राष्ट्रपति Ram Nath Kovind का एक दिवसीय अयोध्या दौरा, बोले सभी के और सब में हैं श्री राम।

राष्ट्रपति Ram Nath Kovind आज एक दिवसीय दौरे पर अयोध्या पहुंचे थे। अयोध्या पहुंचने के साथ-साथ राष्ट्रपति Ram Nath Kovind देश के पहले राष्ट्रपति हैं जो राम की नगरी में पहुंचे थे। Ram Nath Kovind के अयोध्या पहुंचते राम के नारों से पूरा पांडाल गूंज उठा। अयोध्या में रामायण कॉन्क्लेव के शुभारंभ करने के बाद राष्ट्रपति Ram Nath Kovind ने संबोधन दिया। 

यह भी पढ़े: Mann ki baat : हुनरमंद आज के विश्वकर्मा है, “सब खेलें सब खिलें” का पीएम मोदी ने दिया नया नारा, जाने मन की बात से जुडी अहम बातें।

रामायण एक विलक्षण ग्रंथ है – Ram Nath Kovind

राष्ट्रपति ने अपने संबोधन के दौरान भारतीय जीवन मूल्यों के आदर्शों, उपदेश रामायण में संपूर्ण रूप से समाहित होने की बात कही। Ram Nath Kovind ने अयोध्या प्रभु श्री राम की जन्मभूमि और लीला भूमि तो है ही मगर बिना राम के इस नगरी की कल्पना करना भी असंभव होगा। Ram Nath Kovind ने कहा कि रामायण का प्रचार महत्वपूर्ण है। उन्होंने आगे अपने संबोधन में बताया कि रामायण एक ऐसा विलक्षण ग्रंथ है जो राम कथा के माध्यम से विश्व समुदाय के समक्ष मानव जीवन के आदर्शों और मर्यादाओं को प्रस्तुत करने का काम करता है।

Ram Nath Kovind

राम और शबरी के अनूठे प्रेम का किया वर्णन

Ram Nath Kovind ने कहा कि मुझे यकीन है की रामायण के प्रचार प्रसार के लिए उत्तर प्रदेश सरकार का प्रयास पूरी मानवता के हित में होगा। Ram Nath Kovind ने तुलसीदास द्वारा रचित रामचरितमानस की तमाम चौपाइयों का दृष्टांत देते हुए राम और शबरी के अनूठे प्रेम का भी वर्णन किया।

यह भी पढ़े: Azadi Ka Amrit Mahotsav कार्यक्रम से पंडित नेहरू की तस्वीर गायब, कांग्रेस ने उठाया सवाल।

गाँधी जी ने भी रामराज्य की कल्पना श्री राम से प्रेरित होकर ली थी – Ram Nath Kovind

Ram Nath Kovind ने भाई से भाई का प्रेम, माता-पिता का प्रेम, पति पत्नी का प्रेम और मानव का प्रकृति से प्रेम का अद्भुत उदाहरण बताया। रामनाथ कोविंद ने कहा कि रामराज्य की कल्पना महात्मा गांधी ने प्रभु श्रीराम से ही प्रेरित होकर के की थी। Ram Nath Kovind ने भारत के रिश्ते दक्षिण कोरिया से गिनाते हुए बताया अयोध्या शोध संस्थान की ओर से रामायण विश्वकोश की पहल करने की सराहना हुई और रामायण कॉन्क्लेव संपूर्ण विश्व के लिए एक महत्वपूर्ण उदाहरण प्रस्तुत करेगा।

राष्ट्रपति का आयोध्या आगमन हम सबका है सौभाग्य – योगी आदित्यनाथ

राष्ट्रपति के अयोध्या दौरे पर उनके साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल भी उपस्थित रहे। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राष्ट्रपति का राम नगरी अयोध्या में आगमन हम सभी के लिए सौभाग्य की बात है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 5 शताब्दियों के लंबे इंतजार के बाद देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अनुकंपा से 5 अगस्त 2020 को प्रभु श्री राम के भव्य मंदिर निर्माण कार्य आरंभ हुआ था।

यह भी पढ़े: Covid 19 Update : बीते 24 घण्टे में मिले 45 हजार से ज्यादा नए मामले , केरल बना है हॉटस्पॉट।

योगी आदित्यनाथ ने कहा जन जन के है राम

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रभु राम का वंदन करते हुए कि राम जन जन के हैं और आस्था के प्रतीक भी। उन्होंने कहा कि किसी भी नाम के आगे सर्वाधिक शब्द का प्रयोग हुआ है तो वह प्रभु राम का नाम है। मुख्यमंत्री ने Ram Nath Kovind के नाम का जिक्र करते हुए कहा कि राष्ट्रपति के नाम के आगे भी श्री राम का नाम जुड़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि अब प्रदर्शित करता है करोड़ों लोगों के सांस और रोम रोम में राम बसे हुए हैं।

यह भी पढ़े: IPL 2021: T20 वर्ल्ड कप और एशेज सीरीज से पहले आईपीएल में खेलने के लिए डेविड मलान बेकरार है!

One thought on “राष्ट्रपति Ram Nath Kovind का एक दिवसीय अयोध्या दौरा, बोले सभी के और सब में हैं श्री राम।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *