देश का एक भी राजमार्ग सड़क पेड़ पौधों के लिहाज से दुरुस्त नहीं बोल सकते: नितिन गडकरी

भारतीय जनता पार्टी के एकमात्र ऐसे नेता है जो अपनी ईमानदारी से बात रखने और जो बोलते है उसको पूरा करने के लिए जाने जाते है। हम बात कर रहे है केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का। ये के ऐसे नेता है जो खुल कर अपनी बात स्पष्ट रूप से रखने के लिए जाने जाते है। केंद्रीय मंत्री ने कहा की मुझे बहुत अफ़सोस है की राज्य्मार्गों के किनारे पेड़ लगाने का काम ईमानदारी से नहीं किया गया है।

नितिन गडकरी IIT तिरुपति द्वारा आयोजित एक डिजिटल कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे और उस कार्यक्रम में उन्होंने कहा कोई सड़क निर्माण का विशेषज्ञ किस तरह से पेड़ -पौधों का भी विशेषज्ञ हो सकता है ? गडकरी ने बताया की यहां पांडे महोदय बैठे है ये मुझे कोई एक ऐसा राजमार्ग दिखाए जहा अच्छे से पेड़ पौधे लगाये गए हो। इस बात से साफ़ दिखता की किस हद तक लापरवाही की गयी है।

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने राजमार्गो के किनारे और हरित राजमार्ग निति को बढ़ावा देने के लिए उन्होंने भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ( NHAI ) के अधिकारियो से अनुरोध किया था और इस काम में विशेषज्ञों को भी शामिल करने की अपील की थी। गडकरी ने कहा कि पर्यावरण के लिए हरित राजमार्गो पर पेड़ लगाने चाहिए थे। उन्होंने बताया की राष्ट्रीय राजमार्गो पर पेड़ो की निगरानी के हरित पथ नाम का एक मोबाइल एप भी जारी किया था।

नितिन गडकरी सूक्ष्म ,लघु एवं मझोले उघम मंत्रालय भी देखते है और इसपर उन्होंने कहा की नौकरशाही व्यवस्था नई प्रणालियों को स्वीकार नहीं होनी चाहिए। हमे विचारो , नवचारों और अनुसंधान की जरूरत है। उन्होंने कहा कि लोगो को कोलतार का आयात करने की अनुमति देने के बाद सरकार सड़क निर्माण की लागत को कम कर सकती है। आज नितिन गडकरी जी का जन्मदिन भी है। नितिन गडकरी के वजह से पुरे देश में अब सड़को का जाल बिछ पाया है। और लोगो की हर सुविधा के लिए वो पूरी कोशिश करते है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *