Lovlina Borgohain ने Boxing Federation पर लगाए Mental Harassment के आरोप |

ओलंपिक मेडल विजेता लवलीना बोरगोहेन दरअसल उन्होंने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया है जिसमें उन्होंने लिखा है कि आज मैं बहुत दुख के साथ कह रही हैं कि मेरे साथ बहुत हैरेसमेंट हो रहा है। हर बार मेरे को जिन्होंने ओलंपिक में मेडल लाने में मदद की उन्हें बार-बार हटा कर मेरे ट्रेनिंग प्रोसेस और कंपटीशन में हमेशा हैरेसमेंट किया जाता है।

लवलीना बोरगोहेन नें अपने ट्वीट में क्या कुछ लिखा ?

लवलीना बोरगोहेन ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि आज मैं बड़े दुख के साथ कहती हूं कि मेरे साथ बहुत हैरेसमेंट हो रहा है। जिस कोच ने मुझे ओलंपिक में मेडल जीतने में मदद की उन्हें बार-बार हटा दिया जा रहा है। इससे मेरी ट्रेनिंग प्रोसेस पर बुरा असर है इंग्लैंड आने से पहले भीमुझे अपने कोच के साथ ट्रेनिंग करने में बहुत मुश्किल हुई। बार-बार हाथ जोड़कर मिन्नत करने के बावजूद बहुत देर से उन्हें जॉइन कराया जाता है। मुझे ट्रेनिंग में बहुत परेशानी उठानी पड़ती है और मेंटल हैरेसमेंट तो होता ही है। अभी तक मेरी कोच संध्या कों कॉमनवेल्थ गेम विलेज से बाहर रखा गया है। उन्हें एंट्री नहीं मिल रही है। ऐसा तब हो रहा है यह कॉमनवेल्थ गेम में मेरे मुकाबले शुरू होने में 8 दिन ही बचे हैं। मेरे दूसरे को कोच कों भी वापस भारत भेज दिया गया है। मुझे समझ नहीं आ रहा है कि मैं कैसे फोकस करूं। इसी के गाने में पिछली वर्ल्ड चैंपियनशिप में भीमेरा परफॉर्मेंस खराब हुआ था। अब राजनीति के कारण मैं कॉमनवेल्थ भी खराब करना नहीं चाहती हूँ। आशा करती हूं मैं मेरे देश के लिए इस राजनीति को तोड़कर मेडल ला पाऊ जय हिन्द।

बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन नें उत्पीड़न का लगाया बड़ा आरोप



वही खबरों के मुताबिक बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया ने कॉमनवेल्थ गेम के लिए खिलाड़ियों और स्टाफ की जो लिस्ट 6 जुलाई को पहली बार भेजी थी। उसमें लवलीना के कोच संध्या का नाम नहीं था। वही 18 जुलाई को भी फेडरेशन की ओर से अपडेटेड लिस्ट भेजी गई थी उसमें भी उनके कोच का नाम नहीं था। लवलीना की ओर से बार-बार डिमांड किए जाने के बाद संध्या का नाम स्पोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया को भेजा गया जिसके बाद कोच के जाने पर साईं ने हरी झंडी दी। फिलहाल लवलीना के सनसनीखेज आरोप के बाद कहा जा रहा है कि उनके कोच संध्या कों भारतीय दल में शामिल कर लिया गया है। द्रोणाचार्य पुरस्कार विजेता संध्या नेशनल कैंप में सहायक कोच भूमिका में हैं और लवलीना बोरगोहेन का मार्गदर्शन कर रही हैं।

लवलीना के समर्थन में प्रियंका गांधी ने भी किया ट्वीट

वहीं इस पूरे मामले पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी ट्वीट किया है उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि लवलीना प्रोबेशन हमारे देश की शान है। उन्हें हर लिहाज से समर्थन और मदद मिलनी चाहिए मुझे उम्मीद है कि सरकारी इस पूरे मामले पर एक्शन जरूर लेगी। आपको बता दें भारतीय महिला मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन ने 2018 की विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप और 2019 के विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप में ब्रोंज मेडल जीता था। इसके बाद उन्होंने 2020 टोक्यो ओलंपिक में भारत के लिए ब्रोंज मेडल जीतकरखूब नाम कमाया था, बॉक्सर विजेंद्र कुमार और एमसी मैरीकॉम के बाद बॉक्सिंग में भारत के लिए ओलंपिक मेडल जीतने वाली वो तीसरी भारतीय और दूसरी भारतीय महिला खिलाड़ी है।