कौन है वो ‘राजा’ जिसके पास पैसा पहुंचाती थी IAS पूजा सिंघल |

0
15

किसको पैसा पहुंचाती थी IAS पूजा सिंघल ?

झारखंड में जेएमएम कांग्रेस और आरजेडी गठबंधन की सरकार 2019 के विधानसभा चुनाव में रघुवर दास सत्ता से बेदखल हुए और मुख्य मंत्री ताज़ हेमंत सुरेंद्र के सर पर सजा। तब से झारखंड में बीजेपी विपक्ष की भूमिका निभा रही है और सत्ता पक्ष को हर मुद्दे पर घेरने का काम कर रही है। नया मामला IAS अफसर पूजा सिंघल से जुड़ा हुआ है । गोड्डा क़े बीजेपी सांसद नें श्रीकांत दुबे ने आईएएस अफसर पूजा सिंघल की गिरफ्तारी के बाद CM हेमंत सुरेंद्र को आड़े हाथों लिया है और लगातार ट्विटर पर कटाक्ष कर रहे है।

बीजेपी सांसद ने ट्विटर पर लगातार एक के बाद एक ट्वीट कर कई खुलासे भी किए इसी क्रम में शुक्रवार को निशीकांत दुबे ने ट्वीट कर लिखा- पूजा सिंघल व CA सुमन कुमार के मोबाइल एवं पूछता से किसी झारखंड “राजा” के लिए पैसा पहुंचाने पैसा कलेक्ट करने उसके लिए हवाला करने का जिक्र आ रहा है। राजशाही खत्म होने के बाद यह नया राजा कौन है? राजा ने तो झारखंड का सब कुछ नीलामी पर डाल दिया है। इसके बाद निशिकांत दुबे ने दूसरे ट्वीट में लिखा- मंगलवार को माननीय उच्च न्यायालय झारखंड का रुख UPA का उम्मीदवार तय करेगा यदि उच्च न्यायालय कुछ राहत देगा दिल्ली के वकील साहब जायेंगे यदि राहत नहीं मिली तों मैनेज करने वाले जायेंगे।

पूजा सिंघल

BJP सांसद ने IAS पूजा सिंघल के खोले कई राज !

निशिकांत दुबे ने एक और ट्वीट में कहा- ED नें अपने रिमांड में सुमन कुमार के बयान के अनुसार यह तो कहा कि कुछ पैसा पूजा सिंघल क़े है, बाकी वैसे राजा की तो नहीं जो जो जिला खनन पदाधिकारियों ने भेजा ? प्रेम भैया लंदन भागने की फिराक में और चौबे भैया दिल्ली में मैनेज करना है। इस ट्वीट के माध्यम से उन्होंने मुख्य मंत्री हेमंत सुरेंद्र के करीबियों पर सीधा कटाक्ष किया है।

निशिकांत दुबे ने यह भी जानकारी दी, कि CM के छोटे भाई बसंत सुरेंद्र पर चुनाव आयोग ने चुनाव में गलत जानकारी देने के कारण आरपी एक्ट 125 A के तहत केस दर्ज करने की इजाजत दे दी है। इसके बाद एक और ट्वीट में बीजेपी सांसद ने लिखा- आज की मुलाकात बस इतनी! झारखंड के गैंग ऑफ़ बसेपुर पर थोड़ा इंतजार! चुनाव आयोग ने एक विधायक पर किस करने का इजाजत दिया, इंद्र प्रस्थ में एक नए राजा क़े नाम पर माथा पच्ची। तों इस तरह से ED द्वारा आईएएस अफसर पूजा सिंघल की गिरफ़्तारी के बाद झारखंड की राजनीति गरमाई हुई है और बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे लगातार ट्विटर क़े हमला कर रहे हैं।