UP Assembly Election 2022 से पहले प्रियंका गाँधी ने बनाया नया फार्मूला, क्या यह फार्मूला दिलाएगा उत्तर प्रदेश में सत्ता ?

3
207
UP Assembly Election 2022

अगले साल उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) होना है। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) को लेकर सभी पार्टियों ने अपनी अपनी तैयारियां शुरू कर दी है। कोई भी पार्टी चुनाव की तैयारी में कोई भी कसर नहीं छोड़ना चाहती। उत्तर प्रदेश में भाजपा से लेकर कांग्रेस तक सभी पार्टिया अपनी राजनीति को साधने में जुटे हुए हैं। उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की पकड़ पिछले विधानसभा चुनाव में थोड़ी कमजोर थी लेकिन इस बार अपनी पकड़ को मजबूत करने के लिए प्रियंका गांधी ने एक नया टास्क दे दिया है।

यह भी पढ़े: Corona Update : दक्षिण अफ्रीका में मिला covid 19 का एक और वेरिएंट, वैक्सीन की सुरक्षा को भी भेद देगा, अमेरिका में 1.80 लाख बच्चे हुये संक्रमित।

प्रियंका गाँधी ने UP Assembly Election 2022 से पहले दिया नया टास्क 

उत्तर प्रदेश के कांग्रेसियों को प्रशिक्षण देने के बाद प्रियंका गांधी ने यह नया टास्क दिया है। ऐसा माना जा रहा है कि प्रियंका गांधी के दिए इस नए टास्क के जरिए उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) में कांग्रेस के लिए एक नया जोश और बड़े नेटवर्क की पार्टी बनकर उभरने में मदद करेगी।

UP Assembly Election 2022

जाने क्या है नया टास्क ?

आपको बता दें कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश के ग्रामीण स्तर पर बीते कुछ समय से लगातार वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रशिक्षण शिविर में हिस्सेदारी ले रही हैं। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) को ध्यान में रखते हुए प्रियंका गांधी ने जिलेवार तरीके से इस प्रशिक्षण को शुरू किया है। उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ नेताओं के मुताबिक प्रियंका गांधी प्रशिक्षण के जरिए ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाले लोगों को कांग्रेस से जुड़ने और बेहतर तरीके से लोगों का जुड़ाव कांग्रेस की ओर हो उसके लिए यह एक तरीका है।

यह भी पढ़े: GATE 2022 EXAM के लिए IIT Kharagpur ने जारी किया शेड्यूल, जाने कब भरे जायेगे फॉर्म।

UP Assembly Election 2022 से कांग्रेस लोगों से जुड़ने की कर रही है कोशिश 

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) से पहले प्रियंका गांधी की कोशिश है की प्रदेश के हर गांव तक अपनी पहुंच बनाई जाए जिसके लिए कांग्रेस ने ‘हर गांव कांग्रेस अभियान’ की भी शुरुआत कर दी है। हर गांव कांग्रेस अभियान के तहत कांग्रेसियों को एक ऐसा लक्ष्य प्रियंका गांधी ने दिया है जो प्रदेश में संगठन को बेहद मजबूत करने की दिशा में एक बड़ा कदम साबित हो सकता है। प्रियंका गांधी ने विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) से पहले कहा कि अगले 20 दिनों के अंदर उत्तर प्रदेश की 58 हजार ग्राम सभाओं में कांग्रेस ग्राम सभा अध्यक्ष बनाए जाएंगे।

ग्रामीण अस्तर पर संघठन को मजबबूत करने की तैयारी

प्रदेश के कांग्रेसी नेताओं के मुताबिक ग्रामीण स्तर पर संगठन को मजबूत करने की तैयारी पहले से ही की जा रही है, जिसके लिए 20 दिनों के अंदर 58,000 ग्राम सभाओं में अध्यक्ष बनाने का टास्क कांग्रेस के लिए बड़ा नहीं है। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस के लिए बहुत बड़ी चुनौती होने वाला है। इसी चुनौती को ध्यान में रखते हुए कांग्रेस ने गांव में अध्यक्ष बनाने का फैसला किया है ताकि लोगों का जुड़ाव कांग्रेस की तरफ किया जा सके।

यह भी पढ़े: राष्ट्रपति Ram Nath Kovind का एक दिवसीय अयोध्या दौरा, बोले सभी के और सब में हैं श्री राम।

कांग्रेस ने शुरू किया पराक्रम महाअभियान

कांग्रेस ने इस टास्क साथ-साथ प्रशिक्षण अभियान को भी आगे बढ़ाने के लिए 700 ट्रेनिंग कैंप लगाने की योजना बना रही है। इस योजना का नाम ‘पराक्रम महाअभियान’ दिया गया है। अभियान के जरिए 200000 पदाधिकारियों को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य तय हुआ है। प्रियंका गांधी ने कहा कि हर गांव कांग्रेसका अभियान बहुत महत्वपूर्ण साबित होगा और कांग्रेस को एक नई दिशा और मजबूती भी देगा।

यह भी पढ़े: IPL 2021: दिल्ली कैपिटल्स का काम होगा कप्तान अय्यर का बड़ा बयान