FIR on Pakistan cricket team : Babar Azam समेत पाकिस्तान क़े 21 खिलाडियों पर FIR दर्ज?

FIR on Pakistan cricket team
Babar Azam

FIR on Pakistan cricket team : पाकिस्तान क़े कप्तान बाबऱ आजम समेत पाकिस्तान क़े 21 खिलाडियों पर बांग्लादेश क़े ढाका में FIR दर्ज की गई है. मुकदमा दर्ज किया गया है। पाकिस्तान टीम क़े खिलाड़ियों की मुस्किले बढ़ने वाली है। पाकिस्तान क्रिकेट टीम के 21 खिलाड़ियों के खिलाफ ये FIR इसलिए दर्ज की गई है, क्योंकि प्रैक्टिस के दौरान बांग्लादेशी टीम ने ये शिकायत की है ,कि प्रैक्टिस के दौरान पाकिस्तान टीम अपने राष्ट्रीय ध्वज (यानी की पाकिस्तान का राष्ट्रीय ध्वज) , वो बांग्लादेश में फहरा दिया था। इस वजह से ये शिकायत दर्ज की गई है।

उसके बाद फिर पाकिस्तान टीम क़े 21 खिलाड़ियों पर FIR दर्ज की गई है। आपको बता दें बांग्लादेश क़े कई फैन्स ने बांग्लादेश की  50 वी वर्ष गांठ क़े मौके पर इसे एक राजनैतिक संदेश के तौर पर लिया था। एक फेसबुक यूजर ने लिखा था की , कई देश बांग्लादेश के दौरे पर कई बार आए हैं, और कई मैच खेले ,हैं लेकिन कभी किसी को प्रैक्टिस के दौरान अपने देश का ध्वज लगाने की जरूरत नहीं होती है. लेकिन उन्होंने ऐसा क्यों किया और क्या इशारा देना चाहते हैं।

FIR on Pakistan cricket team

FIR on Pakistan cricket team : पाकिस्तान क़े 21 खिलाडियों FIR दर्ज।

FIR on Pakistan cricket team : आईसीसी का इवेंट हो या फिर द्वीपछिय सीरीज दोनों टीमो क़े रास्ट्रीय ध्वज मैच के दौरान फहराये जाते हैं। लेकिन प्रैक्टिस के दौरान ऐसा नहीं होता है। आपको बता दें साल 2014 में भी बंगलादेश नें विदेशी फैंस उनके देश का राष्ट्रीय ध्वज मैदान पर लाने पर रोक लगा दी उस फ़ैसले की बहुत ज्यादा आलोचना हुई थी। फिर आगे जाकर बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड द्वारा उस फैसले को वापस लिया गया था। लेकिन यह बार फिर से ध्वज को लेकर विवाद हो रहा है।

पाकिस्तानी टीम के कोच , सकलेन मुश्तक ने  कहां की ,उन्होंने अपनी टीम का हौसला बढ़ाने के लिए ऐसा किया था। अपने देश का राष्ट्रीय ध्वज मैदान पर लगा दिया था, इसमें कोई गलत बात तो  नहीं है। ऐसे में देखना दिलचस्प होगा। जो FIR दर्ज हुई है इसमें पाकिस्तान के 21 खिलाड़ियों पर क्या कोई कार्रवाई होती हैं।क्या बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के कानून के मुताबिक क्या करता है । क्या मामला बड़ा होता है या नहीं , क्योंकि सिर्फ FIR दर्ज होने से मुश्किलें नहीं बढ़ेगी। बहुत सारे कानून जिनके तहत देखा जाएगा, कि क्या कोई मामला बनता भीं है। पाकिस्तान टीम के 21 खिलाड़ियों के खिलाफ या फिर यह सिर्फ जबरदस्ती का एक तरीके का विरोध है. जो बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड की तरफ से दर्ज किया गया कि आपनें क्यों अपने देश का राष्ट्रीय ध्वज मैदान पर लगाया वो भी प्रैक्टिस के दौरान।

 

यह भी पढ़े: Virat Kohli की बल्लेबाजी को लेकर बोले Mohammad Amir कहा आसान है, Virat को गेंदबाजी करना।