ है बदलाव ?

बाकी मिसाइल से अलग है निर्भय ?

मिसाइल को कई प्रकार से बांटा गया है ।  Air to Air missiles , Surface to Air missiles और  Surface to Surface missile , बैलेस्टिक मिसाइल जैसे पृथ्वी और क्रूज़ मिसाइल आदि कई प्रकार की मिसाइल होती है । जितनी क्रूज़ मिसाइल होती है वह शार्ट रेंज के तथा  उच्च सटीकता के  साथ लक्ष्य को भेद सकती है और  पेलोड की छमता सिमित तथा इनमे जेट इंजन लगे होते है । और बैलेस्टिक मिसाइल में रैकेट इंजन के सामान , लॉन्ग रेंज के साथ भारी पेलोड ले जाने की छमता रखता है । यह मुख्य रूप से वार हेड ले जाने के लिए बनाया गया है । जैसे पृथ्वी , धनुष तथा अग्नि ।

Read Also:क्या है Marburg virus ? मरीज की 8 दिन के भीतर हो जाती है मौत। इबोला और कोरोना से भी है खतरनाक। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *