ICC T20 World Cup के 5 ऐसे रिकॉर्ड, जिसको तोड़ना काफी मुश्किल है?

क्रिकेट के मैदान पर हमेशा कोई ना कोई रिकॉर्ड बनता ही रहता है। फिलहाल इन दिनों यूएई में आईसीसी T20 वर्ल्ड कप का सातवां सीजन खेला जा रहा है। सबसे पहले 2007 में आईसीसी T20 वर्ल्ड कप का आयोजन हुआ था। जिसमें भारतीय टीम ने 2007 में पाकिस्तान को हराकर फाइनल जीता था। फिलहाल हम आपको बताने जा रहे हैं, टी-20 वर्ल्ड कप के 5 ऐसे रिकॉर्ड जिन्हें तोड़ पाना बेहद मुश्किल है।

1. सर्वोच्च टीम स्कोर साल 2007 में श्रीलंका ने केन्या के खिलाफ 6 विकेट के नुकसान पर 260 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया था। यह अभी तक T20 वर्ल्ड कप में किसी भी टीम के लिए सबसे बड़ा स्कोर है। श्रीलंका टीम द्वारा बनाए गए इस रिकॉर्ड को अभी तक कोई भी टीम नहीं तोड़ पाई है। और आने वाले वक्त में यह रिकॉर्ड तुमने बेहद मुश्किल लग रहा है।

ICC T20 World Cup के 5 ऐसे रिकॉर्ड, जिसको तोड़ना काफी मुश्किल है?

टी20 विश्व कप में सबसे तेज शतक जड़ने का रिकॉर्ड?

2. T20 वर्ल्ड कप में सबसे तेज शतक T20 वर्ल्ड कप में सबसे तेज शतक लगाने का कारनामा वेस्टइंडीज के दिग्गज बल्लेबाज क्रिस गेल ने किया है। साल 2016 के विश्व कप में क्रिस गेल ने मात्र 48 गेंदों पर अपना शतक पूरा किया था, क्रिस गेल के इस रिकॉर्ड को किसी भी बल्लेबाज के लिए आसान नहीं होने वाला है।

3. T20 वर्ल्ड कप में एक पारी में सबसे ज्यादा छक्के T20 वर्ल्ड कप में एक पारी में सबसे ज्यादा छक्के लगाने का रिकॉर्ड यूनिवर्सल बॉस के नाम से मशहूर क्रिस गेल के नाम है। क्रिस गेल ने 2016 में इंग्लैंड के खिलाफ एक पारी में सबसे ज्यादा 11 छक्के जड़े थे। T20 वर्ल्ड कप में क्रिस गेल के अलावा यह कारनामा कोई भी बल्लेबाज नहीं कर पाया है, आने वाले T20 वर्ल्ड कप में यह रिकॉर्ड कब टूटेगा इसका अनुमान लगाना मुश्किल है।

4. T20 वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा बल्लेबाजी औसत T20 वर्ल्ड कप के दौरान सबसे अधिक और सबसे रन बनाने का रिकॉर्ड भारत के विराट कोहली के नाम है। विराट कोहली ने अभी तक टी-20 विश्व कप में 86.33 से रन बनाए हैं, इस मामले में कोई भी बल्लेबाज T20 वर्ल्ड कप में उनके आसपास भी नहीं है। विराट कोहली के रिकॉर्ड को तोड़ना किसी भी बल्लेबाज के लिए आसान नहीं होने वाला है।

5. T20 वर्ल्ड कप में सबसे बड़ी साझेदारी 2010 विश्व कप में सबसे बड़ी साझेदारी का रिकॉर्ड बना श्रीलंका के महेला जयवर्धने और कुमार संगकारा ने दूसरे विकेट के लिए 166 रनों की साझेदारी निभाकर एक नया रिकॉर्ड बनाया था। इस रिकॉर्ड को अभी तक कोई भी नहीं तोड़ पाया है, आने वाले T20 वर्ल्ड कप में भी यह रिकॉर्ड तोड़ना बेहद मुश्किल लग रहा है।