SNEHA DUBEY कौन है जिसने UN में पाकिस्तान के पीएम IMRAN KHAN को दिया है करारा जवाब, स्नेहा दुबे ने पाक को क्या दिया जवाब जिससे इमरान हो गए बेचैन।

4
106
SNEHA DUBEY

भारत की बेटी (SNEHA DUBEY) ने पाकिस्तान के पीएम को करारा जवाब दिया है। पाकिस्तान के पीएम भारत के जवाब से परेशान हो गए है।अंतरराष्ट्रीय मंच पर हमेशा देखा गया है कि पाकिस्तान भारत को घेरने के पुरजोर कोशिश करता है। जितनी बार उसने भारत को अंतरराष्ट्रीय मंचों पर नीचा दिखाने की कोशिश की है उतनी बार पाकिस्तान का ही सर शर्म से झुका देखा गया है। हर बार भारत की ओर वह झूठे आरोप लगाकर दुनिया में भारत की साख को कम करने की कोशिश करने वाला पाकिस्तान एक बार फिर अपने मुंह की खायी है।

यह भी पढ़े: Drug Resistance Malerial New Strain : अफ्रीका में मिला घातक नया स्ट्रेन, कोई भी दवा इसपर असरदार नहीं, जाने इस नए स्ट्रेन से जुडी जरूरी बातें।

SNEHA DUBEY का दिया जवाब सुनने लायक है 

शुक्रवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा के दौरान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने संबोधन के दौरान एक बार फिर कश्मीर का राग अलापना शुरू किया। लेकिन इस बार जिस अंदाज में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को जवाब भारत की तरफ से मिला वह देखने लायक रहा।

SNEHA DUBEY

SNEHA DUBEY ने राइट तो रिप्लाई का इस्तेमाल करते हुए दिया जवाब

भारत की एक जूनियर महिला राजनयिक (SNEHA DUBEY) ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को जवाब दिया जिसकी काफी सराहना हो रही है। भारत की जिस जूनियर महिला राजनयिक ने पाकिस्तान के पीएम को करारा जवाब दिया है उसका नाम स्नेहा दुबे (SNEHA DUBEY) है। यूएन में भारत की प्रथम सचिव स्नेहा दुबे (SNEHA DUBEY) संयुक्त राष्ट्र महासभा में इमरान के भाषण पर राइट टू रिप्लाई का इस्तेमाल करते हुए करारा जवाब दिया था।

SNEHA DUBEY का इतिहास क्या है?

उनका पाकिस्तान के पीएम का दिया हुआ जवाब सुर्खियां बटोर रहा है और लोग इंटरनेट पर जाकर इस महिला अधिकारी के बारे में जानकारी जुटाना शुरू कर दिए हैं। हम कुछ ऐसी ही जानकारी SNEHA DUBEY के बारे में आपको दे रहे हैं। सबसे पहले जानते हैं कि स्नेहा दुबे कहां से हैं और कब उन्होंने पढ़ाई करके सिविल परीक्षा पास की। SNEHA DUBEY गोवा में पली-बढ़ी और बचपन के अधिकतर समय उनका गोवा में ही गुजरा है। स्नेहा ने पुणे के क्लासेस करने के बाद दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय से भूगोल में परास्नातक की पढ़ाई पूरी की। 2011 में स्नेहा दुबे (SNEHA DUBEY) ने पहले ही प्रयास में सिविल परीक्षा पास की।

यह भी पढ़े: Rajasthan Congress Political Drama : पंजाब के बाद अब राजस्थान की बारी, क्या राजस्थान में होने वाला है कोई बड़ा बदलाव ? राहुल गाँधी ने दिग्विजय सिंह कौन सा टास्क दिए है?

स्नेहा दुबे को भारतीय विदेश सेवा में शामिल होने का बड़ा शौक था लेकिन अंतरराष्ट्रीय मुद्दों में भी उनकी रुचि बेहद ज्यादा थी। अपनी रुचि को देखते हुए दिल्ली के जेएनयू से स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज में पढ़ाई पूरी की। इंटरनेशनल सर्विसेज के लिए चुने जाने के बाद पहली नियुक्ति में स्नेहा की विदेश मंत्रालय में हुई थी। फिर 2014 में उन्हें मेड्रिड में भारतीय दूतावास में नियुक्त कर दिया गया था। स्नेहा दुबे अपने परिवार की पहली ऐसी व्यक्ति हैं जिनकी सरकारी सेवा में नौकरी लगी थी।

इससे पहले भी कुछ महिला अधिकारीयों ने दिया है पाक को करारा जवाब

ये पहली बार नहीं की जब भारतीय किसी जूनियर महिला ने पाकिस्तान को करारा जवाब दिया है। इससे पहले भी एनम गंभीर और विदिशा मित्रा ने भी इस भूमिका का निर्माण कर चुके हैं। पाक भारत के साथ शांति चाहता है ऐसा इमरान खान ने कहा था। इमरान खान ने कहा कि दक्षिण एशिया में स्थाई शांति जम्मू कश्मीर विवाद के समाधान पर निर्भर करता है।

यह भी पढ़े: IPL 2021 Sunrisers Hyderabad vs Punjab Kings Today Match Playing 11: पंजाब का समीकरण बिगाड़ने उतरेगी हैदराबाद Match Preview

पाकिस्तान की तरफ से कहा गया की अनुकूल माहौल बनाने की जिम्मेदारी अब भारत पर बनी हुई है। लेकिन प्रधानमंत्री इमरान खान के जवाब में स्नेहा दुबे ने कहा कि पाक प्रधानमंत्री हमारे आंतरिक मामलों को लेकर वैश्विक मंच का दुरुपयोग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख भारत का अभिन्न अंग है और वह रहेगा।

अवैध कब्जे को खली करे पाकिस्तान – SNEHA DUBEY

स्नेहा दुबे ने कहा कि अभी पाकिस्तान के अवैध कब्जे में कुछ क्षेत्र हैं हम पाकिस्तान से अपने अवैध कब्जे वाले सभी क्षेत्रों को तुरंत खाली कराने का आह्वान करते हैं। SNEHA DUBEY यहीं नहीं रुकी उन्होंने आगे जवाब देते हुए कहा कि सदस्य देश इस बात से अवगत हैं कि पाकिस्तान में आतंकियों को पनाह देने की बात किसी से छुपी नहीं है। पाकिस्तान आतंकियों को पनाह देने, सहायता करने में अपना पूरा समर्थन देता है और उसकी नीति का इतिहास बताता है।

यह भी पढ़े: UP ELECTION 2022: बीजेपी के साथ 2 पार्टियों ने किया गठबंधन, विपक्षी पार्टियों के लिए हो सकती है बड़ी चुनौती, जाने किन पार्टियों ने किया है गठबंधन।