UP कई जिलों के Change होंगे नाम, देखिए पूरी लिस्ट?

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार 2.0 आगाज के बाद से ही ताबड़-तोड़ फैसले लिए जा रही हैं, उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्य नाथ के फैसले से हर कोई वाकिफ है। अपराधियों पर लगाम लगाना हो या फिर शहरों को उनका पुराना नाम देना हो उत्तर प्रदेश में एक बार फिर शहरों का नाम बदलने की तैयारी हो रही है। सूत्रों की माने तो योगी सरकार की लिस्ट में 12 जिले शामिल हैं, जिनके नाम बदले जा सकते हैं लेकिन 6 जिलों के नाम जल्द ही बदले जा सकते हैं। जिन जिलों के नाम बदलने की मांग की गई है, उनमें अलीगढ़ को आर्य गढ़ फर्रुखाबाद को पांचाल नगर सुल्तानपुर को कुश भगवानपुर, बरायों को बेद मऊ, फिरोजाबाद को चंद्र नगर और शाहजहांपुर को शादीपुर किया जा सकता है। आपको बता दें उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्य नाथ गोरखपुर से जब सांसद थे तो उन्होंने उस दौरान वहां के कई इलाकों के नामों को बदल दिया था, उनमें उर्दू बाजार को हिंदी बाजार, हुमायूंपुर को हनुमान नगर, मीना बाजार को माया बाजार, अलीनगर को आर्य नगर कर दिया गया था।

उत्तर प्रदेश के निम्न शहरों के नाम बदल सकते हैं?

उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्य नाथ के पहले कार्यकाल में मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम पंडित दीन दयाल उपाध्याय नाम रख दिया गया था। इसके साथ ही इलाहाबाद को प्रयागराज और फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या कर दिया गया था। खबर है कि 6 जिले ऐसे हैं, जिन पर सहमति बन चुकी हैं और तो और मुहर भी लग गई है। साथ ही ठोस ऐतिहासिक साक्ष्यों के साथ प्रपोजल आगामी विधानसभा सत्र में पेश करने की भी तैयारी है। आपको यह भी बताते चलें कि 6 जिलों से उनके नाम बदलने के लिए प्रस्ताव भेजे गए थे, अलीगढ़ का नाम बदलने के लिए साल 2015 से ही विश हिंदू परिषद आवाज उठा रहा था। फर्रुखाबाद से सांसद मुकेश राजपूत नें फर्रुखाबाद का नाम बदलकर पांचाल नगर करने की मांग की है, वही सुल्तानपुर के लंभुआ सीट से बीजेपी के विधायक रहे देवमणि द्विवेदी भी जिले का नाम बदलकर कुश भवनपुर करने का प्रस्ताव सरकार को भेज चुके हैं। इसके साथ ही फिरोजाबाद और शाहजहांपुर से भी नाम बदलने के लिए सरकार के पास प्रस्ताव भेजे गए हैं, जबकि मैनपुरी, संभल, देवबंद, गाजीपुर, कानपुर और आगरा का भी नाम बदलने के लिए प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है।