Microsoft in Hyderabad : हैदराबाद में माइक्रोसॉफ्ट बनाने जा रहा है देश का सबसे बड़ा डेटा सेंटर।

0
11
Microsoft in Hyderabad

Microsoft in Hyderabad

Microsoft in Hyderabad : हाल ही में माइक्रोसॉफ्ट ने एक इवेंट ऑर्गनाइज किया। इवेंट में कंपनी ने यह अनाउंसमेंट की कि हैदराबाद में भारत का सबसे बड़ा डेटा सेंटर बनने जा रहा है। यह भारतीय रीजन का सबसे बड़ा डेटा सेंटर होगा। माइक्रोसॉफ्ट के इस इवेंट में इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी और राज्य के यूनियन मिनिस्टर राजीव चंद्रशेखर मौजूद थे। कंपनी ने बताया कि इस सेंटर में क्लाउड सर्विसेज, इंटरनेट ऑफ थिंक्स, गेमिंग और सिक्योरिटी जैसी कई चीज़ों पर काम किया जाएगा।

Microsoft in Hyderabad

Microsoft in Hyderabad –  2025 तक हो सकेगा सेंटर तैयार।

माइक्रोसॉफ्ट अपने नए डेटा सेंटर को 54एकड़ यानी 2लाख 18हज़ार स्क्वायर फीट में बनाया जाएगा। इसे तैयार करने में कितना खर्च होगा यह कंपनी ने अभी स्पष्ट तौर पर बताया नहीं है। कंपनी ने बताया कि कोरोना के दौरान डेटा सेंटर की जरूरत महसूस हुई है। इस वजह से सेंटर बनाने का बजट तय नहीं किया है, इसमें लगातार निवेश होता रहेगा। कंपनी ने साफ तौर पर बताया है कि इसे हैदराबाद रीजन में ही तैयार किया जाएगा। डेटा सेंटर 2025 तक होगा तैयार।

यह भी पढ़े : UP Exit Poll 2022: यूपी में किसकी बन रही सरकार जानिए किसे कितनी सीटें?

Microsoft in Hyderabad माइक्रोसॉफ्ट के 60 से ज़्यादा डेटा सेंटर।

इवेंट के दौरान माइक्रोसॉफ्ट इंडिया के प्रेसिडेंट अनंत माहेश्वरी ने बताया कि रीजन में 60से ज़्यादा माइक्रोसॉफ्ट के डेटा सेंटर हैं। कंपनी ने 2015 में भारत में तीन डेटा सेंटर शुरू किए थे, जिसके बाद इसकी संख्या में इजाफा हो रहा है। अभी तक माइक्रोसॉफ्ट के डेटा सेंटर दिल्ली/NCR, पुणे, बेंगलुरु, कोलकाता, मुंबई, चेन्नई, अहमदाबाद में हैं और अब सबसे बड़ा डेटा सेंटर हैदराबाद में बनने जा रहा है।

यह भी पढ़े : Up election 2022 Phase 7 voting: 54 सीटों पर मतदान संपन्न, जाने अपडेट?

Microsoft in Hyderabad क्या है इंडिया लीड डिजिटल?

अनंत माहेश्वरी ने इंडिया लीड डिजिटल के तीनों वर्ड को तीन अलग-अलग कॉम्बिनेशन के साथ एक्सप्लेन किया। उन्होंने बताया कि कैसे भारत डिजिटलाइजेशन की तरफ तेज़ी से आगे बढ़ रहा है।
* इंडिया लीडिंग डिजिटल – माहेश्वरी ने बताया कि देश में 624मिलियन इंटरनेट यूजर्स हैं, जिसमें 448मिलियन सोशल मीडिया यूजर्स हैं और 150मिलियन ऑनलाइन कंज्यूमर्स हैं। भारत में दुनिया का सबसे बड़ा डिजिटल पेमेंट सिस्टम है और सबसे बड़ा डिजिटल आइडेंटिटी ईकोसिस्टम है।
* डिजिटल लीडिंग इंडिया – भारत में 194बिलियन डॉलर का आईटी इंडस्ट्रीज हैं। 12बिलियन ऐप्स डाउनलोड हुए हैं। भारत दुनिया जा तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप ईकोसिस्टम हैं। यूनिकॉर्न ईकोसिस्टम में तेज़ी से ग्रोथ हो रही है। भारत AI में लीडर बन चुका है।
* लीडिंग डिजिटल इंडिया – कंपनी ने बताया कि 2030 तक 800बिलियन डॉलर से ज़्यादा का कंज्यूमर डिजिटल ईकोसिस्टम होगा। 2025 तक GDP में 500बिलियन का योगदान डेटा और AI का रहेगा। भारत में 5.2मिलियन प्रो डेवलपर्स हैं। डेवलपर्स कम्युनिटी के लिए भारत तीसरा बड़ा देश है।

यह भी पढ़े : रूस में पुतिन के खिलाफ प्रदर्शन सैनिकों की मौत पर किया बड़ा ऐलान?

Microsoft in Hyderabad 3.40 लाख कंज्यूमर ऑर्गनाइजेशन।

इवेंट के दौरान कंपनी ने बताया कि देशभर में उसकी 3.40लाख कंज्यूमर ऑर्गनाइजेशन हैं। माइक्रोसॉफ्ट 14हज़ार पार्टनर कंपनीज के साथ काम करती है। माइक्रोसॉफ्ट के पास देशभर में 18हज़ार कर्मचारी हैं। वहीं, देशभर में 4.46लाख से ज़्यादा कर्मचारी क्लाउड सर्टिफाइड हैं।

लेखक : कशिश श्रीवास्तव