ऑस्ट्रेलिया ने भारत से मांगी 5 हजार लीटर जहर, ऑस्ट्रेलिया में मंडराने लगा है आर्थिक संकट के बादल।

ऑस्ट्रेलिया एक तरफ कोरोना से किसी तरह से बचा है तो अब चूहों ने आतंक मचाना शुरू कर दिया है। इन चूहों के वजह से ऑस्ट्रेलिया में आर्थिक संकट की स्थिति बनने लगी है। चूहे कृषि भूमि के साथ – साथ अब घरों में घुस कर समानों को नष्ट करना शुरू कर दिया है। ऑस्ट्रेलिया के लोग अब चूहों के आतंक से बेहद परेशान हो गए है। सबसे ज्यादा नुकसान ऑस्ट्रेलिया के किसानों को हो रहा है।

यह भी पढ़े : किसान आंदोलन : तीनो कृषि कानून रद्द होने के बाद ही किसान अब वापस जायेगे : राकेश टिकैत ने दिया बयान।

चूहों ने ऑस्ट्रेलिया में मचाई तबाही

चूहों ने किसानों के फसल को बर्बाद करना शुरू कर दिया है। इन चूहों से बचने के लिए ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने बहुत सारे उपाय खोजने में लगी है और अब तक कोई उचित उपाय नहीं मिला है। अब ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने भारत की सरकार से मदद की गुहार लगाई है। ऑस्ट्रेलिया सरकार ने भारत से 5 हजार लीटर जहर मांगी है। ऑस्ट्रेलिया सरकार ने बताया की अगर इन चूहों के आतंक को नहीं रोका गया तो हमारे देश में आर्थिक संकट आने की पूरी संभावना है।

यह भी पढ़े : पूजा ने गोल्ड तो मेरी कॉम समेत तीन ने जीते सिल्वर मेडल।

चूहे कि वजह से घर में लगी आग

पिछले दिनों चूहों के वजह से एक घर में आग लग गयी। चूहों ने बिजली की तार को काट दिया जिसके वजह से घर में आग लग गयी। चूहों की वजह से बहुत से लोग बीमार हो गए है। एक रिपोर्ट के मुताबिक चूहे हर जगह है। घर , खलिहान , वाहनों, फर्नीचर ,छत , स्कूल , अस्पताल हर जगह चूहों ने अपना डेरा जमाया है। वहां की सरकार ने भारत से प्रतिबंधित जहर ब्रोमैडिओलोन के पांच हजार लीटर यानी की 1320 गैलन की मांग की है। संघीय सरकार ने नियामक ने अभी तक कृषि भूमि पर जहर का उपयोग करने के लिए आपातकालीन आवेदनों को मंजूरी नहीं दी हैं।

यह भी पढ़े : यूपी में कल से क्या होगा अनलॉक और कहा पाबंदी रहेगी जारी ? 20 जिलों को अभी राहत नहीं ,देखे कर्फ्यू के नए दिशा निर्देश।

चूहों के आंतक पर चिंता जताते हुए कृषि मंत्री एडम मार्शल ने कहा की अगर बसंत तक इन चूहों की संख्या कम नहीं हुई तो आने वाे समय में कई साड़ी समस्याए उत्पन हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *