वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप मुकाबले के लिए तैयार है टीम इंडिया, अजिंक्य रहाणे ने कहा कम समय में टीम ने कि मुकम्मल तैयारी।

0
44
अजिंक्य रहाणे

शतक बने या न बने टीम जीतनी चाहिए- अजिंक्य रहाणे

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल मुकाबले से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोले अजिंक्य रहाणे। मैं शतक बनाऊं या नहीं, टीम को जिताना सबसे अहम है। अजिंक्य ने कहा कि अगर वह 20 रन भी बनाते है तो यह टीम के लिए इम्पोर्टेन्ट होने चाहिए तभी मुझे खुशी मिलेगी।। रहाणे ने कहा कि मैं फाइनल में अपना स्वभाविक खेल खेलूगा। टीम को जीतना सबसे जरूरी है चाहे मैं शतक बनाऊ या ना नहीं।

यह भी पढ़े : मुंबई में लगी 390 लोगों को नकली वैक्सीन, लगा ₹ 5 लाख हड़पने का आरोप, लक्षण न आने पर हुआ शक।

रहाणे ने कहा मै पूरी निडरता के साथ खेलूंगा

आज अजिंक्य रहाणे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान साउथेंप्टन में अपने अनुभव की बात साझा करते हुए कहा कि हम स्वतंत्र और निडर क्रिकेट खेलना चाहते हैं। रहाणे ने कहा साउथेंप्टन में अपने प्रदर्शन की बात करूं तो मैं यहां हेंपशायर के साथ पहले भी खेला हूं। लेकिन पहले की और अब में अंतर है इसलिए मैं वर्तमान में जीना चाहता हूं। WTC में सबसे ज्यादा रन बनाना अब ज्यादा मायने नहीं रखेगा। मैं पूरी निडरता के साथ और बिना किसी दबाव के साथ खेलने का प्रयास करता हूं।

यह भी पढ़े : WTC फाइनल मुकाबले में बाएं हाथ के बल्लेबाजों पर अकेले भारी पड़ेगा भारत का ये शेर।

आलोचनाओं से मिलती से है सकारात्मक ऊर्जा

अनिरंतरता के कारण रहाणे कि कड़ी आलोचना भी होती रहती है। एक समय ऐसा भी आया कि जब रहाणे को टीम से बाहर करने का आवाज उठने लगा था। जब यह सवाल अजिंक्य रहाणे से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मैं अपनी आलोचनाओं को सकारात्मक ऊर्जा में बदलना और उसको प्रदर्शन में दिखाना जानता हूं। रहाणे ने कहा कि मैं अपनी आलोचना को लेने में खुश हूं। लोग मेरी आलोचना करें या ना करें मगर मैं हमेशा टीम को सर्वश्रेष्ठ योगदान देने की कोशिश करता हूं।

यह भी पढ़े : अथिया शेट्टी और क्रिकेटर केएल राहुल की स्टाइलिश फोटो हुई वायरल।

आलोचनाओं के वजह से आज मै यहां हूँ – अजिंक्य रहाणे

जीवन में कुछ ऐसी चीजें हैं जिनको नियंत्रित नहीं किया जा सकता,जिस पर आपका कोई भी कंट्रोल नहीं होता उनमें से एक आलोचना है। जिस पर मेरा कोई नियंत्रण नहीं। इन्हीं आलोचना की बदौलत मैं आज यहां हूं। रहाणे से जब पूछा गया कि खराब मौसम हुआ तो टीम इंडिया की रणनीति कैसी और क्या होगी? इस सवाल पर रहाणे ने जवाब देते हुए कहा अगर बारिश होती है तो वह लगातार होती रहेगी, लेकिन इंग्लैंड में मौसम बहुत जल्दी करवट बदल लेता है। भारतीय टीम ने रहाणे की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया को उसे के घर में हराया था और गाबा में पहली बार तिरंगा लहराया था।

यह भी पढ़े : वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के लिए टीम इंडिया की घोषणा, रोहित और शुभमन ओपनिंग जोड़ी पक्की