आरसीबी के कप्तान के रूप में विराट कोहली का सफर खत्म सुनील गावस्कर ने बढ़ाया विराट कोहली का हौसला

0
79

विराट कोहली का रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को अपनी कप्तानी में खिताब जिताने का सपना अधूरा ही रह गया। विराट कोहली आईपीएल 2022 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की ओर से खेलते हुए तो दिखाई देंगे। लेकिन वह आरसीबी की कप्तानी नहीं करेंगे, क्योंकि विराट कोहली ने आईपीएल 2021 का दूसरा फेस शुरू होने से पहले ही आरसीबी की कप्तानी छोड़ने का ऐलान कर दिया था। अब कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ विराट कोहली का बतौर कप्तान आखिरी मुकाबला था। और इस मुकाबले में विराट कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंज बेंगलोर को हार का सामना करना पड़ा। हार के बाद विराट कोहली को आलोचनाओं का सामना भी करना पड़ा। जहा क्रिकेट जानकारों ने विराट कोहली को कप्तानी के लायक मानने से इनकार कर दिया तो वही इन्हीं आलोचनाओं के बीच विराट कोहली को पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर का साथ मिला है। जी हां भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने आईपीएल में विराट कोहली की कप्तानी को लेकर एक बड़ा बयान दिया है।

आरसीबी के कप्तान के रूप में विराट कोहली का सफर खत्म सुनील गावस्कर ने बढ़ाया विराट कोहली का हौसला

आईपीएल में बतौर बल्लेबाज विराट कोहली के नाम एक अनोखा रिकॉर्ड?

सुनील गावस्कर का यह मानना है, की खिताब नहीं जीतने के बावजूद विराट कोहली एक बल्लेबाज के रूप में टीम पर हमेशा प्रभाव पड़ा है। सुनील गावस्कर ने विराट कोहली की कप्तानी की तुलना डॉन ब्रैडमैन और सचिन तेंदुलकर से भी की है। सुनील गावस्कर ने कहा निश्चित रूप से निराशाजनक है, हर कोई ऊंचाई पर जाकर खत्म करना चाहता है। लेकिन आप क्या चाहते हैं, और फैंस क्या चाहते हैं, हर बार उसके हिसाब से नहीं होता है। क्योंकि हमेशा कहानी वैसी ही नहीं लिखी होती है, हर किसी की किस्मत में बेहतरीन जीत के साथ समापन नहीं लिखा होता है। दुनिया के महान बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन को देखिए अपने 100 की औसत के लिए केवल 4 रन चाहिए थे और वह अपनी आखिरी पारी में 0 के स्कोर पर आउट हो गए। वहीं सचिन तेंदुलकर अपने 200 वें और आखिरी टेस्ट मैच में शतक लगाना चाहते थे। लेकिन ऐसा नहीं हुआ और केवल 74 रन बना पाए।

आरसीबी के कप्तान के रूप में विराट कोहली का सफर खत्म सुनील गावस्कर ने बढ़ाया विराट कोहली का हौसला

आईपीएल 2016 में विराट कोहली ने रिकॉर्ड 973 रन!

स्क्रिप्ट हमेशा इस तरह से नहीं लिखी जाती है। हर किसी के पास इतनी ऊंचाई पर जाने का सौभाग्य नहीं होता क्या कोई इस बात पर चर्चा कर सकता है कि उन्होंने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए क्या किया है। उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया है, 1 साल ऐसा था जब उन्होंने 973 रन बनाए थे, जो कि 1000 से 27 रन कम थे। और किसी ने ऐसा नहीं किया कोई भी कभी भी हजार रन नहीं बना रहा है। आपको याद ही बता दे मेरा विराट कोहली की कप्तानी में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु 2016 में फाइनल में पहुंची थी जहां विराट कोहली टूर्नामेंट में टॉप स्कोरर थे। कोहली ने 16 मैचों में 973 रन बनाए थे, इस दौरान कोहली के बल्ले से चार शतक और 7 अर्धशतक भी शामिल थे।

आरसीबी के कप्तान के रूप में विराट कोहली का सफर खत्म सुनील गावस्कर ने बढ़ाया विराट कोहली का हौसला

आरसीबी का अगला कप्तान कौन होगा?

आईपीएल के इतिहास में अभी तक कोई भी बल्लेबाज इतना बड़ा स्कोर नहीं कर पाया है। ना ही एक सीजन में 4 शतक लगा पाया है, तो वही विराट कोहली रॉयल चैलेंज बेंगलोर के लिए 140 मैचों में कप्तानी की है जिसमे 66 मैचों में जीत तो वही 70 मैचों में हार का सामना करना पड़ा विराट कोहली के आरसीबी कप्तानी के पद से हटने के बाद अब देखना यह होगा कि अगले सीजन में कमान किसको मिलेगी। इस लिस्ट में सबसे पहला नाम पंजाब किंग्स के कप्तान केएल राहुल का आता है। क्रिकेट के गलियारों से खबर हैं, कि इस बार केएल राहुल पंजाब किंग्स को छोड़कर रॉयल चैलेंज बेंगलुरु की ओर रुख करेंगे। इस बात की अभी कोई अधिकारी पुष्टि नहीं हुई है। इसके अलावा ग्लेन मैक्सवेल, एबी डी विलियर्स जैसे कुछ बड़े नाम कप्तानी के रूप में उपलब्ध है।