𝐈𝐏𝐋 2022: मेगा ऑक्सन की तारीखों पर सस्पेंस हुआ खत्म, इस दिन होगी खिलाड़ियों की नीलामी?

𝐈𝐏𝐋 2022: मेगा ऑक्सन की तारीखों पर सस्पेंस हुआ खत्म, इस दिन होगी खिलाड़ियों की नीलामी?

इंडियन प्रीमियर लीग के नए सीजन को लेकर सभी लोग एक्साइटेड है। आईपीएल 2022 सें लीग की टीमे 8 सें बढ़कर 10 हो जायेगी, 2 नई टिमों की एंट्री होने वाली है। साथ ही साथ बड़े स्तर पर खिलाडियों की नीलामी होगी, बिल्कुल सही सुना आप नें मेगा अक्शन होगा। लेकिन सवाल सबका ये है. कि मेगा ऑक्शन आखिर कब होने वाला है. इसकी डेट्स क्या है. लगातार मेगा ऑक्शन 2022 की डेट में डिले हो रहा है। लेकिन इस रिपोर्ट में बताने वाले हैं क्या होने वाली है मेगा ऑक्शन की डेट। बीसीसीआई इंडियन प्रीमियर लीग की मेघा नीलामी का आयोजन 7 और 8 फरवरी क़ो बेंगलोर में करने वाला है. बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी नें इस बात की जानकारी दी है। साथ ही आपको बता दें कि आईपीएल की आखिरी मेगा नीलामी भी हो सकती है. क्योंकि अधिकांश मूल IPL टीमें अब इसे बंद कराना चाहती है। आईपीएल 2022 मेगा ऑक्शन क़ो लेकर बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी के हवाले से यह बताया गया है, की इंडियन प्रीमियर लीग यानी कि आईपीएल के मेगा ऑक्शन 7 और 8 फरवरी को बेंगलुरु में होगा। यहां आईपीएल की आखिरी मेगा ऑक्शन नीलामी हो सकती है, क्योंकि ज्यादातर आईपीएल टीमें अब ईसे बंद कर आना चाहती है।

𝐈𝐏𝐋 2022: मेगा ऑक्सन की तारीखों पर सस्पेंस हुआ खत्म, इस दिन होगी खिलाड़ियों की नीलामी?

12-13 फरवरी को होगी IPL 2022 की नीलामी?

बोर्ड के वरिष्ठ अधिकारी ने अपने बयान में कहा कोरोना महामारी के कारण स्थिति नहीं खराब होने की दशा में आईपीएल 2022 की नीलामी भारत में होगी। दो दिवसीय नीलामी 12 और 13 फरवरी को बेंगलुरु में होगी जिसके लिए तेजी से तैयारियां चल रही है। रिपोर्ट के मुताबिक मेगा ऑक्शन नीलामी यूएई में होगी लेकिन बीसीसीआई की फिलहाल ऐसी कोई योजना नहीं है। कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वेरिएंट बढ़ने की दशा में विदेश यात्रा को लेकर प्रतिबंध हो सकते हैं, जिसके कारण भारत में इसे कराना आसान होगा। इस साल आईपीएल में 10 टीमें होंगी क्योंकि अहमदाबाद और लखनऊ दो टीम जुड़ रही है दोनों टीमें के पास ड्राफ्ट में सें चुने 3 खिलाडियों का ऐलान करने के लिए क्रिसमस तक का समय है। बीसीआई उन्हें अतिरिक्त समय दे सकता है. क्योंकि सीवीसी को अभी मंजूरी नहीं मिली है गौरतलब है ज्यादातर टीमों का मानना है. हर 3 साल में नीलामी होने पर टीम कॉन्बिनेशन बिगड़ जाता है। इसीलिए अधिक तर टीमों का मानना है. कि अब यह नीलामी बंद कर दी जानी चाहिये