मिट्टी में मिल गई Shilpa Shetty की इज्जत, Nikamma को क्रिटिक्स ने बताया घटिया Movie

शिल्पा शेट्टी का सारा तिलिस्म धरा का धरा रह गया है, आज पूरी रात शिल्पा 1 मिनट के लिए भी चैन की नींद नहीं सो पाएंगी। 14 साल बाद बड़े पर्दे पर लौटी शिल्पा शेट्टी के लिए बहुत बुरी खबर आई है. उनकी फ़िल्म निकम्मा रिलीज होते ही पिट गई है। जी हां साउथ फिल्म MCA यानी मिडल क्लास अब्बाई का रीमेक निकम्मा नें शिल्पा शेट्टी की रिजल्ट पर बट्टा लगा दिया है। आज तक, एनडीटीवी ने इसे एक अमर उजाला ने इसे ढ़ेड और टाइम्स ऑफ इंडिया और न्यूज18 नें इस फ़िल्म कों दो स्टार दिए हैं. ज्यादातर फिल्म क्रिटिक्स ने इस फ़िल्म कों घटिया और बोरिंग बताया हैं।

फिल्म निकम्मा अभिमन्यु दस्सानी या शिल्पा शेट्टी किसकी वजह से हुई फेल

हालांकि फिल्म की कमजोर कड़ी शिल्पा शेट्टी नहीं बल्कि बागेश्वरी के बेटे अभिमन्यु दस्सानी है। जिनकी ओवरएक्टिंग में पूरी फिल्म पर पानी फेर दिया, लेकिन क्योंकि ये फिल्म शिल्पा शेट्टी के नाम पर दर्शकों को बेची गई है। इस लिए इसके फ्लॉप होने का ठप्पा भी शिल्पा के माथे पर लगा हैं. फिल्म के प्रमोशन में शिल्पा ने बहुत मेहनत की उन्होंने हर जगह जाकर फिल्म को प्रमोट किया इंटरव्यू दिए स्टेज पर नाची लेकिन इसका कोई फर्क नहीं पड़ा। 17 जून कों यें फिल्म रिलीज हुई और जनता ने इसका रिजल्ट शिल्पा के हाथों में थमा दिया।

शिल्पा शेट्टी की मेहनत पर फिरा पानी उनकी फिल्म निकम्मा हुई, फेल !

14 साल बाद फिल्मों में लौटी शिल्पा शेट्टी के लिए इससे बुरा कम बैक नहीं हो सकता हैं। फ़िल्म में अभिमन्यु और शिल्पा देवर-भाभी बनें है। फिल्म के शौकत में देवर-भाभी का ही रिश्ता है. लेकिन रिश्ता वैसा नहीं है जैसा नदिया के पार हम आपके हैं कौन में लोग देख चुके हैं। यहा देवर के जीवन में अपना कोई उद्देश्य नहीं है फिल्म का नाम ही उसके किरदार पर है। भाभी परिवहन विभाग में अफसर हैं। दोनों की बनती नहीं है बीच-बीच में कहानी को लव स्टोरी बनाने की कोशिश भी चलती रहती है। कहानी पूरी नहीं है और तेलुगू में यें फिल्म सुपर हिट भी रही है लेकिन इसका हिंदी रीमेक खोखला और बहुत नकली टाइप का दिखता हैं। बॉलीवुड में इन दिनों बड़े-बड़े स्टार्स की फ़िल्में फ्लॉप हुई है तो ऐसे में शिल्पा शेट्टी कि इस फिल्म की क्या बिसात तहरी लेकिन बुरा शिल्पा शेट्टी के लिए लग रहा है जो इस फिल्म के भरोसे अपना कैरियर फिर से चमकाने बैठी थी।