सावधान : चीन के निशाने पर State Bank Of India के ग्राहक।

0
59
State Bank Of India

व्हॉट्सएप और मैसेज के जरिया हो रहा धोखा

अगर आप State Bank Of India के ग्राहक है तो अब आप कों बेहद सावधान रहने की जरूरत है। दरअसल कुछ चीनी हैकर्स State Bank Of India के कस्टमर्स कों निशाना बना रहे है। इसके लिए वह कई तरह के स्कैम का यूज कर रहे हैं। ये हैकर्स कस्टमर को निशाना बनाने के लिए व्हाट्सएप और SMS का सहारा ले रहे हैं। यह हैकर्स व्हाट्सएप और मैसेज के जरिए State Bank Of India के कस्टमर्स कों KYC अपडेट करने कों कहते है। इसके के लिए मैसेज में एक वेबसाइट का लिंक भी दिया जाता है। ये वेबसाइट SBI की वेबसाइट से काफी मिलती जुलती होती है इस वजह से कस्टमर्स धोखा खा जाते हैं।

State Bank Of India

 

यह भी पढ़े:  Modi Cabinet Expansion List : किसको मिला कौन सा मंत्रालय ? देखे पूरी सूची ।

मैसेज में SBI (State Bank Of India) की ओर से 50 लाख रुपए का गिफ्ट देने की बात की जाती है। साइबर सिक्योरिटी रिसर्च नें इसको लेकर चेतावनी भी जारी की है। CyberPeace Foundation और auto Cyber Fraud) SBI के नाम पर चूना लगाने वाले हैकर्स का खुलासा किया है। ऐसे वक्त में सामने आए हैं जब कुछ स्मार्ट फोन यूजर्स ने इस SBI को स्कैम कों लेकर चेतावनी जारी की है। रिसर्च टीम ने बताया है जीतने ही डोमेन नाम का उन्होंने पता लगाया वो सभी के सभी चीन से रजिस्टर्ड निकले।

State Bank Of India के ग्राहकों के साथ कैसे हो रहा है स्कैम?

ये हैकर्स यूजर्स कों सबसे पहले text मैसेज भेजते हैं और उसे KYC वेरीफिकेशन को लेकर रिक्वेस्ट करते हैं। इस के बाद जो भी यूजर उस लिंक को ओपन करता है। वो सीधे एक ऐसे पेज पर जाता है जो SBI ऑनलाइन पेज की तरह दिखता है। इस के बाद जैसे ही कोई कंटिन्यू पर पर लॉग इन करता है। वेबसाइट सीधे उसे full-kyc.php पेज पर ले जाती है। यहां पहुंचने के बाद यूजर्स से यूजरनेम पासवर्ड और कैप्चा पूछा जाता है।

यह भी पढ़े:  What’s new in market: सस्ते में शानदार कैमरे वाले स्मार्टफोन खरीदने का मौका, इतने सस्ते में 64MP कैमरे वाले धांसू फोन ।

इसके बाद ऑनलाइन बैंकिंग में लॉग-इन करने के लिए कहा जाता है। इसके बाद पास यूजर्स के पास उनके मोबाइल नंबर पर OTP भेजा जाता है। OTP डालते ही सीधे यूजर्स की सारी जानकारी मांगी जाती है। इस जानकारी में अकाउंट होल्डर का नाम,मोबाइल नंबर और डेट ऑफ बर्थ मांगी जाती है।

यह भी पढ़े:  India Post GDS Recruitment 2021: 1940 GDS पदों पर कक्षा 10वीं पास के लिए निकली भर्ती, जल्द करें आवेदन।

State Bank Of India ने दिया है अभी तक को बयान

रिसर्च टीम ने बताया है इसके जरिए हैकर्स ये दावा करते हैं। इस कैंपियन की शुरुआत SBI नें की है। लेकिन वेबसाइट SBI. Com से सीधे थर्ड पार्टी के नाम पर ओपन हो जाती है। जिससे शक और ज्यादा पैदा हो जाता है। आपको बता दें कि पेज के ओवर ऑल लुक कों ठीक SBI के तरह ही बनाया गया है। हालांकि अभी तक SBI ने अपना कोई बयान नहीं दिया है। लेकिन ये चीनी हैकर्स बड़े ही चालाकी से स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के ग्राहक को चूना लगा रहे हैं।

यह भी पढ़े:  UP Board Result 2021: बिना रोल नंबर के कैसे चेक होगा यूपी बोर्ड का रिजल्ट ? इस डॉक्यूमेंट से रिजल्ट करे चेक।