Russia Ukraine war: यूक्रेन जा रही flight बीच रास्ते से लौटी, 20 हजार भारतीय फंसे?

रूस के राष्ट्रपति पुतिन के उद्ध के ऐलान के बाद रूस ने यूक्रेन के कई शहरों पर हमला कर दिया है। यूक्रेन के कई शहरों में धमाके हो रहे हैं जिससे पूरा यूक्रेन सहम सा गया है, यूक्रेन में पल-पल बदलते हालाता और गहरा ते तनाव के बीच एक और बुरी खबर सामने आई है। यूक्रेन सरकार ने मुल्क के एयर स्पेस को आम उड़ानों के लिए बंद कर दिया है, इस फैसले से वहां फंसे भारतीयों के लिए बड़ी मुसीबत खड़ी हो गई है। एयर इंडिया का विशेष विमान 1947 आज सुबह यूक्रेन के लिए रवाना हुआ था, लेकिन यूक्रेन द्वारा देश के भीतर नागरिक विमानों की उड़ानों को प्रतिबंधित करने के बाद एयर इंडिया की ये फ्लाइट भी बीच रास्ते से वापस लौट आई करीब 20 हजार भारतीय अब भी यूक्रेन में फंसे हैं, वह स्वदेश लौटने का इंतजार कर रहे हैं। इस खबर में जहां यूक्रेन में भारतीयों को दहशत में डाल दिया है, वही यहां उनके परिवार वालों को भी डर सता रहा है। रूसी हमले के बीच यूक्रेन का डर है कि उनके यहां आने वाली फ्लाइट्स पर साइबर अटैक किया जा सकता है। इसके अलावा सिविलियन फ्लाइट्स को निशाना बनाते हुए शूट डाउन करने का भी खतरा बना हुआ है।

यूक्रेन में 20 हजार भारतीय नागरिक फंसे?

इन जोखिमों को देखते हुए पूरे यूक्रेन के स्पेस को सिविल फ्लाइट्स के लिए बंद कर दिया गया है। भारत और यूक्रेन के बीच एयर बबल समझौते के तहत सीमित उड़ाने ही संचालित हो रही थी लेकिन हालात को देखते हुए पिछले इसमें हफ्ते बदलाव किया गया था। जिसके तहत उड़ान और सीटों की संख्या से प्रतिबंध हटा लिया गया था, उम्मीद थी कि इससे भारतीयों को यूक्रेन से निकालने में मदद मिलेगी लेकिन अब हवाई क्षेत्र में प्रतिबंध से नई मुश्किल खड़ी हो गई है। बता दें यूक्रेन में फंसे भारतीयों को निकालने के लिए एयर इंडिया की यह दूसरी उड़ान थी, जो बिना भारतीयों के लिए वापस स्वदेश लौटी है। इससे पहले कल एक विमान 242 भारतीयों को लेकर वापस अपने देश लौट था, और आज भी प्रतिबंध से पहले 182 भारतीये दिल्ली लौटे हैं। यूक्रेन इंटरनेशनल एयरलाइंस की एक स्पेशल फ्लाइट्स से छात्रों सहित 182 भारतीये नागरिकों के साथ सुबह 7 बजकर 45 मिनट पर फ्लाइट दिल्ली एयरपोर्ट पर उतरी थी, अपने देश लौटकर भारतीयों ने राहत की सांस ली। वही युद्ध के संकट को देखते हुए यूक्रेन में देशव्यापी आपातकाल की घोषणा कर दी है, जो आज से अगले 30 दिनों तक लागू रहेगा।