UP Assembly Election 2022: अखिलेश यादव की करीबी पंखुड़ी पाठक (Pankhuri Pathak) को कांग्रेस ने दिया टिकट, नोएडा से लड़ेगी चुनाव।

0
371

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) में अब चंद दिन बचे हैं। चुनावी मैदान में खिलाड़ियों के नाम फाइनल हो रहे हैं। कांग्रेस(Congres) ने गुरुवार को 125 उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की है। जिसमें खास बात ये है।लड़की हूं लड़ सकती हूं को सफल बनाने के लिए प्रियंका ने यूपी में उतारे 125 उम्मीदवार,जिसमे  40% सीट पर महिलाओं के नाम है , रेप पीड़िता की मां का नाम भी शामिल।  125 उम्मीदवारों मे से 50 महिलाओं के नाम है।

Pankhuri Pathak got Noida Assembly seat from Congress

 

कांग्रेस के तरफ से  पंखुड़ी पाठक(Pankhuri Pathak) को मिली नोएडा विधानसभा की सीट।

Pankhuri Pathak got Noida Assembly seat from Congress

 

अगर बात नोएडा (Noida) विधानसभा की करें तो कांग्रेस नेता पंखुड़ी पाठक(Pankhuri Pathak) का इस सीट से चुनाव लड़ना फाइनल हो गया है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरुवार को इसकी घोषणा कर दी। नोएडा सिटी से पंखुड़ी पाठक (Pankhuri Pathak) अकेली महिला है। जो टिकट की दावेदार थी। माना जा रहा है कि वो यहां पर बीजेपी के वर्तमान विधायक पंकज सिंह को करारी टक्कर देंगी। वही बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के उम्मीदवारों को लेकर अभी अपने पत्ते नहीं खोले हैं। चलिए आपको बताते हैं कि पंखुड़ी पाठक कौन है।पंखुड़ी पाठक ब्राह्मण समाज से ताल्लुक रखती हैं। दूसरी और उनके पति अनिल यादव अन्य पिछड़ा वर्ग से हैं। अनिल यादव नोएडा शहर में नवादा गांव के रहने वाले हैं। लिहाजा दंपति का चुनावी गणित पूरी तरह गांव और शहर के वोटों को साधने वाला है। 

यह भी पढ़े : Omicron: WHO ने बताया ओमिक्रॉन किन लोगों के लिए है, खतरनाक। 

सामाजिक मुद्दों को हमेशा गंभीरता से उठाती है।

जहां पंखुड़ी पाठक (Pankhuri Pathak) पढ़ी लिखी है और तेज तर्रार चेहरे के दम पर सेक्टर और सोसाइटी में मतदाताओं को लुभा रही हैं। लिहाजा पंखुड़ी पाठक (Pankhuri Pathak) को सेक्टर और सोसाइटी से बड़ा वोट बैंक मिल सकता है। पंखुड़ी पाठक (Pankhuri Pathak) सामाजिक मुद्दों को हमेशा गंभीरता से उठाती रही है। 

यह भी पढ़े : West Bengal Train Accident: पश्चिम बंगाल में Bikaner Express के 12 डिब्बे पटरी से उतरे, हुआ एक बड़ा हादसा ।

सोशल मीडिया पर उनके लाखों फॉलोअर्स हैं।

सोशल मीडिया पर उनके लाखों फॉलोअर्स हैं। सोशल मीडिया के साथ-साथ वो जमीनी राजनीति में भी बहुत सक्रिय है। दिल्ली विश्वविद्यालय से छात्र राजनीति से सक्रिय पंखुड़ी (Pankhuri Pathak) समाजवादी पार्टी मुखिया अखिलेश यादव और उनकी पत्नी डिंपल यादव की करीबी भी रह चुकी हैं। कोरोना संकट के दौरान पंखुड़ी पाठक सुर्खियों में रही है। संक्रमण काल के दौरान शहर में लोगों की मदद के लिए कई बड़े अभियान चलाएं। इनमें जरूरतमंद लोगों तक भोजन पहुंचाने के अभियान भी खासी लोकप्रियता मिली थी। इसके अलावा बीमार लोगों पंखुड़ी और उनके सहयोगियों ने अस्पतालों तक पहुंचाया। अब विधायक बनने की रेस में पंखुड़ी पाठक का नाम फाइनल हो गया है। कांग्रेस ने पंखुड़ी पाठक को चुनावी मैदान में उतारा है। ऐसे में देखने वाली बात होगी कि जनता पंखुड़ी पाठक की जीत में पंख लगाती है या नहीं।

यह भी पढ़े : POC Full Form In Hindi 2022 | POC की फुल फॉर्म क्या होती है?