Taliban Today News : अफगानिस्तान के लिए आवाज उठा रहीं 1 हॉलीवुड की इस एक्ट्रेस को तालिबान ने दी धमकी

Taliban Today News : अफगानिस्तान के लिए आवाज उठा रहीं हॉलीवुड की इस एक्ट्रेस को तालिबान ने दी धमकी

मैं अकेले चला गलिबे मंजिल मगर

लोग मिलते गए कारवाँ बनता गया।।

Taliban Today News : यह वाक्य अभिनेत्री अजिता घनिजादा पर एकदम फिट बैठता हैं।

Taliban Today News : अफगानिस्तान के लिए आवाज उठा रहीं हॉलीवुड की इस एक्ट्रेस को तालिबान ने दी धमकी
Taliban Today News : अफगानिस्तान के लिए आवाज उठा रहीं हॉलीवुड की इस एक्ट्रेस को तालिबान ने दी धमकी

Taliban Today News : अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद वहां के हालात काफी खराब हो गए हैं। अफगानिस्तान के हालात पर दुनिया भर के देश चिंता व्यक्त कर रहे हैं। बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक तमाम इंटरनेशनल एक्टर्स इस चिंता को जाहिर कर रहे हैं. अब अफगानिस्तान मूल की हॉलीवुड अभिनेत्री अजिता घनीजादा ने अफगानिस्तान के हालात पर चिंता व्यक्त की है।तालिबान वहाँ की महिलाओं और बच्चों के ऊपर अत्याचार कर रहा हैं।जीवन की मूलभूत आवश्यकताओं पर जैसे पानी ,बिजली आदि पर प्रतिबंध लगाने की धमकी दे रहा हैं।तालिबान को यह फूटी आंख भी नही सुहा रहा है कि कोई नचनियां मुझे सिखाएगी की क्या उचित है ?क्या नही?

जिसके परिणामस्वरूप तालिबान ने उन्हें धमकाना शुरू कर दिया है। इस बात की जानकारी उन्होंने खुद अपने सोशल मीडिया पोस्ट पर शेयर की है। उन्होंने अफगान संस्कृति और कला से जुड़े कई पुराने वीडियो शेयर किए हैं। इसमें लोग खुश और जीवन का आनंद लेते नजर आ रहे हैं।

Read Also :- तालिबान का खौफ : अफगानिस्तान की आखिरी उम्मीद खत्म, तालिबान को चैलेंज देने वाली 1 गवर्नर को किया कैद,

Taliban Today News

एक वीडियो को शेयर करते हुए अजिता घनीजादा ने लिखा, ‘हर मिनट चीजें बदल रही हैं। मुझे तालिबान से संदेश मिल रहे हैं, “चिंता मत करो बेटी, प्रचार करना बंद करो।” वह आगे लिखती हैं, “रातों रात कई अफगान आयोजकों को देखना और उनके साथ काम करना जो दोस्तों और परिवार की रक्षा करने में मदद कर रहे है।लोग बेबस है ।क्योंकि कोई भी व्यक्ति यदि उनके विरोध में जायेगा तो उसका गला रेत दिया जाएगा।ऐसे में कोई कैसे विरोध कर सकता है।

यह कैसा अनोखा देश है जो महिलाओं को अपने अधिकारों से वंचित रखने की कोशिश कर रहा है।क्रूरता की एक सीमा होती है।यदि यह सीमा को पार कर दे तो यह एक तरह से अनाचार हैं।अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता हर व्यक्ति को है।उसके अभिव्यक्ति की आजादी पर तालिबान पहरा नही लगा सकता।जीवन का यही दस्तूर हैं।अराजकता से सिर्फ मर्जी चलती है शासन नही।शासन तो देश के व्यक्तियों से चलता हैं।

जिसमे सहमति और असहमति अनिवार्य हैं।तालिबान बंदूक के बल पर अफगानिस्तान में तो सत्ता तो हथिया लिया हैं।लेकिन उस सत्ता को कैसे उपभोग करना हैं।उसका ज्ञान भी होना अनिवार्य हैं।सत्ता में महिला और पुरुष का उत्तरदायित्व समान रहना चाहिए ।इसका कारण है कि प्रत्येक निर्णय में आम जन की इच्छा होना अनिवार्य हैं।

Taliban Today News

अजिता ने आगे लिखा, “अफगानिस्तान में गैसलाइटिंग की निरंतरता को रोकने में मदद करने के लिए बिना रुके काम कर रहे हैं. जैसे कि हम युद्ध के राक्षस हैं, जो देशों पर आक्रमण करते हैं, न कि ऐसे लोग जिन्होंने 40 साल केवल दूसरों से लड़ते हुए बिताए हैं.” वह आगे लिखती हैं, ‘वह धीरे-धीरे एक्टिविस्ट्स को अफगान के लिए आवाज उठाते हुए देख रही हैं.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *