मौत को दावत दे रही है लोगों की लापरवाही, Vaccine लगने के बाद क्यों लोग हुए लापरवाह, दुनिया के कई देशों में फिर शुरू हुई तबाही।

0
39
Vaccine

दुनिया के कई देशों में कोरोना के मामले एक बार फिर से तेजी से बढ़ने लगे हैं। इसमें सबसे चिंता वाली बात यह है इन देशों में कई ऐसे देश हैं, जिन्होंने अपनी आधी से ज्यादा आबादी को Vaccine दे चुकी है। सवाल यह है कि Vaccine लगने के बाद भी कोरोना के मामले तेजी से क्यों बढ़ रहे हैं? तेजी से बढ़ते मामलों के बीच कुछ देशों ने पहले अनलॉक करने की प्रक्रिया शुरू की। लेकिन बाद में फिर से उस पर ब्रेक लगाकर लॉक करने की तैयारी शुरू कर दी है।

Vaccine

 

यह भी पढ़े: भारतीय सेना का स्वच्छता अभियान: लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर अबू हुरैरा समेत 3 आतंकी ढेर।

दोनों डोज के बूस्टर डोज की तैयारी शुरू

Vaccine की कुछ कंपनियां जैसे फाइजर मॉडर्ना अपने दूसरे डोज के बाद अब बूस्टर डोज की भी तैयारी करने लगे। भारत जैसे देश की सबसे बड़ी चिंता यह है कि जिन देशों ने 50% से ज्यादा आबादी को वैक्सीनेटेड कर चुके है वहां अगर मामले तेजी से बढ़ रहे हैं, तो भारत में तो सिर्फ 5% लोगों को ही दोनों डोज लगे हैं। ऐसे में भारत के सामने चुनौती का सामना करने के लिए सरकार क्या तैयारी कर रही है? 

मोदी ने भी जताई थी चिंता

कुछ दिन पहले हमने आपको बताई थी उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश के कई हिल स्टेशन पर भीड़ को देखकर बिल्कुल भी ऐसा एहसास नहीं हो रहा था कि देश में कोरोना महामारी अभी भी चल रही है। कल प्रधानमंत्री मोदी ने भी 8 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत के दौरान इस बात का जिक्र करते हुए कहा कि लोगों की मस्ती को रोकना होगा। इस तरह की भीड़ इकट्ठा होना हमारे लिए चिंता का विषय है। अब हम आपको आगे बताएंगे कि किन किन देशों ने 50% से ज्यादा अपनी आबादी को वैक्सीन दे चुकी है और उसके बाद वहां पर हर दिन कोरोना के कितने मामले सामने आ रहे हैं।

यह भी पढ़े: दुखद : बादल फटने से पंजाबी सूफी सिंगर मनमीत सिंह समेत 6 लोगो की मिली लाश।

1. UK :

सबसे पहला देश आता है UK जिसने अपनी 51% से ज्यादा आबादी को Vaccine के दोनों डोज दे चूका है, जबकि 68% से ज्यादा आबादी को एक डोज लगा है। 19 जुलाई को UK सरकार ने अपने यहाँ कोरोना के पाबंदियों में ढील देने की तैयारी की थी लेकिन कोरोना के मामले फिर से बढ़ने लगे है। अगर पिछले हफ्ते की बात करें तो वहां 10 लाख की आबादी पर 410 नए केस मिले थे। शुक्रवार के दिन वहां पर 35000 से अधिक नए मामले सामने आए थे जो 5 महीनों के आंकड़ों में सबसे ज्यादा थे। पिछले 5 दिनों के आंकड़ों की बात करें तो यूके में लगातार 30,000 से अधिक नए मामले मिल रहे थे।

2. इजरायल :

अब हम बात कर रहे हैं दुनिया के सबसे तेजी से अपनी आबादी को वैक्सीनेटेड करने वाले देश इजरायल की। इजराइल ने अपने यहां की 60% आबादी को Vaccine के दोनों डोज जबकि 66% आबादी को कम से कम 1 डोज दे चुका है। जब इजरायल ने अपने यहां 50% से अधिक दोष देने का आंकड़ा पहुंचाया तो उन्होंने अपने देश में लोगों को मास्क पहनने से आजादी दे दी। लेकिन इस आजादी को किसी की नजर लगी और केस फिर बढ़ने लगे हैं।

यह भी पढ़े:  हिल स्टेशन पर उमड़ी भीड़ पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जताई चिंता, कहा इस तरह से भीड़ का जुटना हमारे लिए ठीक नहीं है।

पिछले 3 दिनों के आंकड़ों की बात करें तो 1000 नए मामले मिले। एक्टिव केसेस के मामले में वहां चार हजार का आंकड़ा एक बार फिर पार कर गया है। पूरे इजराइल में अब तक 5 इलाकों को इंफेक्शन रेट के आधार पर रेड जोन घोषित किया गया है।  तेजी से बढ़ते आंकड़ों के बीच इजरायल ने अपनी रणनीति को बदला और इनफेक्टेड कंट्रीज आने वाले यात्रियों को पृथकवास में रखने का फैसला किया। इन यात्रियों में अगर किसी ने दोनों डोज वैक्सीन के ले लिया है तो उन्हें भी नियमों के मुताबिक पृथकवास में रहने की आवश्यकता होगी।

3. स्पेन :

अगर हम बात करें तो इस देश में सबसे ज्यादा युवा प्रभावित हो रहे हैं। स्पेन अपने आबादी का करीब 45% से अधिक Vaccine के दोनों डोज दे चुका है, जबकि 59% तक आबादी को कम से कम एक डोज वैक्सीन जा चुकी है। आंकड़ों के बावजूद भी स्पेन में पिछले हफ्ते पॉजिटिविटी रेट दोगुना हो गया था। स्पेन में सबसे ज्यादा 20 से 29 साल के बीच युवाओं के अधिक मामले मिल रहे हैं जिनको वैक्सीन नहीं लगी है। शुक्रवार और शनिवार को इटली में 37 लोगों की करुणा से मौत हुई।

4. अमेरिका :

दुनिया का सुपर पावर कहने वाला देश अमेरिका अपनी पूरी आबादी का करीब 49% लोगों को Vaccine के दोनों डोज वैक्सीन दे चुका है, वही 77% आबादी को एक डोज वैक्सीन लग चुकी है। इस बड़े आंकड़े के बावजूद भी अमेरिका के आधा से ज्यादा राज्यों में फिर से कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं। पिछले हफ्ते के आंकड़ों के मुताबिक औसतन हर दिन 19,000 से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं। नए मामलों में 80% नए मामले कोरोना के डेल्टा वेरिएंट की वजह से मिल रहे हैं। अमेरिका के कैलिफोर्निया ,टैक्सास, न्यूयॉर्क और फ्लोरिडा में सबसे ज्यादा नए मामले मिलने की खबर है।

5. भारत :

वहीं अगर हम भारत की बात करें तो एक 11 जुलाई तक आंकड़ों के मुताबिक अब तक सिर्फ 37.73 करोड़ लोगों को Vaccine का एक डोज लगा है। यह आंकड़ा पूरी आबादी के लिहाज से सिर्फ 22 फ़ीसदी है जबकि सिर्फ पूरी आबादी के 5% लोगों को ही वैक्सीन के दोनों डोज लगे हैं। भारत में लगभग हर दिन 35 लाख वैक्सीन के डोज लग रहे हैं और इस प्रकार से वैक्सीनेशन होगा तो भारत की आधी आबादी को वैक्सीनेटेड करने में अभी और महीने का समय लग जाएगा। भारत में हर दिन औसतन 40,000 से अधिक मामले मिल रहे हैं। इन नए मामलों में से 50 प्रतिशत मामले अकेले महाराष्ट्र और केरल से मिले हैं।

यह भी पढ़े: Population Control : जनसंख्या कानून की मांग कई राज्यों में हुई तेज, एमपी और बिहार में लेकर इसको लेकर बयानबाजी शुरू।