Muslim vs Akhilesh: SP से नाराज Muslims बोले हमें सपा नें राजनीतिक Napkin समझा

0
3

उत्तर प्रदेश में हुए विधान सभा चुनावों में बीजेपी ने शानदार जीत हासिल की इस जीत की चर्चा पूरे देश में हुई। इस जीत के साथ ही सारे सियासी समीकरण टूट गए, सारे जातीयें समीकरण ध्वस्त हो गए। लाभार्थियों का एक नया वोट बैंक भी सामने आने लगा लेकिन एक समीकरण था जो जस का तस बना रहा एक वोट बैंक था जिसको बीजेपी हिला नहीं सकी और वो वोट बैंक था। मुस्लिम वोट बैंक मुस्लिम वोटरों की बात करें तो उन्होंने लगभग एक तरफा समाजवादी पार्टी को वोट दिया था, लेकिन फिर भी हार जीत के सियासी ग्राउंड में समाजवादी पार्टी को हार का मुंह देखना पड़ा। इसके बाद दिन बीते सब कुछ ठीक चल रहा था, लेकिन रामपुर के एक मंच से उठी आवाज ने एक नया राजनैतिक माहौल खड़ा कर दिया। यें राजनैतिक माहौल नए विकल्प की आहट तो नहीं सपा को बड़े सेट बैक का प्लान तो नहीं। या फिर उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के पुनर्जन्म की न्यू तो नहीं तो चलिए इस पर विश्लेषण करते हैं। यूपी का मुसलमान क्या समाजवादी पार्टी से नाराज है? और क्या नए राजनीतिक विकल्प की तलाश कर रहा है। तो इस राजनीतिक चिंगारी को समझने के लिए हालिया दिनों में मुस्लिम नेताओं के बयानों को खंगालना होगा।

सपा से नाराज है मुस्लिम नेता जानिए क्या है वजह?

जहां पर उन्होंने कहा था कि अखिलेश यादव को तो उनके कपड़ों से बू आती है, तो सबसे पहले रामपुर के उस मंच की चर्चा करते हैं। जहां से इस नाराजगी का विस्फोट हुआ है, बात है 10 अप्रैल 2022 की जगह है रामपुर और मंच पर बयान दिया है। सपा के कद्दावर नेता आजम खान के मीडिया प्रभारी फसा हद अली खान नें वो कहते हैं जेल में बंद आजम खान के जेल से बाहर ना आने की वजह से है हम लोग सियासी रूप से यतीम हो गए हैं। हम कहां जाएंगे, किससे कहेंगे और किसको अपना गम बताएंगे। हमारे साथ तो वो समाजवादी पार्टी भी नहीं है, जिसके लिए हमने अपने खून का एक-एक कतरा बहा दिया। हमारे नेता मोहम्मद आजम खान ने अपनी जिंदगी सपा को दे दी लेकिन सपा ने आजम खान के लिए कुछ नहीं किया। हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष को हमारे कपड़ों से बदबू आने लगी है, रामपुर से उठे मुसलमानों के बगावती सुर यही नहीं रुके इसके बाद संभल से सपा के सांसद डॉक्टर शफीक उर रहमान ने कह दिया बीजेपी को छोड़िए सपा भी मुसलमानों के हितों के लिए काम नहीं कर रही है।

समाजवादी पार्टी से इन नेताओं ने दिया इस्तीफा?

इसके बाद तो मनो तो झड़ी सी लग गई डॉक्टर मसूद अहमद सहारनपुर से सपा नेता सिकंदर अली, मुलायम सिंह यूथ ब्रिगेड सहारनपुर के जिला उपाध्यक्ष अदरान चौधरी सुल्तानपुर के नगर अध्यक्ष कासिम राईन, सपा सरकार में दर्जा प्राप्त राज्य मंत्री रहें इरशाद खान इन सभी नें सपा से इस्तीफा दें दिया है।