कोरोना टीके का कॉकटेल देने पर यूपी में ANM हुई ससपेंड,20 लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज अलग कंपनी का दिया।

भारत देश में कुछ न कुछ अजीबो गरीब कारनामे होते ही रहते है। भारत को ऐसे ही जुगाड़ू देश नहीं कहा जाता है। इसके पीछे लोगो का खुरापाती दिमाग का खेल है। लेकिन इस बार खबर भारत के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश की जहां पर 20 लोगो को कोरोना टीके की दूसरी डोज अलग कंपनी की लगा दी गयी है। आइये जानते है पूरा मामला क्या है।
उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर एक इलाका है। इस इलाके में एक गांव है जिसका नाम औदही कला है।

खबर के मुताबिक के इस गांव के 20 लोगो को कोरोना का टीका लगा था जो कोविशील्ड की थी और जब इन्होने दूसरी खुराक का टीका लगवाया तो वो कोवैक्सीन की लग गयी। इस तरह से दोनों डोज अलग – अलग कंपनी के लग गए है। यह मामला 14 मई का है। इस मामले को जब आज तक न्यूज़ चैनल ने बड़ी गंभीरता से दिखाया तब जाके अधिकारीयों ने इस मामले को संज्ञान में लिए। और इसके बाद ANM को सस्पेंड किया।

इस गांव में 1 अप्रैल को करीब 150 लोगो को वैक्सीन लगी थी जो पहली डोज थी और कोविशील्ड की थी लेकिन जब 14 मई को दूसरी डोज लगी तो 20 लोगो को कोवैक्सीन लगा दी गयी क्योकि इस बार सरकारी अस्पताल पर वैक्सीन का स्टॉक कोवैक्सीन का आया था। इस लापरवाही के चलते अब लोग परेशान है और उनको समझ नहीं आ रहा है की वो क्या करे और न करे। वैक्सीन का कॉकटेल लगाने से उन 20 लोगो की जिंदगी से खिलाड़ हुआ है इसकी जिम्मेदारी किसकी है ?

हलाकि जिनको अलग – अलग वैक्सीन लगी है उन सभी 20 लोगो की सेहत बिलकुल ठीक है और किसी प्रकार को दुष्प्रभाव के लक्षण नहीं दिखे है। जबकि केंद्र सरकार का कहनाहै की इससे किसी को दिक्क्त नहीं होने वाली है लेकिन अभी इस पर रिसर्च चल रहा है तो ऐसे में किसी को देना उचित नहीं है। एक व्यक्ति को एक ही कंपनी की वैक्सीन लगनी चाहिए। अब ऐसे में सिद्धार्थनगर के इस घटना के बाद प्रशासन पर सवाल उठाने लाजमी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *