शुक्राणु बढ़ाने के लिए क्या खाएं और किससे बचें, सब जानिए [Fitness of sperms]

0
63

आप पूरी तरह स्वस्थ हैं पुरुष हैं और समझते हैं कि आपका शुक्राणु हमेशा विशेषण की स्थिति में होगा तो आप भूल कर रहे है। क्योंकि शुक्राणु की क्वालिटी हमेशा ऊपर नीचे होती रहती है और यह सिर्फ जीवन के दौरान नहीं होता हालांकि ज्यादातर मर्द आमतौर पर जीवन भर शुक्राणु का उत्पादन करते हैं लेकिन अत्यंत गतिशील शुक्राणुओं की तादाद धीरे-धीरे घटती जाती है। साल दर साल हर साल 0.7 फ़ीसदी की दर से साल का अलग-अलग समय भी शुक्राणुओं के उत्पादन को प्रभावित करता है इंसानों में सबसे ज्यादा शुक्राणु वसंत में और सबसे कम गर्मियों में पाए जाते हैं और यही रुझान पशुओं की दुनिया में भी दिखती है। दिलचस्प बात यह है कि जिन लोगों की जांच की गई उनके साल भर में शुक्राणुओं की संख्या का उतार-चढ़ाव इतना ज्यादा नहीं था कि उनकी प्रजनन क्षमता प्रभावित हो। संतुलित आहार शुक्राणुओं की क्वालिटी के लिए बहुत महत्वपूर्ण है जींक, सेलेनियम विटामिन सी और e फोलिक एसिड और ओमेगा-3 वसा शुक्राणुओं की गतिशीलता को बढ़ाते हैं यह सारे मटेरियल एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करते हैं। वें एपीढिद्यमिस में जलन और सूजन को कम करते हैं यहीं पर शुक्राणुओं की भागदौड़ शुरू होती है।

अपने स्पर्म कों ऐसे रखें फिट

शुक्राणुओं के लिए सबसे अच्छा आहार है समुद्री मछलियां साबुत अनाज से बने उत्पाद और फल तथा सब्जियां। शुक्राणुओं की क्वालिटी अच्छी हो इसके लिए खेल कूद और व्यायाम भी बहुत फायदेमंद होता है। क्योंकि क्योंकि इससे कैस्टरॉन का स्तर बढ़ता है और उसके साथ शुक्राणुओं उत्पादन दिलचस्प बात यह है कि बहुत ज्यादा खेलकूद करने वाले खिलाड़ियों में शुक्राणुओं का उत्पादन कम होता जाता है सबसे नुकसान देह होता है मसल बनाने के लिए अवैध दवाओं का इस्तेमाल शुक्राणुओं पर तापमान का भी असर होता है उन्हें ठंडा पसंद है अंडकोष शरीर के बाहर होते हैं इसलिए वे शरीर के अंदरूनी हिस्से के मुकाबले 3 डिग्री संडे होते हैं कार की हीटेड सीटों से लोन में लैपटॉप से गर्म पानी के स्नान यस सोना जाने से शुक्राणुओं को नुकसान का डर है लेकिन सबसे ज्यादा सोना में जाने वाली फिनलैंड की आबादी लुफ्त तो नहीं हो रही है। पैंट की जेब में सेल फोन शुक्राणुओं के लिए नुकसानदेह हो सकता है लेकिन इसकी भी अब तक पुष्टि नहीं हुई है लेकिन इस बात की पुष्टि हो चुकी है कि संभोग शुक्राणुओं के लिए अच्छा है नियमित वीर्यपात शुक्राणुओं की गुणवत्ता बढ़ाता है।