मन की बात में मोदी ने लोगो से की अपील, आज के मन की बात की कुछ मुख्य बाते।

मोदी सरकार के आने के बाद इस कार्यक्रम को आरम्भ किया गया था। मन की बात का यह 77 वा एपिसोड था लेकिन मोदी के दूसरे कार्यकाल का चौबीसवाँ एपिसोड था। आखिरी बार मोदी ने बीते 25 अप्रैल को मन की बात की थी।पीएम मोदी ने इस कार्यक्रम के माध्यम से यास तूफ़ान से मारे गए लोगो के परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए कहा की लोगो ने इस लड़ाई को मजबूती से लड़ा है।

यह भी पढ़े : कोरोना से अनाथ हुए बच्चों को मोदी सरकार कि सौगात : हेल्थ बिमा और मुफ्त शिक्षा देगी केंद्र सरकार।

सात साल कि उपलब्धिया बताई

मोदी ने कहा की NDA सरकार के साथ साल कार्यकाल पुरे होने पर लगों ने पात्र लिखा और कहा की मन की बात में इस सात साल के कार्यकाल का जिक्र जरूर करू। लोगो ने कहा की ये जो साथ साल की उपलब्धियां है वो देश की उपलब्धियां है। मोदी ने कहा ऐसे कई सारे काम हुए है जिससे करोड़ों लोगो को ख़ुशी हुई है और मई इन सभी लोगों के खुशियों में शामिल रहा हूँ। मोदी ने कहा पूर्वोत्तर से लेकर कश्मीर तक के मामले हमने सुलझाए है और वो भी पूरी शांति पूर्ण तरीके से।

अगर पढ़े : पीएम मोदी से मिलने 30 मिनट लेट पहुंचने कि वजह ममता बनर्जी ने बताई, मुझे बदनाम करने कि कोशिश कि जा रही है।

मोदी ने कहा की देश को आगे ले जाने के लिए हर नागरिक ने अपना कदम आगे की ओर बढ़ाया है। देश में अब विकास की नई धरा बह रही है और इसलिए ये सब सम्भव हो रहा है क्योकि जो काम दसकों से नहीं हो पाए थे उनको हमने देश के तौर पर काम कर सफलता पूर्ण तरिके से संभव किया। मोदी ने देश में चल रहे महामारी से लड़ रहे देश के सभी डॉक्टरों का हौसला बढ़ाया और कहा की ये सभी लोग अपनी और अपनों की चिंता को छोड़ कर दिन रात लोगों की जान बचने में लगे हुए है।

यह भी पढ़े : अर्श से फर्श पर आये पहलवान सुशील कुमार,छत्रसाल मर्डर केस में हुए गिरफ्तार।

महामारी में किस तरह से सरकार ने मदद की

पीएम ने ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए लगी वायुसेना , जल , थल सेनाओं की भी तारीफ़ करते हुए कहा की ये जवान जो काम कर रहे है ये उनका रूटीन काम नहीं है लेकिन ये महामारी सौ साल बाद आयी है और इसलिए मैं उनके काम और सहयोग के लिए सलाम करता हूँ। इस कार्यकर्म के दौरान मोदी ने ऑक्सीजन टैंकर चलाने वाले जौनपुर निवासी दिनेश उपाध्याय से बात की और कहा दिनेश जी जैसे लाखों लोग इस मुश्किल समय में काम कर रहे है इसलिए हम ये लड़ाई जीतेंगे।

यह भी पढ़े : यूपी बोर्ड दसवीं कि परीक्षा हुई रद्द , कक्षा 12 वी के छात्रों को 10 सवालों में से देने होंगे सिर्फ …..

इसके बाद मोदी ने ऑक्सीजन एक्सप्रेस की लोकोपायलट शिरीषा से बात की। शिरीषा ने बताया की वो अपने पिता से प्रेरणा लेती है। मोदी ने कहा इस बुरे दौर में महिलाओं , मातेये बहनों ने भी अपनी जिम्मेदारी निभाई है और इस मुश्किल घडी में अपना पूरा योगदान दिया है , यह महिलाओं के लिए गर्व की बात है। इसके बाद पीएम ने एयरफोर्स में कार्यरत ग्रुप कैप्टेन एके पटनायक और उनकी बेटी से बातचीत भी की।

यह भी पढ़े : दिल्ली को खोलने कि तैयारी शुरू, फिर भी केजरीवाल से नाराज क्यों है व्यापारी ?

दिल्ली की एक लैब में लैब टेक्नीशियन के तौर पर काम करने वाले प्रकाश कांडपाल से भी बात की और उनके अनुभव को पूछा और उनकी तारीफ़ भी की।पीएम मोदी ने आज के कार्यक्रम के अंत में लोगो से अपील की लोग सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करे।, मास्क अनिवार्य रूप से पहने, और टीका लगवाए। उन्होंने अंत में कहा की दो गज की दुरी मास्क और वैक्सीन ही जीत का रास्ता है।

यह भी पढ़े : बचे हुए IPL -14 के मैचों की आ गयी नई तारीख ! UAE या इंग्लैंड कहा होगा मैच ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *