Richest T20 Leagues: जाने आईपीएल (IPL) कैसे बना दुनिया का सबसे अमीर लीग?

How to become IPL Richest T20 Leagues in the world
Richest T20 Leagues

Richest T20 Leagues in the World-दोस्तों साल 2008 में जब आईपीएल शुरू हुआ था, तब किसी ने सोचा भी नहीं होगा। कि यें लीग एक दिन इतनी बड़ी बन जाएगी, आज आईपीएल(IPL) का मतलब इंडियन पैसा लीग हो चुका है। और लोग इसे बेहद पसंद करते हैं, तो आखिर आईपीएल कैसे बनी दुनिया की सबसे फेमस और रिचर्ड्स लीग में से एक आज के आर्टिकल में मैं आपको यही बताने वाला हूँ।

दोस्तों एक समय था, जब लोग 5-5 दिन बैठकर क्रिकेट मैच देखा करते थे, लेकिन अब तो भाई हमें हर बॉल पर एक्शन चाहिए। हर कामयाब चीज समय के साथ अपने आपको बदलती रहती है, और क्रिकेट में भी कुछ ऐसा ही किया साल 2003 में पहली बार इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने T20 क्रिकेट को आयोजित किया और साल 2005 तक इस फॉर्मेट नें इंटरनेशनल क्रिकेट में जगह बना ली। यें वो दौर था, जब दुनिया भर में क्रिकेट की लोकप्रियता काफी कम होती जा रही थी। आईसीसी कुछ ऐसा करना चाहती थी, जिससे क्रिकेट को ज्यादा से ज्यादा लोग देखें और उन्हें यें बोरिंग न लगे। T20 क्रिकेट में इसका सबसे ज्यादा पोटेंशियल था, और साल 2007 में इसका पहला वर्ल्ड कप कराया गया इस वर्ल्ड कप को एमएस धोनी की कप्तानी वाली टीम इंडिया ने जीता।

IPL की शुरुवात कब और कैसे हुई?

अब दुनिया भर के देश T20 क्रिकेट क़े लोकल टूर्नामेंट को आयोजित कराने लगे थे। जिससे वह क्रिकेट की विवेस शिप को मेंन-टेन कर सकें, भारत में भी ऐसे कई टूर्नामेंट शुरू हुए इन्हीं में से एक था। ICL यानी की इंडियन क्रिकेट लीग जी इंटरटेनमेंट क़े द्वारा शुरू की गई यें एक प्राइवेट लीग थी, जिसमें देश विदेश के प्लेयर्स भाग लेने पहुंचे। 2007 में इसे काफी लोकप्रियता मिली जो बीसीसीआई को पसंद नहीं आया बीसीसीआई ने इसके अगेंस्ट में अपनी T20 लीग शुरू करने का फैसला किया जिस पर पूरी तरह से उनका कंट्रोल होगा। यहीं से जन्म हुआ IPL यानी कि इंडियन प्रीमियर लीग का साल 2008 में इंडियन प्रीमियर लीग के पहले सीजन की अलाउंस मेंट की गई ICL के मुकाबले IPL मे ज्यादा फेमस खिलाड़ी थे। इसका स्ट्रक्चर भी कहीं बेहतर था, आईपीएल के शुरू होने से पहले ही लोगों ने अपने फेवरेट प्लेयर के हिसाब से अपने दिल को एक फ्रेंचाइजी से जोड़ना शुरु कर दिया। मतलब आप सचिन के फैन हो आप मुंबई इंडियंस को सपोर्ट करने लगोगे, सहवाग के फैन हो तो दिल्ली कैपिटल्स को राहुल द्रविड़ के फैंस आरसीबी की ओर जाएंगे। और महेंद्र सिंह धोनी के फैंस चेन्नई सुपर किंग्स को ज्वाइन करेंगे, पहले सीजन के साथ ही आईपीएल ने क्रिकेट जगत में धमाका कर दिया।

क्यों है आईपीएल दुनिया की सबसे बड़ी T20 लीग (Richest T20 Leagues)?

How IPL Became Richest League in the World– किसी ने नहीं सोचा था, कि क्रिकेट इतना इंटरतैंनिंग भी हो सकता है। आईपीएल का हर मैच जैसे 3 घंटे की ब्लॉकबस्टर बॉलीवुड मूवी जहाँ एक्शन भी है, सस्पेंस, ग्लैमर और इंटरटेनमेंट सब कुछ है। बस इसी लिए हम सभी आईपीएल से प्यार करते हैं, वैसे आपको बता दूंगा आईपीएल का आईडिया बीसीसीआई और ललित मोदी ने सालों से फेमस फौरन लीग्स जैसे कि NFL, MBA और MBL फुटबॉल से लिया है। खेल का फॉर्मेट और प्लेयर ऑक्शन आईपीएल में कुछ इन्ही लिग्स जैसा होता है, पहले सीजन की सक्सेज के बाद आईपीएल में रुकने का नाम नहीं लिया। यें अपनी ऑडियंस और रिवेन्यूस को ग्रो करता गया और यही कारण है, कि आज आईपीएल दुनिया की सबसे अमीर लिग्स में शुमार है। आईपीएल में इतनी पापुलैरिटी हासिल की है, जितनी कि बीसीसीआई ने शायद कभी सोची भी नहीं होगी। वैसे क्या आपको पता है, कि आईपीएल की ब्रांड वैल्यू कितनी है।

क्या आपको पता है आईपीएल(IPL) की ब्रांड वैल्यू कितनी है?

साल 2019 में अमेरिका की एक फाइनेंसल कंसल्टेंसी नें एक रिपोर्ट जारी की थी, जिसके अनुसार आईपीएल की ब्रांड वैल्यू 6.7 बिलियन डॉलर यानी की 47 हजार 500 करोड रुपए आंकी गई थी। साल 2020 जब दुनिया भर की इकोनामी डाउनफॉल पर थी, और बिजनेसेस ठप पड़े हुए थे, तब भी आईपीएल की ब्रांड वैल्यू में सिर्फ 1700 करोड़ का डिप आया था। और यें 45 हजार 800 करोड़ पर पहुंच गई थी, साल 2020 में ये पैसे कमाने के मामले में दुनिया की स्पोर्ट्स लीग में चौथे नंबर पर रही थी। यह भी पढ़े – IPL इतिहास में सबसे ज्यादा रन किसका है? IPL Me Sabse Jyada Run Top10 Players

आईपीएल दुनिया की रिचर्ड्स लीग(Richest T20 Leagues in the World) में टॉप 20 में आती है, और पापुलैरिटी के मामले में टॉप टेन में जगह बनाती है। आईपीएल के पर मैच की कमाई लगभग 55 करोड़ रुपए है, आपको जानकर हैरानी होगी कि बीसीसीआई(BCCI) आईपीएल के जरिए हर सीजन में 4000 से 7000 करोड रुपए की कमाई करती है। आईपीएल वो लीग है, जो दुनिया भर के इंटरनेशनल क्रिकेट मैचेस को रोक देती हैं। हर क्रिकेटर का सपना होता कि वो एक बार आईपीएल में जरूर खेलें आईपीएल ने भारत को इतने टैलेंटेड प्लेयर दिए है, जितने कि पहले शायद कभी नहीं मिले। बड़े-बड़े क्रिकेटर्स के बेटों को लेकर गांव की गलियों में खेलने वाले गरीब किसान के बच्चे तक जिस खिलाड़ी में टैलेंट है, आईपीएल उसकी जिंदगी बदल देता है।

अब जरा इन टैक्स (Tax) पर नजर डालिए?

साल 2018 में स्टार इंडिया नें IPL के ब्रॉडकास्टिंग एंड मीडिया राइट्स 5 साल के लिए 16 हजार 437 करोड़ों रुपए में खरीदे थे। बीसीसीआई का टारगेट है कि अगली बार वो यें राइट्स 40 हजार करोड़ रुपए में बेचेगी। इस बार टाटा ने 670 करोड रुपए देकर 2 साल के लिए आईपीएल की टाइटल स्पॉन्सरशिप हासिल की है, यें प्राइस हर साल के साथ बढ़ते ही जाने वाला है। आईपीएल की हर टीम भी अपने आप में बहुत बड़ी ब्रांड वैल्यू रखती हैं, एग्जांपल के लिए चार बार की आईपीएल(IPL) चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स की ब्रांड वैल्यू इस साल 1 मिलीयन डॉलर्स को पार कर चुकी हैं। एक एस्टीमेट के अनुसार हर आईपीएल टीम एक सीजन में 300 से 500 करोड़ रुपए की कमाई करती है, और अगर वह विनर बनती है तो यह कमाई और भी ज्यादा हो जाती है। दोस्तों आईपीएल वह लीग है, जहां पैसा पानी की तरह बहाया भी जाता है और कमाया भी जाता है, और यही इसे दुनिया की ऑन ऑफ द रिचर्ड्स लीग बनाता है। वैसे आप कौन सी आईपीएल टीम के फैन हो हमें कमेंट करके बताइए।