Prayagraj Rape and Murder Case : गर्लफ्रेंड को बहाने से बुलाकर किया दुष्कर्म फिर की हत्या ।

0
293

Prayagraj  Rape and Murder Case

Prayagraj  Rape and Murder Case : उत्तर प्रदेश के प्रयागराज के थाना कर्नलगंज में एक 19 वर्षीय लड़की की हत्या का मामला सामने आया है । 24 जनवरी 2022 को लड़की के पिता ने थाना कर्नलगंज में अपनी लड़की के अपरहण और हत्या की आशंका के साथ थाने ने तहरीर दीं  फिर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया  और उसके बाद पुलिस ने  05 टीमों का गठन किया और खोज जारी की ।

Prayagraj  Rape and Murder Case

Prayagraj  Rape and Murder Case : लड़की का प्रेमी निकला आरोपी ।

Prayagraj  Rape and Murder Case : शुरुआती खोज में पुलिस को लड़की के प्रेमी अमन सिंह राजपूत पर शक हुआ तो पुलिस ने लड़की के प्रेमी को हिरासत में लिया और पूछताछ शुरू किया । पूछताछ के दौरान लड़की का प्रेमी अमन सिंह राजपूत बार बार आने बयान  को  बदल रहा था । पूछताछ के दौरान ही पुलिस को कुछ  सुराग मिले , जिससे पुलिस ने घटनास्थल की जांच शुरू किया और 25 जनवरी को  पुलिस को बबूल की झाड़ियों के बिच स्थित कुए के अंदर करीब 80 फिट निचे से लड़की का शव बरामत हुआ और साथ ही मृतका बैग भी बरामत हुआ । पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया ।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट से लड़की के प्रेमी पर शक और ज्यादा हो गया ।

Prayagraj  Rape and Murder Case : पोस्टमार्टम रिपोर्ट में लड़की के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया , और पोस्टमार्टम रिपोर्ट, वैजाइनल स्वाब , वैजाइनल  स्लाइड और सी डी आर  (Call Detail Record) के विश्लेषण के बाद लड़की के प्रेमी अमन सिंह राजपूत पर पुलिस का शक और गहरा हो गया और पुलिस ने उससे और कड़ाई के साथ पूछताछ शुरू की तब धीरे धीरे इस हत्या के मामले की परते खुलने लगी।

आरोपी को लड़की के ऊपर धोखा देने का शक था । 

Prayagraj  Rape and Murder Case :  बी.ए. की छात्रा की हत्या के मामले में पुलिस ने मर्डर मिस्ट्री सॉल्व करते हुए बड़ा खुलासा किया है, बताया जा रहा है कि यह घटना 22जनवरी की है-  पुलिस ने कहा है कि बॉयफ्रेंड अपनी प्रेमिका पर शक करता था इसलिए उसने मुंह और नाक दबाकर उसकी हत्या कर दी।

मृतका प्रयागराज के करनालगंज में बी.ए. की छात्रा थी। आरोपी अमन सिंह राजपूत ने अपने बयानों में बताया की , वह मृतका को पिछले 10 माह से जानता था , मृतका और वह  एक ही कक्षा में पढ़ते थे , और दोनों ऑनलाइन क्लास में मिले थे और फिर कुछ समय बाद उन्होंने होना मोबाइल नंबर एक्सचेंज किया और बातचीत शरू की फिर एक दूसरे से मिलने भी लगे थे ।

पुलिस की माने तो – पिछले नवंबर 2021 को मृतका  के प्रेमी अमन सिंह राजपूत को अपनी प्रेमिका पर शक हुआ की वह किसी और लड़के से बात करती है , जिसे लेकर दोनों के बीच अनबन शुरू हो गयी ।   , जिसके चलते आरोपी अमन सिंह राजपूत अमन सिंह राजपूत मृतका को हमेशा गालिया देता था और  हमेशा डॉट फटकार लगता रहता है , फिर भी दोनों के बिच बातचीत और चैटिंग जारी थी और आरोपी मन ही मन शंका करता रहा और नफरत करता रहा ।

मृतका प्रयागराज  में एक गर्ल्स हॉस्टल में रहती थी और 22 जनवरी को वह अपने रूममेट को नोट्स देने की बात बता के आरोपी अमन सिंह  राजपूत से मिलने गयी थी ।   आरोपी ने नोट्स देने के बहाने आईईआरटी मैदान के पास बुलाया था , वह पर आरोपी ने मृतका से कुछ गोपनीय बाते करने के बहन से झाड़ियों में ले गया और  वहीं पर आरोपी अमन ने प्रेमिका को पीटा और दुष्कर्म किया , मार – पीट के बाद प्रेमिका बेहोश हो गई। उसके बाद आरोपी अमन सिंह राजपूत मृतका  के लाश को  कुए में डालने जा रहा था तो किसी आने की आवड सुन के वह भाग गया ।

उसके बाद आरोपी ने अपने मित्र दीपक यादव को कॉल क्र के बुलया और दीपक ने अपने  मित्र  निखिल कनौजिया को बुलाया फिर 22 जनवरी कप रात साढ़े आठ बजे ये तीनो वापस घटनास्थल पर गए वहा पर उन लड़की की लाश न मिली लड़की का बैग मिला जिसे उन्होंने पास के कुए में डाल दिया ।

अमन और दीपक ने अगले दिन 23 जनवरी को नाटकीय रूप से लड़की ने रूममेट को कॉल किया और पूछा की लड़की कहा है ? तो लड़की के रूममेट को कुछ अनहोनी होने की आशंका हुयी तो उसे लड़की के पिता को फोन कर के जानकारी दीं उसके बाद  लड़की के पिता ने थाना कर्नलगंज में अपनी लड़की के अपरहण और हत्या की आशंका के साथ थाने ने तहरीर दीं और पुलिस ने अपनी खोज जारी की।

पुलिस ने मुख्य आरोपी अमन सिंह राजपूत को हत्या और दुष्कर्म के मामले में गिरफ्तार कर लिया है और उसके मित्रो दीपक यादव और निखिल कनौजिया को इस संगीन अपराध की जानकारी होते हुए पुलिस को जानकारी  ना बताने और इस संगीन अपराध को छिपाने के जुर्म में गिरफ्तार कर लिया है ।  फिलहाल, तीनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल में डाल दिया है।

यह भी पढ़े: POC Full Form In Hindi 2022 | POC की फुल फॉर्म क्या होती है?

 

लेखक – कशिश श्रीवास्तव