TATA IPL 2022 : 14 साल बाद CSK ने बदला कप्तान, MS Dhoni के कप्तानी छोड़ने के पीछे की 5 मुख्य वजह।

0
2

TATA IPL 2022 के शुरू होने में महज 2 दिन का समय बाकी है। TATA IPL 2022 का पहला मैच चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच 26 मार्च को खेला जाना है। इस मैच के शुरू होने से ठीक 2 दिन पहले चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ने कप्तानी छोड़ने का फैसला किया है। धोनी (MS Dhoni) के इस फैसले से चेन्नई के फैंस हैरान हो गए हैं। मगर सवाल यह उठता है कि आईपीएल के शुरू होने से पहले महेंद्र सिंह धोनी ने कप्तानी छोड़ने का फैसला क्यों किया है?

यह भी पढ़े: Meerut : डीन बनने की चाहत में प्रोफेसर Aarti Bhatele ने वेटरनरी कॉलेज के डीन पर जानलेवा हमले की रची साजिश।

IPL 2022 क्या MS Dhoni का होगा आखिरी सीजन ?

दैनिक भास्कर को इंटरव्यू देते हुए सीएसके के ऑफिशियल ने जानकारी देते हुए बताया है कि यह आईपीएल सीजन धोनी (MS Dhoni) का आखरी हो सकता है। सीएसके के एक ऑफिशियल ने इस बड़े फैसले के पीछे की वजह को बताते हुए कहा कि आईपीएल मैनेजमेंट को इस फैसले से कोई एतराज नहीं लेकिन वे चाहते हैं कि धोनी अपने रहते ही एक बेहतरीन कप्तान तैयार कर दे।

MS Dhoni के कप्तानी छोड़ने की 5 मुख्य वजह

आईपीएल में रिटेंशन के दौरान ही इस बात पर कुछ हद तक मुहर लग चुकी थी कि बहुत जल्द चेन्नई में कप्तान बदल दिया जाएगा। इसके पीछे की मुख्य वजह यह थी कि जडेजा को 16 करोड़ में सीएसके ने रिटेन किया, जबकि महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) को सिर्फ 12 करोड़ में ही रिटेन किया गया था।

1. भास्कर की एक रिपोर्ट के मुताबिक महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ने खुद जडेजा को कप्तान बनाने का प्रपोजल रखा और इसको बाद में टीम मैनेजमेंट के द्वारा मंजूर कर लिया गया। जडेजा को कप्तान बनाने के पीछे की सबसे बड़ी वजह है कि उनका ऑलराउंडर होना तथा पिछले 2 साल से उनकी परफॉर्मेंस में बेहतरीन निखार होना माना जा रहा है।

2. TATA IPL 2022 में 10 टीमें खेल रही है। इन सभी टीमों में देखा जाए तो किसी भी कप्तान की उम्र 37 साल से ज्यादा नहीं है, जबकि महेंद्र सिंह धोनी की उम्र 40 साल हो चुकी है, जो आईपीएल के लिहाज से काफी ज्यादा है। आईपीएल की 10 टीमों पर नजर डालें तो 5 टीमों के कप्तान की उम्र लगभग 30 साल के आसपास है, जबकि 4 की उम्र 35 और सिर्फ डू प्लेसिस जो आरसीबी के कप्तान बने हैं उनकी उम्र 35 से ज्यादा है। ऐसे में चेन्नई ने भी युवा कप्तान बनाने की तरफ सोच दिखाई और 33 साल के जडेजा को चेन्नई का कप्तान बना दिया।

यह भी पढ़े: Pune Rape Case: पुणे में नाबालिग लड़की से पिता और भाई ने किया रेप, दादा और एक रिश्तेदार भी शामिल।

3. आईपीएल के सीजन 14 की बात करें महेंद्र सिंह धोनी का परफॉर्मेंस बेहद खराब रहा है, लेकिन उनकी टीम की परफॉर्मेंस बेहतर रही। आईपीएल के 14 साल के इस सीजन में MS Dhoni की कप्तानी में सीएसके 9 बार फाइनल में पहुंची है, जबकि चार बार आईपीएल के खिताब को जीतने में भी कामयाब रही है। बीते साल हुए आईपीएल में भी चेन्नई ने ट्रॉफी अपने नाम की। लेकिन धोनी के परफॉर्मेंस की बात करें तो बीते 2 साल से बेहद खराब रही है। महेंद्र सिंह धोनी ने 2020 के आईपीएल के दौरान 14 पारियों में सिर्फ 200 रन बनाए, जबकि 2021 की 16 पारियों में 114 रन बनाए थे।

4. कुछ दिन पहले भारतीय टीम के बाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज गौतम गंभीर ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा था कि धोनी पहले चार और पांच नंबर पर बल्लेबाजी करने आते थे, लेकिन बीते आईपीएल के सीजन में वो छठे और सातवें स्थान पर बैटिंग करने आ रहे थे। गौतम गंभीर ने बताया कि महेंद्र सिंह धोनी की यह प्लानिंग पहले से चल रही थी और इसके चलते जडेजा को वह खुद अपने से पहले बैटिंग के लिए भेज रहे थे। गंभीर ने इस इंटरव्यू के दौरान यह भी बताया कि धोनी अब सिर्फ टीम में विकेटकीपर के तौर पर और मेंटर के रूप में भूमिका निभाने की तैयारी पहले से कर रहे थे।

यह भी पढ़े: The Kashmir Files – विवादों और विवादित बयानों से घिरी है विवेक अग्निहोत्री की फिल्म।

5. ऐसा माना जा सकता है कि महेंद्र सिंह धोनी ने टीम के मेंटर के तौर पर खुद को तैयार करने के लिए कप्तानी छोड़ने का फैसला किया है। TATA IPL 2022 महेंद्र सिंह धोनी के आईपीएल का आखरी सीजन हो सकता है। महेंद्र सिंह धोनी के बीते 2 साल में आईपीएल के परफॉर्मेंस को देखकर कुछ ऐसा ही लग रहा है कि अब उनका भविष्य टीम में मेंटर के तौर पर ही होने वाला है।

विराट कोहली ने MS Dhoni के कप्तानी छोड़ने पर लिखा भावुक पोस्ट 

 यह भी पढ़े: Rajasthan Rape Case : जयपुर में मसाज के नाम पर 45 वर्षीय विदेशी महिला से हुआ रेप, केस दर्ज।