वाराणसी में हिलती हुई एम्बुलेंस का खौफनाक सच।

0
88

देश में जबसे कोरोना की दूसरी लहर आई है तबसे एम्बुलेंस मालिकों के लिए बहार आई है अगर ऐसा कहा जाए तो बिलकुल गलत नहीं होगा। क्योकि देश भर से एम्बुलेंस मालिकों की मनमानी की खबरे हर दिन आती रहती है। दिल्ली सरकार ने तो अब एम्बुलेंस का किराया भी तय कर दिया ताकि कोई ज्यादा पैसे मरीजों से न वसूल सके।

ऐसे में बेहद अफ़सोसनाक और शर्मिंदा करने वाली खबर वाराणसी के रामनगर थाना से आई है। दरअसल एक सुनसान जगह पर बड़ी देर से एक एम्बुलेंस खड़ी थी। पहले लोगो ने देखा तो सोचने पर मजबूर हो गए की इस सुनसान जगह पर एम्बुलेंस कैसे आई और क्यों आई ? बहुत देर बाद भी जब एम्बुलेंस नहीं गई तो लोगो ने उसकी जानकारी लेनी शुरू की और लोगो ने देखा की ये एम्बुलेंस हिल रही है।

वाराणसी में हिलती हुई एम्बुलेंस का खौफनाक सच।

ऐसे में लोगो को शक हुआ और उन्होंने सुजाबाद पुलिस चौकी को इसकी सुचना दी। जैसे ही पुलिस पहुंची और एम्बुलेंस की छान बिन शुरू करती है तो एक शर्मनाक खुलासा होता है। उस हिलती हुई एम्बुलेंस में तीन लड़के एक लड़की के साथ आपत्तिजनक अवस्था में पकडे जाते है। इसके बाद पुलिस ने इन 3 लड़को और उस लड़की को एम्बुलेंस सहित रामनगर थाने ले जाती है और उन चारो के खिलाफ सावर्जनिक स्थल पर आपत्तिजनक, अश्लील हरकत करने के जुर्म में मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लेती है। और एम्बुलेंस को भी जब्त कर लेती है।

जब इस घटना के बारे में कोतवाली सर्किल के एसीपी प्रवीण सिंह से पूछा गया तो उन्होंने बताया की इन चारों लोगो के खिलाफ सार्वजनिक स्थल पर अश्लील हरकत करने के जुर्म में मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार किया गया है और एम्बुलेंस भी जब्त कर लिया गया है। जब उनसे एम्बुलेंस के मालिक के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया की यह एम्बुलेंस गंगा सेवा सदन नामक निजी अस्पताल है जो मंडुआडीह इलाके में पड़ता है और इसको अस्पताल ने युवक को किराए पर चलाने के लिए दिया था। एसीपी ने बताया इस अस्पताल के खिलाफ पहले भी ऐसी शिकायतें आई थी और इसकी जांच अभी चल रही है।