US प्रेसिडेंट मुसलमानों को लेकर क्यों है चिंतित ? जाने क्या कहा |

ईद उल फितर के मौके पर अमेरिकी राष्ट्रपति भवन वाइट हाउस में भी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस मौके पर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन नें सबको ईद की मुबारकबाद दी और आपसी भाई-चारे का पैगाम भी दिया। इस सिलसिले में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति जो बाइडेन नें कहा कि मुस्लिम समाज अमेरिका को और मजबूत बनाने में अपना बड़ा योगदान दे रहा है। समाज में उनके महत्व को समझते हुए उन्होंने अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता के मकसद से दूतावास प्रभारी की पोस्ट पर अमेरिका में पहली बार किसी मुस्लिम को नियुक्त किए जाने की बात भी कही। इस दौरान उन्होंने दुनिया भर के मुसलमानों को लेकर चिंता भी जाहिर की उन्होंने कहा कि यें वो दौर जब दुनिया के अलग-अलग देशों में मुस्लिम समाज के लोगों को कई तरह की चुनौतियों और कई तरह की बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

US President नें Eid पर क्यों कहा मुसलमान बन रहे हैं निशाना ?

देशों का नाम लिए बिना अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन नें कहा कि मुस्लिम कई देशों में हिंसा का शिकार हो रहे हैं। जबकि उनके धार्मिक अधिकारों को भी लगातार प्रभावित करने की कोशिशें की जा रही है जो कि नहीं किया जाना चाहिए। ईद के मौके पर उन्होंने इस तरह की गतिविधियों की भी खूब निंदा की उन्होंने कहा कि जिन देशों में इस तरह की गतिविधियां चल रही है उन्हें उसे फौरन बंद कर देना चाहिए। अमेरिकी राष्ट्रपति भवन में ईद क़े मौके पर आयोजित किए गए कार्यक्रम में कई प्रमुख हस्तियां शामिल हुई जिनमें से एक पाकिस्तानी संगीत कार अरोज आफताबी भी थे। उन्होंने इस मौके पर रोहिंग्या मुसलमानों के हालात का जिक्र करते हुए कहा कि उन्हें जानबूझकर परेशान किया जा रहा है। ईद के मौके पर इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति जो बाइडेन नें कहां कि दुनिया भर में मुसलमानों को टारगेट किया जा रहा है जिसकी अमेरिका घोर निंदा करता है।