चायवाले ने पीएम मोदी को भेजा ₹100, कहा मोदी इससे अपनी दाढ़ी बनवा ले।

0
1
चायवाले

महाराष्ट्र के बारामती के रहने वाले एक चायवाले ने पीएम मोदी को ₹100 का मनी ऑर्डर भेज कर उनसे दाढ़ी बनवाने की अपील की है। पीएम मोदी को ₹100 का मनीआर्डर भेजने और चाय बेचने वाले शख्स का नाम अनिल मोरे है। आपको बता दें जब से देश में कोरोना वायरस ने दस्तक दी है तब से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी दाढ़ी को बढ़ाना शुरू कर दिया था।

यह भी पढ़े : किसान नेता राकेश टिकैत ने ममता बनर्जी से की मुलाकात, कहा आपने बड़े दुश्मन को हराया है।

चायवाले ने भेजा मनी आर्डर

अनिल मोरे ने मनीआर्डर भेजने के साथ-साथ पीएम मोदी को एक नसीहत हुई थी। चायवाले ने प्रधानमंत्री मोदी को ₹100 का मनी ऑर्डर भेजा और उसने कहा कि लॉकडाउन की वजह से बहुत से लोगों का कामकाज ठप हो गया है और रोजगार बंद पड़ गए हैं। ऐसे में अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कुछ बढ़ाना ही है तो रोजगार के अवसर बढ़ाए न कि अपनी दाढ़ी।

यह भी पढ़े : उत्तर प्रदेश चुनाव से पहले हुआ बड़ा उलटफेर, राहुल गांधी के खास जितिन प्रसाद बीजेपी में हुए शामिल।

खबरों के अनुसार अनिल मोरे की दुकान इंदारपुर रोड के समीप एक प्राइवेट अस्पताल के ठीक सामने है। अनिल मोरे का कहना है कि पीएम मोदी ने दाढ़ी बढ़ा ली लेकिन उनको अगर कुछ बढ़ाना ही है तो वह देश के लोगों के लिए रोजगार के अवसर बढ़ाए। अनिल मोरे ने कहा कि आबादी के लिए टीकाकरण अभियान में तेजी लाया जाए और मौजूदा चिकित्सा सुविधाओं में भी सुधार किया जाए। पीएम मोदी को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि लोग पिछले 2 साल से झेल रहे दुखों से छुटकारा पाएं। 

यह भी पढ़े : सुशांत सिंह राजपूत और सारा केदारनाथ के सेट पर लेते थे ड्रग्स? नितीश भारद्वाज ने दिया जवाब।

एक चायवाले की दूसरे चायवाले से अपील

अनिल मोरे ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के सबसे बड़े नेता हैं। हमारे मन में उनके लिए आदर और सम्मान है। मेरे इस पत्र और मनीआर्डर की वजह से उनको परेशान करना हमारा उद्देश्य नहीं है। लेकिन लॉकडाउन के कारण लाखों लोगों ने अपनी नौकरी गवाई है और परेशान हैं इस पर ध्यान देना चाहिए। मोरे ने अपनी मनीऑर्डर के साथ एक पत्र भी लिख कर भेजा है । उन्होंने पत्र में लिखा है कि कोरोना से जान गवाने वाले लोगों के परिवार वालों को ₹50लाख की मदद की जाए और लॉकडाउन बढ़ने पर हर परिवार को ₹30 हजार की मदद की जाए |

यह भी पढ़े : खुशनुमा जिंदगी का दर्दनाक अंत, कानपुर में हुआ भीषण हादसा, 17 की मौत।