Russia victory Day: Vladimir Putin नें कहा- ‘1945 की तरह, फिर हमारी जीत होंगी… |

रूस की ओर से यूक्रेन के खिलाफ जंग छेड़े अब करीब ढाई महीने से भी ज्यादा का समय हो गया है। एक तरफ जहां रूस ने यूक्रेन के लगभग सभी शहरों को तबाह कर दिया है वहीं दूसरी तरफ जारी युद्ध के बीच रूस में विजय दिवस की तैयारियां तेज हो गई हैं। दरअसल हर साल रूस द्वितीय विश्व युद्ध में नारी जर्मनी की हार का जश्न मनाता है इस खास अवसर पर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन नें 15 देशों को बधाई संदेश भेजा है। इसमें यूक्रेन, अजरबैजान, आर्मेनिया, बेलारूस, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, मोल्दोवा, ताजिकिस्तान, तुर्कमेनिस्तान, उजबेकिस्तान, अबकाज़िया, दक्षिण ओसेशिया, डीपीआर, एलपीआर और जॉर्जिया शामिल हैं। संदेश में लिखा है कि 1945 की तरह जीत हमारी होगी। संदेश में आगे व्लादिमीर पुतिन नें अपने सेना की तारीख करते हुए कहा है कि अपने पूर्वजों की तरह ही हमारे सैनिक मातृ-भूमि को नाजी से मुक्त करने के लिए लड़ रहे हैं। आज हमारा कर्तव्य है नाजीवाद कों रोकना जिससे विभिन्न देशों के लोगों को बहुत पीड़ा हुई।

राष्ट्रपति पुतिन ने युद्ध को लेकर कर दिया बड़ा ऐलान !

व्लादिमीर पुतिन नें कहा कि मुझे उम्मीद है कि नई पीढ़ियां अपने पिता और दादा की स्मृति के योग्य हो सकती है। व्लादिमीर पुतिन नें आगे लिखा दुर्भाग्य आज नाजीवाद एक बार फिर अपना सिर उठा रहा है हमारा कर्तव्य लोगों के वैचारिक उत्तरा अधिकारियों को रोंकना है जो द्वितीय विश्व युद्ध में हार गए थे। उन्होंने यें भी कहा है यूक्रेन के सभी निवासियों के शांति-पूर्ण और न्याय-पूर्ण भविष्य की कामना करते हैं। बता दें कि विजय दिवस रूस में बहुत ही हर्षोल्लास के साथ और उत्साह के साथ मनाया जाता है। द्वितीय विश्व युद्ध में करीब 2.7 करोड़ सोवियत नागरिक मारे गए थे, रूस के लोग इस लड़ाई को (World War-II) क़े रूप में याद करते हैं। हर साल की तरह इस साल भी विक्ट्री परेड का आयोजन का अपना ही महत्व है इस बार भी इस खास मौके को मनाने की तैयारी है। पूर्व सैनिकों का समूह इस मार्को पर पुष्पांजलि अर्पित कर रहे है।