Up election 2022: तीसरे चरण में कितने उम्मीदवार दागी और करोड़पति?

0
1

20 फरवरी को उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण के लिए वोटिंग होनी है। इस चरण में 16 जिले की 59 विधानसभा सीटों पर वोट डाले जाएंगे। इस चरण में करीब 627 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला होगा, लेकिन इस बीच तीसरे चरण में खड़े उम्मीदवारों को लेकर ADR नें एक रिपोर्ट जारी की है। जिसमें बताया गया है इस चरण में कितने उम्मीदवार दागी है, और कितने करोड़-पति है। हालांकि इस रिपोर्ट में 623 उम्मीदवारों के बारे में तमाम जानकारियां पेश की गई है, जबकि 4 प्रत्याशियों के हलफ-नामे स्पष्ट न होने के कारण उनका विश्लेषण नहीं किया जा सका। ADR के रिपोर्ट के मुताबिक इस चरण में किस्मत आजमा रहे प्रत्याशियों में से 22 फीसदी के ऊपर पर आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। दागी उम्मीदवारों की लिस्ट में समाजवादी पार्टी के सबसे ज्यादा 58 में से 30 यानी की 52 फीसदी बीजेपी के 55 में से 25 यानी की 46 फीसदी बहुजन समाज पार्टी के 69 में से 30 यानी की 39 फीसदी कांग्रेस के 56 में से 20 यानी की 36 फ़ीसदी और आम आदमी पार्टी के 49 में से 11 यानी 22 फ़ीसदी प्रत्याशियों ने अपने ऊपर अपराधिक मामले घोषित किए है।

सबसे ज्यादा किसके प्रत्याशियों पर अपराधिक मुकदमे बीजेपी या सपा?

वही गंभीर आपराधिक मामलों की बात करें तो इस लिस्ट में भी समाजवादी पार्टी सबसे आगे है, समाजवादी पार्टी के 58 में से 21 प्रत्याशियों के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं। जबकि भारतीय जनता पार्टी के 55 में से 20 बहुजन समाज पार्टी के 59 में से 18 कांग्रेस के 56 में से 10 और आम आदमी पार्टी के 49 में से 11 उम्मीदवारों के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले है। वही इस चरण के करोड़-पति प्रत्याशियों की बात करें तो 623 में से 245 यानी 39 फीसदी उम्मीदवार करोड़-पति हैं, रहीश प्रत्याशियों की इस लिस्ट में बबीना सीट से चुनाव लड़ रहे यशपाल सिंह यादव टॉप पर है। उन्होंने कुल 70 करोड़ों रुपए की अपनी चल अचल संपत्ति हलफ-नामे में घोषित की है। इसके बाद 69 करोड़ की संपत्ति के साथ कानपुर विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी अजय कपूर का नाम है, वहीं तीसरे स्थान पर कानपुर की आर्य नगर सीट से कांग्रेस के ही प्रत्याशी प्रमोद कुमार है जिन्होंने अपनी कुल 45 करोड़ रुपए की संपत्ति हलफ-नामे में घोषित की थी। करोड़-पति उम्मीदवारों में समाजवादी पार्टी के पास सबसे ज्यादा 58 में से 52 भारतीय जनता पार्टी के पास 55 में से 48 बहुजन समाज पार्टी के पास 59 में से 46 कांग्रेस के 56 में से 29 और आम आदमी पार्टी के 49 में से 18 उम्मीदवार करोड़-पति है।