CDS Bipin Rawat : 6 साल पहले भी हेलीकॉप्टर हादसे का शिकार हुए थे बिपिन रावत, बाल – बाल बची थी जान।

0
180
CDS Bipin Rawat

तमिलनाडु के कुन्नूर में बुधवार को भारतीय वायुसेना का सबसे सुरक्षित और विश्वसनीय हेलीकॉप्टर हादसे का शिकार हो गया। इस हादसे में भारतीय सेना के सबसे बड़े पद के अधिकारी, तीनों सेनाओं के प्रमुख, CDS जनरल बिपिन रावत (CDS Bipin Rawat), उनकी पत्नी मधुलिका रावत समेत 13 लोगों की मृत्यु हो गई।

यह भी पढ़े: Rajasthan CM Ashok Gehlot खुद के सवालों में ही फसें, शिक्षकों के तबादले में रिश्वत का खेल हुआ उजागर जानें पूरी खबर

ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का अभी भी अस्पताल में चल रहा है इलाज

इस हेलिकॉप्टर में कुल 14 लोग सवार थे जिसमें से सिर्फ इकलौते सर्वाइवर रहे ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का अभी भी अस्पताल में इलाज चल रहा है, जो जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहे हैं। इस हेलीकॉप्टर में बिपिन रावत, उनकी पत्नी, एक ब्रिगेडियर रैंक का अधिकारी, एक अन्य अधिकारी और दो पायलट मौजूद थे। जिन दो पायलटों को इस हेलीकॉप्टर को उड़ाने की जिम्मेदारी दी गयी थी उनके नाम है – ग्रुप-कैप्टन पीएस चौहान, स्क्वाड्रन लीडर कुलदीप।

CDS Bipin Rawat : 6 साल पहले भी हेलीकॉप्टर हादसे का शिकार हुए थे बिपिन रावत, बाल - बाल बची थी जान।

 

यह भी पढ़े: UP Free Laptop Yojana 2021 से जुडी बड़ी अपडेट, बहुत जल्द शुरू होंगे इसके लिए आवेदन की प्रक्रिया, जाने कैसे होगा आवेदन।

2015 में भी CDS Bipin Rawat हेलीकॉप्टर क्रैश का हुए थे शिकार

आपको बता दें 2015 में भी बिपिन रावत (CDS Bipin Rawat) एक हेलीकॉप्टर हादसे का शिकार हो चुके थे। उस हादसे में उन को मामूली चोटें आई थी। जिस वक्त यह हादसा उनके साथ हुआ था तब बिपिन रावत (CDS Bipin Rawat) सीडीएस के पद पर नहीं बल्कि लेफ्टिनेंट जनरल के पद पर तैनात थे। 2015 में जब यह हादसा हुआ तब बिपिन रावत उत्तर पूर्वी राज्य नागालैंड के दीमापुर जिले में सेना की 3 कोर के हेड क्वार्टर के प्रमुख हुआ करते थे।

यह भी पढ़े: 𝑹𝒆𝒄𝒐𝒓𝒅𝒔 क़े 𝑬𝒗𝒆𝒓𝒆𝒔𝒕 पर 𝑽𝒊𝒓𝒂𝒕 दुनिया क़े इकलौते 𝑪𝒓𝒊𝒄𝒌𝒆𝒕𝒆𝒓 पीछे छूटे सचिन -पोंटिंग?

3 फरवरी 2015 को चीता हेलीकॉप्टर हुआ था क्रैश

CDS Bipin Rawat तीन अधिकारियों के साथ 3 फरवरी 2015 को दीमापुर से सेना के हेलीकॉप्टर चिता से सवार होकर निकले थे। जैसे ही चीता हेलीकॉप्टर कुछ ऊंचाइयों पर पहुंचा अपना नियंत्रण खो दिया जिसके बाद वह हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया था। उस वक्त आई रिपोर्ट के मुताबिक चीता हेलीकॉप्टर का इंजन फेल हुआ था जिसकी वजह से यह हादसा हुआ। 2015 की इस घटना के बाद वायुसेना ने उच्च स्तरीय जांच भी बिठाई थी।

यह भी पढ़े: NDA पर सुप्रीम कोर्ट का 1 और बड़ा फैसला : NDA की परीक्षा दे सकेगी लड़कियां, सेना को लगाई कड़ी फटकार

2016 में CDS के पद पर तैनात हुए थे बिपिन रावत (CDS Bipin Rawat)

आपको बता दें बिपिन रावत देश के पहले सीडीएस थे जिनको 2016 में इस पद पर पहली बार नियुक्त किया गया था देश में 2016 से पहले सीडीएस का पद नहीं हुआ करता था विपिन रावत को रिटायरमेंट के ठीक 1 दिन पहले ही इस पद पर नियुक्त कर दिया गया था लेकिन बुधवार को देश ने इनको एक हेलीकॉप्टर क्रैश में खो दिया है। 

यह भी पढ़े: ODI में भी Rohit Sharma बने कप्तान Virat Kohli से BCCI नें छीनी कप्तानी?