Loudspeaker विवाद में Raj Thackeray नें उद्धव सरकार को दी चेतावनी!

देश में इन दिनों विवादों का भोपू शांत होने का नाम नहीं ले रहा इसे लेकर मनसे चीफ राज ठाकरे ने महाराष्ट्र की उद्धव सरकार एक बार फिर से आड़े हाथ ले लिया है। उन्होंने इस दिशा में एक बड़ा बयान दिया है, उन्होंने एक तरह से चेतावनी भरे लहजे में कह दिया है, कि 3 मई तक अगर मस्जिदों से लाउडस्पीकर नहीं हटाए जाते तो ठीक नहीं होगा। अपने एक बयान में उन्होंने देश भर के लोगो से आवाहन किया है, कि वो तैयार रहें ताकि मांग पूरी ना होने पर जैसे को तैसा जवाब दिया जा सके। उन्होंने कहा सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन हर हाल में होना ही चाहिए, गौरतलब है कि राज ठाकरे 1 मई को औरंगाबाद में एक बड़ी रैली करने जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि इस रैली में वें लाउडस्पीकर विवाद को लेकर कोई बड़ी बात कह सकते हैं, क्योंकि उस रैली से पहले ही वो इस मुद्दे पर बेहद आक्रामक दिखाई दे रहे हैं।

लाउडस्पीकर पर उधर सरकार को 3 मई तक की चेतावनी !

वही इस पर वो लोगों से एकजुट हो जाने की भी बात कह रहे हैं, उन्होंने मस्जिद की मीनारों से लाउडस्पीकर हटाने के लिए 3 मई तक का समय दिया है। उससे पहले 1 मई को ही उनकी रैली होने वाली है, जिसकी तैयारियां पूरे जोर-शोर से जारी है। इस रैली में बड़ी संख्या में लोगों के जुटने की संभावना है, इस संबंध में जानकारी साझा करते हुए राज ठाकरे ने कहा कि वे इस रैली से पहले अयोध्या की यात्रा करेंगे। जहां भगवान राम के दर्शन के बाद रैली और इस मुद्दे पर आगे की रणनीति पर जुटेंगे, उन्होंने संकेतों में साफ किया कि अगर उनकी मांगे पूरी नहीं होती तो उग्र तरीका भी अपनाया जा सकता है। आपको बता दें पिछले कुछ दिनों से मन से कार्यकर्ता जगह-जगह पर हनुमान चालीसा बजाकर अपनी उपस्थिति का एहसास करवा रहे हैं, शिवसेना भवन के सामने भी उन्होंने ऐसा करने की कोशिश की थी। जिस पर पुलिस ने उन्हें रोक दिया था, मनसे की ओर से पहले ही यह मुद्दा उठाया जा चुका है। कि रास्तों और फुटपाथ पर नमाज नहीं पढ़ी जानी चाहिए साथी लाउडस्पीकर पर अजान बजा कर दूसरों को डिस्टर्ब भी नहीं किया जाना चाहिए। मनसे की ओर से कहा गया था, कि अपनी प्रार्थना पर लाउडस्पीकर से दूसरों को सुनाने का मतलब क्या है। उन्होंने कहा था अगर यह सब नहीं रुकता तो वें मस्जिदों के सामने ऊंची आवाज में हनुमान चालीसा का पाठ करवाएंगे, जिस पर बाद में किसी तरह की आपत्ति नहीं होनी चाहिए।

लाउडस्पीकर बजाने को लेकर राज ठाकरे ने क्या कहा…?

अपने एक बयान में राज ठाकरे नें रविवार को कहा लाउडस्पीकर में जाने के लिए कुछ नियम होते हैं, रैलियों में लाउडस्पीकर के भी परमिशन लेनी पड़ती है। जब की अजान रोज पांच पांच बार लाउडस्पीकर से की जाती है, उस पर नियमों की अनदेखी नहीं होनी चाहिए गौरतलब है कि इस मुद्दे पर राज ठाकरे उद्धव सरकार को भी गिरते रहे है। जिस पर दोनों ओर से नेताओं का वार पलटवार भी जारी है