यूपी बोर्ड दसवीं कि परीक्षा हुई रद्द , कक्षा 12 वी के छात्रों को 10 सवालों में से देने होंगे सिर्फ …..

0
39

पिछले कई महीनों से सभी स्कूल कॉलेज बंद है ऐसे में सभी छात्रों कि पढ़ाई ऑनलाइन तरिके से हो रही है। कोरोना के बढ़ते मामले में सरकरों के लिए सबसे बड़ी सिरदर्दी है बच्चो कि परीक्षा को सही समय पर करवाना। ऐसे में सरकार इन परीक्षाओं को लेकर बेहद चिन्तित नजर आ रही है। यूपी बोर्ड के सभी छात्रों को अपनी परीक्षा को लेकर बड़ी दुविधा थी जिसको आज सरकार ने दूर कर दिया है।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद ने ने इसी महीने में सभी स्कूलो को कक्षा 9 वी कि फाइनल एग्जाम के अंकों को पोर्टल पर डालने का निर्देश दिया था जिसके लिए डेडलिने 24 मई कि तारीख दी गयी थी। सरकार ने बताया कि जिन बच्चों के दसवीं कि प्री बोर्ड परीक्षा नहीं हो पाई है उस स्थिति में कक्षा 9 वी के फाइनल अंक के आधार पर छात्रों को प्रोमोटे किया जाएगा।

कक्षा दसवीं कि परीक्षा को भी रद्द करने कि मांग उठ रही थी क्योकि सीबीएसई और बाकि अन्य बोर्ड ने अपनी दसवीं कि परीक्षा को रद्द कर दिया है। ऐसे में अब यूपी बोर्ड के छात्रों ने भी इस परीक्षा को रद्द करने कि अपील कि थी जिसको सरकार ने सुन लिया है और रद्द करने का फैसला लिया है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि दसवीं के सभी छात्रों को बिना परीक्षा के कक्षा 11 में प्रमोट कर दिया जाएगा।

कक्षा बारहवीं के लिए शिक्षा मंत्री ने बताया कि इनके एग्जाम आने वाले जुलाई माह के मध्य में यानि तीसरे हफ्ते में कराये जा सकते है। उन्होंने कहा कि परीक्षा इस बार नए पैटर्न से होगा। इस बार कि परीक्षा तीन घंटे के बजाय सिर्फ डेढ़ घंटे कि होगी और छात्रों को 10 सवालों में से सिर्फ तीन सवालों के उत्तर देने होंगे। बहुत जल्दी ही हम परीक्षा के लिए डेटशीट जारी कर देंगे।