शुभेंदु अधिकारी के मीटिंग में आने से ममता बनर्जी परेशान क्यों ? पीएम मोदी की मीटिंग में शुभेंदु को मिला न्योता।

0
41

कुछ दिन पहले हमने ताउते तूफान को तबाही मचते हुए देखा था। ताउते ने महाराष्ट्र ,गुजरात इन सभी जगहों पर भरी तबाही मचाई थी। इस तबाही के बाद पीएम मोदी ने गुजरात के प्रभावित जगहों का हवाई सर्वे किया था। उसके बाद राहत राशि भी दी गयी।

ऐसे में एक बार एक और तूफ़ान जिसका नाम यास है वो बंगाल और ओडिसा में भरी तबाही मचाया है। इस यास तूफान से हुए नुक्सान का पूरा जायजा लेने के लिए पीएम मोदी ने आज बंगाल और ओडिसा का हवाई सर्वेक्षण करने का फैसला लिया है। इस हवाई दौरे के बाद पीएम मोदी उस राज्य के मुख्यमंत्री और अधिकारीयों के साथ एक रिव्यू बैठक करेंगे।

इस बैठक को लेकर बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी नाराज है। उसकी नाराजगी का कारण सिर्फ ये है की पीएम की रिव्यू मीटिंग में ममता के प्रतिद्वंदी कभी उनके बेहद करीब रहने वाले शुभेंदु अधिकारी को क्यों इस मीटिंग में बुलाया जा रहा है। ममत ने ये सवाल किया की आखिर इस मीटिंग में शुभेंदु अधिकारी को न्योता क्यों दिया गया है।पीएम के साथ इस मीटिंग में बंगाल के राज्य्पाल जगदीप धनखड़ , बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी , केंद्रीय मंत्री और बंगाल के सांसद देबाश्री चौधरी और केंद्रीय मंत्री धर्मेद्र प्रधान इसमें शामिल होंगे।

इस मीटिंग में बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी को भी मौजूद रहने का न्योता दिया गया है जिसको लेकर ममता बनर्जी ने अपनी नाराजगी जताई है।ममता बनर्जी का कहना है की इस तूफ़ान यास ने बंगाल के 1 करोड़ लोगो को प्रभावित किया है । 3 लाख घर बर्बाद हुए है।

अगर ओडिसा की बात करे तो वह 6 लाख लोगो को इस तूफ़ान यास ने प्रभावित किया है। आज पीएम मोदी इन दोनों राज्यों का दौरा करेंगे और स्थिति का जायजा लेंगे। विधानसभा चुनाव के बाद यह पहला मौका है जब ममता बनर्जी पीएम मोदी के साथ बैठक करेगी।