ओवैसी के साथ बसपा के गठबंधन की खबर पर मायावती का ने कहा इस खबर में रत्ती भर भी सच्चाई नहीं।

0
15
बसपा

कुछ दिन पहले ही मायावती ने पंजाब में अकाली दल के साथ गठबंधन कर 2022 की पंजाब विधानसभा चुनाव को लड़ने का फैसला किया था। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में भी अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। हर पार्टियां इस विधानसभा चुनाव से पहले अपना गठबंधन और समीकरणों को साधने में हर तरह की सियासी दांवपेच आजमाने में लगी हुई है।

यह भी पढ़े : क्रिकेट की दुनिया के नए चोकर्स? WTC में टीम इंडिया की हार के बाद विराट कोहली की कैप्टेन्सी पर क्रिकेट एक्सपर्टस ने क्या कहा !

असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन और मायावती की बहुजन समाज पार्टी के बीच गठबंधन की खबरें आ रही थी। इस गठबंधन की खबरों पर उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने खंडन किया है। बसपा प्रमुख मायावती ने कहा यूपी विधानसभा चुनाव के लिए ओवैसी की पार्टी से बीएसपी मिलकर चुनाव लड़ेगी यह खबर पूरी तरह से गलत, भ्रामक और तथ्यहीन है। उन्होंने कहा इस खबर में रत्ती भर भी सच्चाई नहीं है और बीएसपी इस खबर का जोरदार खंडन करती है।

यह भी पढ़े : 5 मिनट में जम्मू के टेक्निकल एयरपोर्ट पर हुए दो धमाके, 2 लोग हुए घायल।

बसपा अकेले लड़ेगी यूपी में चुनाव

मायावती ने अपने वक्तव्य में साफ-साफ बताया कि बहुजन समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश का विधान सभा चुनाव अकेले लड़ेगी। मायावती ने कहा कि पंजाब को छोड़कर यूपी और उत्तराखंड में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में बसपा किसी भी पार्टी के साथ गठबंधन नहीं करेगी और वह चुनाव अकेले ही लड़ेगी।

यह भी पढ़े : भारत में लांच हुआ 5000 mAh बैटरी के साथ Realme C11 2021 का बेहतरीन फीचर से लैस नया स्मार्टफोन।

सतीश चंद्र मिश्रा को मीडिया सेल का राष्ट्रीय कोऑर्डिनेटर बनाया

बीएसपी सुप्रीमो ने कहा इस तरह की मनगढ़ंत और भ्रमित खबरों को ध्यान में रखते हुए अब राष्ट्रीय महासचिव और राज्यसभा सांसद सतीश चंद्र मिश्रा को मीडिया सेल का राष्ट्रीय कोऑर्डिनेटर बनाने का फैसला किया गया है। मायावती ने मीडिया से अपील की कि पार्टी और पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष के संबंध में इस किस्म की भ्रांति फैलाने वाली खबरों को लेकर सतीश मिश्रा से संपर्क कर सही जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। आपको बता दें ओवैसी की पार्टी ने पहले ही ओमप्रकाश राजभर की सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी और अन्य छोटे दलों से गठबंधन किया हुआ है।

यह भी पढ़े : तो ये थी वजह : A.R. रहमान का गाना, SONY कि शिकायत और IT मिनिस्टर रविशंकर प्रसाद का ब्लॉक हुआ ट्विटर अकाउंट।