UP MLC Election: को लेकर BJP का एलान विधानसभा में हारे नेताओं को टिकट नहीं

उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में शानदार जीत के बाद भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने MLC चुनाव को लेकर कमर कस ली है। और टिकट बंटवारे को लेकर मंथन चल रहा है, लेकिन इस बीच बीजेपी ने टिकट बंटवारे को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है। भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने साफ कर दिया है, कि MLC चुनाव में उन उम्मीदवारों को टिकट नहीं मिलेगा जो विधान सभा चुनाव में हार चुके हैं। बीजेपी की ओर से इस फैसले की खबर ऐसे समय में सामने आई है जब एमएलसी चुनाव को लेकर टिकट पर पार्टी में मंथन चल रहा है। MLC चुनाव के लिए 36 सीटों पर 9 अप्रैल को चुनाव होने है, इसके लिए 15 से 19 मार्च तक नामांकन होगा। नामांकन शुरू होने के 1 दिन पहले लखनऊ में बीजेपी कोर ग्रुप की बैठक होनी है, योगी आदित्य नाथ के लखनऊ से दिल्ली पहुंचने के बाद होने जा रही इस बैठक में एमएलसी चुनाव को लेकर उम्मीदवारों के नाम पर चर्चा होगी।

MLC चनाव को लेकर BJP का एलान, हारने वाले नेताओं को नहीं मिलेगा टिकट!

उम्मीद जताई जा रही है कि एमएलसी चुनाव को लेकर उम्मीदवारों के नाम की सूची आज देर रात या कल सुबह तक जारी की जा सकती है। उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्य नाथ के आवास पर होने जा रही बीजेपी कोर ग्रुप की इस बैठक में मुख्य मंत्री के साथ ही केशव प्रसाद मौर्य, डॉ दिनेश शर्मा, यूपी बीजेपी के प्रभारी, पूर्व केंद्रीय मंत्री राधा मोहन सिंह, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और बीजेपी के प्रदेश संगठन मंत्री सुनील बंसल भी शामिल होंगे।

UP MLC Election: को लेकर BJP का एलान विधानसभा में हारे नेताओं को टिकट नहीं

3 डिप्टी सीएम इतने मंत्री देखिए योगी संभावित मंत्रियों की लिस्ट!

उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में बंपर जीत हासिल करने वाली भारतीय जनता पार्टी (BJP) में जबरदस्त उत्साह है। लगातार दूसरी बार योगी आदित्य नाथ उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री के रूप में शपथ ग्रहण करने जा रहे हैं। हालांकि अभी तक योगी आदित्य नाथ शपथ ग्रहण की तारीखों का ऐलान नहीं हुआ है, इसी बीच योगी आदित्य नाथ के संभावित मंत्रियों की सूची सामने आई है। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो योगी आदित्य नाथ का मंत्रि मंडल जम्मू होगा कई नेताओं का कद बढ़ेगा तो दलित महिला और पिछड़े वर्ग से जुड़े चेहरे को भी मंत्री बनने का मौका मिलेगा। सारी कोशिश 2024 में होने वाले लोक सभा चुनाव को ध्यान में रखकर की जा रही है, मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो योगी आदित्य नाथ के मंत्रि मंडल में केशव प्रसाद मौर्य का नाम भी शामिल किया जा सकता है। केशव प्रसाद मौर्य डिप्टी सीएम रह चुके हैं, हालांकि उन्हें सिराथू सीट से हार का सामना करना पड़ा था, इसके बावजूद उन्हें नए मंत्री मंडल में बड़ी जिम्मेदारी दी जा सकती है। उत्तर प्रदेश चुनाव में पार्टी को जीत का सहरा पहनाने में बड़ी भूमिका निभाने वाले उत्तर प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, पूर्व डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा, बृजेश ठाकुर, सिद्धार्थ नाथ सिंह, जय प्रताप सिंह और गोपाल टंडन के अलावा कई नामों को कैबिनेट में शामिल किया जा सकता है।

योगी के मंत्री मंडल में जाति समीकरण को भी साधा जा सकता है?

इनके अलावा लोधी समाज से विपिन वर्मा, संदीप सिंह और धर्मपाल लोधी का नाम सामने आया है। दावा किया जा रहा है कि योगी आदित्य नाथ मंत्री मंडल में जाति समीकरण को भी साधा जाएगा, जाट नेता भूपेंद्र चौधरी, यादव समाज की असीम अरुण, ठाकुर नेता राजेश्वर सिंह और दलित समाज से जुड़े रमापति शास्त्री को भी मौका मिलेगा। बीजेपी आलाकमान जाट कोटे से लक्ष्मी नारायण, योगेश धामा और राजेश चौधरी के नाम पर विचार कर रहा है। अगर उत्तर प्रदेश चुनाव के नतीजों की बात करें तो 7 चरणों में हुए मतदान के बाद 10 मार्च को नतीजों का ऐलान किया गया था। नतीजों में बीजेपी गठबंधन ने 273 सिटी जीतकर दोबारा सत्ता में आने की सफलता हासिल की जबकि समाजवादी पार्टी के गठबंधन ने 125 सीटें जीती जिसमें सपा की अकेले 111 सीटें है, वहीं मायावती की बसपा ने एक सीट और कांग्रेस पार्टी को 2 सीटें मिली।