India China Dispute: भारत LAC पर ऐसा क्या कर रहा, जिससे चीन तिलमिला उठा ? |

सरहद पर ड्रैगन एक बार फिर सें फुफकारा LAC पर भारत ने बढ़ाई चहल कदमी तो ड्रैगन फिर बिल-बिल आया लेकिन सावधान ड्रैगन क्योंकि अबकी बार तुम्हारा पाला एक ऐसे नए अंदाज और एक नए मिजाज वाले भारत से पड़ा है। क्योंकि आज का भारत दोस्ती निभाना भी जानता है और अगर हिमाकत की तो गलवान वाला किस्सा दोहरा भी सकता है। भारत इन दिनों एलएसी पर कुछ ऐसा कर रहा है जिसमें चीन के माथे पर बल पड़ गए हैं और उसके पसीने भी छूट रहे हैं। दरअसल सीमा के पास चीन ने एक और जहां अपनी गतिविधियां बढ़ा दी हैं वह लगातार निर्माण कार्य कर रहा है जहां उसने अपनी सेना की मुस्तैदी बढ़ा दी है। वहीं अब भारत लगातार आंखों की किरकिरी बना हुआ है। क्योंकि एलएसी पर अब उसे वह करने को नहीं मिल रहा जो दशकों से करता रहा था भारतीय सीमा में घुसने की कोशिशों पर उसे यहां मुंहतोड़ जवाब दिया जा रहा है। इसी बात से वह तिल मिलाया हुआ है।

LAC पर क्या कर रहा भारत-चीन के छूटे पसीने

सीमा पर भारत ने भी खुद को और ज्यादा मजबूत करना शुरू कर दिया है इस सिलसिले में भारत सीमा के नजदीक कुछ खास निर्माण कार्यों में जुटा हुआ है। इस दुर्गम निर्माण कार्य के लिए में निर्माण कार्य के लिए सामग्री, औजार और लोगों को लाने ले जाने के लिए हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल किया जा रहा है। साथ ही एलएसी पर अपनी सीमा में भारत ड्रोन का भी इस्तेमाल कर रहा है इसी बात से चीन की नींदें उड़ी हुई है वह घबराया हुआ है। शायद वह खौफ जदा है इसी वजह से उसने भारत की ऐसी गतिविधियों पर अब आपत्ति जता दी है।

चीन ने भारत की गतिविधियों पर जताई आपत्ति ?

चीन की ओर से ऐसी आपत्ति आने के बाद दोनों देशों के कमांडर के बीच चर्चा हुई चीन की ओर से आई आपत्ति पर भारत की ओर से भी एक आपत्ति जताई गई। दरअसल जून महीने में पूर्वी लद्दाख में एलएसी के पास चीनी एयरक्राफ्ट को उड़ान भरते देखा गया था। यह गतिविधि चीन की ओर से उस वक्त की गई थी जब भारत-चीन के बीच हुई 16वें दौर की बैठक में यह तय हुआ था कि दोनों देश एक दूसरे को सीमा के नजदीक आकाश में होने वाली किसी भी तरह की गतिविधि योजना की जानकारी देंगे लेकिन उसके बावजूद चीन ने उसे नजर अंदाज किया था।

चीन-भारत दोनों कर रहे हैं एलएसी पर सड़क निर्माण

गौरतलब है कि इन दिनों एलएसी पर भारत और चीन दोनों ने अपने इंफ्रा वर्क को तेज कर दिया है। एलएसी तक तेजी से पहुंचने के लिए इस काम को तेजी से पूरा करना जरूरी है क्योंकि कुछ महीनों में सर्दियों का मौसम शुरू हो जाएगा। भारत एलएसी के पास सड़क का निर्माण कर रहा है जबकि कुछ दूसरे तरह के निर्माण कार्य भी किए जा रहे हैं। वहीं चीन की ओर से भी कुछ ऐसा ही किया जा रहा है चाइना मॉर्निंग पोस्ट के हवाले से जो जानकारियां सामने आई है उसके मुताबिक चाइना विवादित क्षेत्र अक्साई चीन के इलाके में हाईवे का निर्माण कर रहा है। G695 हाईवे लुजे काउंटी को तिब्बत कों माझा सें जोड़ेगा और एलएसी तक जाएगा। सूत्रों का कहना है कि भारत ने इस निर्माण कार्य पर चीन से आपत्ति जताई थी।