Cyclone Asani: चक्रवात के चलते आंध्र प्रदेश व ओडिशा में तेज़ हवाओ के साथ भारी बारिश।

0
211
High waves of Cyclone Asani, increasing sea rain with strong winds at many places
High waves of Cyclone Asani, increasing sea rain with strong winds at many places

Cyclone Asani– उड़ीसा,आंध्र प्रदेश,पश्चिम बंगाल के इलाकों में तेज हवा के साथ-साथ भारी बारिश होनी शुरू हो गई है। वही और कई राज्यों के मौसम विभाग और आपदा प्रबंधन की टीमें भी अलर्ट मोड पर रखी है कि तूफान कहीं अपना रास्ता या अपने आप को और ज्यादा मजबूती ना ले ले। लेकिन आसानी तूफान जैसे उड़ीसा के गंजाम जिले में जो हुआ उसे देखकर आप की भी रूह कांप जाएगी। चक्रवाती तूफान आसानी (Cyclone Asani) बंगाल की खाड़ी से 13 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से आगे बढ़ना शुरू हुआ और जैसे-जैसे टारगेट के करीब पहुंच रहा है। आसानी की रफ्तार बढ़ती जा रही है। जिस वजह से उड़ीसा, पं बंगाल व आंध्र प्रदेश में आसानी का असर दिखना भी शुरू हो गया है। आसानी तूफान की वजह से पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर सिस्टम के चारों ओर 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आंधियां चल रही हैं। और मूसलाधार बारिश हो रही है।Cyclone Asani: चक्रवात के चलते आंध्र प्रदेश व ओडिशा में तेज़ हवाओ के साथ भारी बारिश।

Cyclone Asani- 11 मछुआरों को कोस्टगार्ड ने हेलीकाप्टर के जरिए रेस्क्यू

चक्रवात आसानी(Cyclone Asani) की वजह से समंदर में ऊंची-ऊंची लहरें उठ रही हैं। खतरे को देखते हुए मछली पकड़ने गए मछुआरे तट पर वापस लौट रहे हैं लेकिन मंगलवार जब उड़ीसा के गंजाम जिले में 6 नाव के जरिए 60 मछुआरे वापस लौट रहे थे इसी दौरान बड़ा हादसा हो गया। ऊंची ऊंची लहरों के बीच फंसी एक नाव पलट गई जिसके बाद अफरा-तफरी मच गई।

हालांकि सभी मछुआरों को तैरना आता था और नाव तट के बेहद करीब आकर पलटी थी। जिसकी वजह से जान माल का कोई नुकसान नहीं हुआ। वही बाकी मछुआरे जो समंदर में फंस गए थे उनका भी रेस्क्यू कर लिया गया है। तूफ़ान में फंसे 11 मछुआरों को कोस्ट गार्ड ने हेलीकाप्टर के जरिए रेस्क्यू किया। तूफान की वजह से सोमवार से ही मौसम विभाग की तरफ से लगातार मछुआरों को समंदर से वापस लौटने के लिए चेतावनी जारी दी जा रही थी। और मछुआरों को 12 मई तक समंदर में नहीं जाने की सलाह दी गई लेकिन बावजूद इसके कुछ मछुआरे मछली पकड़ने के लिए समंदर में चले गए इसी का नतीजा था इस नाव का पलटना। गनीमत रही कि किसी को कुछ नहीं हुआ। Read also- Major trailer preview: मेजर ट्रेलर की असली कहानी यें है…?
आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में आसानी तूफान की वजह से तेज बारिश हो रही है और कई जगहों पर जलभराव के हालात पैदा हो गए हैं कोलकाता के कई इलाकों में भी जलभराव हो गया है। कोलकाता में भी जोरदार बारिश और तूफानी हवा की वजह से लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक चक्रवात आसानी की वजह से आंध्र प्रदेश में 11 मई को भी जोरदार बारिश हो सकती है। आईएमडी (IMD) के मुताबिक आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम, विजयनगरम, विशाखापत्तनम, पूर्वी गोदावरी, पश्चिमी गोदावरी, कृष्णा और गुंटूर जिले में बुधवार सुबह 8:30 बजे तक 50 से 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाओं के साथ भारी बारिश होने की संभावना है। आसानी का असर अंडमान निकोबार द्वीप समूह में भी दिखने लगा है। यहां 75 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं। मौसम विभाग का कहना है बारिश और हवा की रफ्तार और तेज हो सकती है। आसानी तूफान की वजह से बंगाल से लेकर उड़ीसा में तबाही शुरू हो गई है।लेकिन अच्छी बात यह है कि यह धीरे-धीरे कमजोर पड़ने लगा है। मौसम विभाग के मुताबिक अगले 24 घंटे में यह चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा। धीरे-धीरे इस तूफान के उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ते हुए उत्तरी आंध्र प्रदेश तट से पश्चिमी बंगाल की खाड़ी तक पहुंचने की संभावना है।