भारत में नए मास्टरकार्ड ​जारी करने पर लगी रोक, जाने इसके पीछे की बड़ी वजह।

MASTERCARD पर भारत में  बैन।

पेमेंट और टेक कंपनी MASTERCARD क़ो RBI ने एक बहुत बड़ा झटका दिया है। MASTERCARD पर भारत में नए कार्ड जारी करने पर पूरी तरीके से बैन लग दिया गया है। RBI ने आदेश जारी किए है, “अब 22 जुलाई से भारत में कोई भी नया ग्राहक मास्टर कार्ड से नहीं जुड़ पाएगा।”

 

यह भी पढ़े: कलह की निकली सुलह : सिद्धू के हाथों में होगी पंजाब की कमान, पीके के दखल के बाद कैप्टन और सिद्धू के बीच निकला सुलह का फॉर्मूला।

 

क्यों हुआ बैन ?

दरअसल यह कार्रवाई मास्टरकार्ड पर इसलिए की गई, क्योंकि कुछ ऐसे नियम है। जिनका उल्लंघन मास्टरकार्ड की ओर से किया जा रहा थ। उसके बाद RBI अंतिम चेतावनीभी दी थी , लेकिन नियम का पालन फिर भी ना होने के कारण RBI नें अब शक्ति भरा कदम उठाते हुए, फैसला लिया है। दरअसल 6 अप्रैल 2018 को पेमेंट सिस्टम डेटा क़े स्टोरेज पर अपने सर्कुलर क़ो लेकर सभी सिस्टम प्रोवाइडर्स क़ो लेकर RBI ने ये सुनिश्चित करने को कहा था कि 6 महीने के भीतर पेमेंट सिस्टम से संबंधित सारा डेटा सिर्फ भारत में इकट्ठा करें मास्टरकार्ड ऐसा तीसरा पेमेंट सिस्टम बन गया है, जिस पर पेमेंट सिस्टम डेटा के स्टोर पर RBI के निर्देश का अनुपालन ना करने पर प्रतिबंध लगाया है।

 

यह भी पढ़े: Delhi Riots 2020 : दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट ने दिल्ली पुलिस पर ठोका जुर्माना, कहा आरोपियों को पुलिस ही बचा रही है।

 

पुराने ग्राहकों को नहीं है कोई नुकसान।

अगर आप मास्टरकार्ड यूज़र है। तो आप पर इसका कोई भी असर नहीं पड़ेगा। जो नए ग्राहक जोड़ने की प्रक्रिया है, उस पर रोक है, जो बैंक मास्टर कार्ड जारी कर रहे थे, अब मास्टरकार्ड जारी नहीं हो पाएगा क्योंकि आरबीआई ने इस पर रोक लगा दी है,अभी जो मास्टरकार्ड के पुराने यूजर है,वो मास्टर कार्ड का उपयोग करते रहेंगे । उसमें कोई दिक्कत नहीं होग। नए ग्राहक जो मास्टकार्ड लेना चाह रहे हैं, वो अब मास्टर कार्ड नहीं ले पाएंगे ।

 

यह भी पढ़े: महंगाई भत्ता : महंगाई के बीच आई राहत की खबर, 17% से बढ़कर 28 प्रतिशत हुआ DA

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *