बीजेपी की वैक्सीन वाले बयान से यूं पलट गए अखिलेश कुमार यादव।

0
34
अखिलेश यादव

अखिलेश कुमार यादव बयान से पलटे

उत्तर प्रदेश पुलिस की गाड़ी जितनी तेजी से नहीं पलटती है उससे ज्यादा तेजी से अखिलेश कुमार यादव अपने बयान से पलट जाते हैं। देश में जब वैक्सीन लगाने के कार्यक्रम का एलान होने वाला था उस समय उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बयान दिया था कि वह बीजेपी की वैक्सीन नहीं लगवाएंगे। अखिलेश यादव के इस बयान पर उस समय राजनीतिक वाद-विवाद अपने चरम पर पहुंच गया था।

यह भी पढ़े : वैक्सीन पॉलिसी पर कांग्रेस का यू टर्न।

अखिलेश कुमार यादव ट्रोल क्यों हुए ?

बीते सोमवार को अखिलेश कुमार यादव के पिता मुलायम सिंह यादव ने वैक्सीन लगवाई। जैसे ही वैक्सीन लगवाते हुए मुलायम सिंह यादव की तस्वीर मीडिया में आई लोगों ने अखिलेश यादव को ट्रोल करना शुरू कर दिया। भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने भी अखिलेश यादव पर तंज कसना शुरू कर दिया। बीजेपी के बहुत से नेता मुलायम सिंह यादव के वैक्सीन लगवाने के फैसले का स्वागत करते हैं और कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि अखिलेश यादव और सपा कार्यकर्ता भी अब वैक्सीन लगवा लेंगे।

यह भी पढ़े : देश के नागरिकों को पीएम मोदी का बड़ा तोहफा, सबको मिलेगी अब मुफ्त में वैक्सीन।

अखिलेश पर केशव प्रसाद मौर्या का हमला

उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने भी ट्वीट करते हुए लिखा मुलायम सिंह यादव के टीके का लगवाना इस बात का प्रमाण है कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अखिलेश जी द्वारा वैक्सीन को लेकर अफवाह फैलाई गई थी । इसके लिए अखिलेश जी को माफी मांगनी चाहिए। अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए कहा जनाक्रोश को देखते हुए आखिरकार सरकार ने कोरोना के टीके की राजनीतिकरण की जगह यह घोषणा करी कि वो टीके लगवाएगी।

यह भी पढ़े : भारतीय क्रिकेट टीम के हेड कोच बने राहुल द्रविड़ , श्रीलंका टूर में होंगे टीम इंडिया के साथ।

अखिलेश कुमार यादव ने दिया जवाब

अखिलेश यादव ने अपने ट्वीट में लिखा कि हम भाजपा के टीके के खिलाफ थे, भारत सरकार के टीके का स्वागत करते हैं और हम भी टीका लगाएंगे वह टीके की कमी से जो लोग लगवा नहीं सके थे उनसे भी लगवाने की अपील करते है।

यह वही अखिलेश यादव है जो जनवरी में यह कहते थे कि यह वैक्सीन बीजेपी की है और हम बीजेपी की वैक्सीन नहीं लगवा सकते । जब हमारी सरकार आएगी तो सभी को मुफ्त टीका लगेगा ।लेकिन अचानक से अखिलेश कुमार यादव का पलट जाना इस बात का साफ संकेत देता है कही न कही टीके को लेकर के भ्रम फैलाने की कोशिश इनके तरफ से भी जारी थी।

यह भी पढ़े : 

राहुल गाँधी का बीजेपी पर बड़ा प्रहार ,कहा – रेत में सर डालना सकारत्मक नहीं , देशवाशियों के साथ धोखा हैं।