Rajya sabha election 2022 : Jayant chaudhri बन सकते है Rajya sabha सदस्य।

0
349
Rajya sabha election 2022

राज्यसभा जाएंगे Jayant Chaudhri

Rajya sabha election 2022 : राज्यसभा की 59 सीटों पर चुनाव हो रहे है जिसमें से 57 सीटों पर 10 जून और 2 सीटों पर उपचुनाव 13 जून को होंगे। वही उत्तर प्रदेश की बात करें तो ग्यारह राज्यसभा सीटों पर होने वाले चुनाव के लिए सियासी बिसात बिछाई जाने लगी है। विधायकों की तादाद आधार पर 7 सीटें भाजपा और 3 सीटें समाजवादी पार्टी को मिलना तय माना जा रहा है। जबकि एक सीट के लिए दोनों ही दलों के बीच खींचतान होगी। 2024 के लोकसभा चुनाव को देखते हुए सपा अध्यक्ष और पूर्व सीएम अखिलेश यादव अपने कोटे से राष्ट्रीय लोक दल प्रमुख जयंत चौधरी को राज्यसभा भेजने का कदम उठा सकते हैं वहीं 1 सीट पर किसी मुस्लिम को उम्मीदवार बनाया जा सकता है। आपको बता दें कि इस बार राज्यसभा के लिए नए नामों की सूची में राष्ट्रीय लोक दल के नेता जयंत चौधरी का नाम भी सामने आने लगा है। इस बात की जानकारी सपा रालोद गठबंधन के साथ ही अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी के नेताओं ने दी है।

Rajya sabha election 2022

Rajya sabha election 2022 : जानिए  चुनाव का सियासी समीकरण ।

Rajya sabha election 2022 : दरअसल हिंदुस्तान टाइम्स के एक रिपोर्ट मुताबिक रालोद के एक प्रवक्ता का कहना है कि वह एक-दो दिन से लखनऊ जा रहे हैं जहां वह अखिलेश से मिलेंगे बता दें कि समाजवादी पार्टी सप्ताह के अंत में अपने विधायकों को और परिषद के सदस्यों की बैठक आयोजित करने वाली है लेकिन यहां भी एक पेज फसता हुआ नजर आने लगा है। जहा अखिलेश यादव जयंत चौधरी को राज्यसभा भेजने के पूरे मूड में नजर आ रहे है तों वही दिक्कत है 2024 का लोकसभा चुनाव! क्योंकि सपा मुखिया का मानना है कि अगर जयंत चौधरी राज्यसभा जाते हैं तो उन्हें लोकसभा चुनाव नहीं लड़ना चाहिए अब ऐसे में उसका हल यह भी हो सकता है कि जयंत चौधरी की जगह उनकी पत्नी को राज्यसभा भेजा जाए और जयंत चौधरी खुद 2024 का लोकसभा चुनाव लड़े।

Rajya sabha election 2022 : अब अगर बात करें उन तीन राज्यसभा सीटों की,कि जिन पर सपा अपने किन प्रत्याशियों को उतारने के मूड में है तो एक पर पूरी संभावना जयंत चौधरी की है ताकि 2024 से पहले सपा रालोद के रिश्तो को और मजबूती दी जाए। वही मुस्लिमों को उपेक्षित करने का आरोप झेल रहे अखिलेश यादव एक सीट पर मुस्लिम उम्मीदवार उतारकर इससे राहत पा सकते हैं। वही एक सीट पर ओबीसी चेहरे को भेजने की भी प्लानिंग नजर आती है। फिलहाल के लिए इस खबर में इतना ही।

यह भी पढ़े : पाकिस्तान कर रहा न्यूक्लियर अपग्रेड, दुनिया के सामने खुल गई पोल।