America में कोरोना का कहर जारी, हर मिनट में एक मौत, हर सेकंड में मिल रहे है 2 नए मामले, जाने भारत का हाल।

देश और दुनिया कोरोना महामारी से अभी त्रस्त है। कोरोना को लेकर सबसे डरावने आंकड़े अपने आप को सुपर पावर कहने वाले देश America से मिल रहे हैं। America अब तक के सबसे बुरे दौर से गुजर रहा है। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि America में कोरोना वायरस का डेल्टा वेरिएंट अपना विकराल रूप धारण कर चुका है।

यह भी पढ़े: किसान महापंचायत (Kisan Mahapanchayat) कल , आगे की रणनीति तैयार करने के लिए पहली बार एक साथ होंगे ये दोनों नेता।

America में हर मिनट में हो रही है 1 मौत 

America में पिछले 8 महीनों के सबसे ज्यादा कोरोना मरीज मिल रहे हैं। America के आंकड़े डरावने इसलिए है क्योंकि औसतन हर 1 मिनट में एक मौत हो रही है, जबकि हर 1 मिनट में करीब 110 लोग नए संक्रमित मिल रहे हैं। इन आंकड़ों के हिसाब से समझें तो अमेरिका में हर 1 सेकेंड में करीब औसतन 2 नए मामले कोरोना के मिल रहे हैं।

यह भी पढ़े: Cabinet Meeting : स्कूल को बंद रखने का आदेश, ऑनलाइन होंगी परीक्षाएं, कैबिनेट की बैठक में हुआ बड़ा फैसला

America में 4 करोड़ को पार गया है आकड़ा 

अमेरिका जैसे सुपर पावर देश के कोरोना मामले की बात करें तो यह आंकड़ा 4 करोड़ को पार कर चुका है। अमेरिका में कोरोना की वजह से अब तक 6.62 लाख लोगों ने जान गवा दी है। अमेरिका में भारत जैसे हालात हो रहे हैं क्योंकि देश भर के अस्पतालों में बेड्स खाली नहीं है और ऑक्सीजन की कमी होने की चिंता सताने लगी है। अमेरिका में कोरोना के 42 लाख से अधिक नए मामले सिर्फ अगस्त के महीने में ही पाए गए। जबकि मृतकों की संख्या जुलाई की तुलना में अगस्त के महीने में बढ़कर 3 गुना हो गया था। अमेरिका में अगस्त के महीने में 26,805 लोगों की मौत हुई।

America

पिछले सालों से ज्यादा है मौत के आकड़े

मौत के आंकड़ों में रिपब्लिकन राज्यों में मौतों की संख्या पिछले साल से अधिक हो गई है। कुछ आंकड़े इसलिए भी डरावने लग रहे हैं क्योंकि जिन देशों में वैक्सीन लगाने की दर तेज है वहां भी संक्रमण उसी तेजी से फैल रहा है। लेकिन वैक्सीन लगवाने वाले देशों में मरीजों के अस्पताल होने के मामले और मौत में भी कमी हो रही है। इन दोनों आंकड़ों को देखा जाए तो इसका सिर्फ और सिर्फ कारण वैक्सीन हीं है। बिना वैक्सीन के शरीर में प्रतिरोधक क्षमता विकसित होने में समय लंबा लग जाता है और इस दौरान मौतों की संख्या अप्रत्याशित रूप से बढ़ने लगती है।

यह भी पढ़े: IPL 2021: दिल्ली कैपिटल्स के लिए GOOD NEWS टीम से जुड़ा स्पीड किंग

भारत की राजधानी दिल्ली में क्या है आकड़े ?

वहीं भारत की राजधानी दिल्ली की बात करें तो बीते 24 घंटे में कोरोना के नए 55 मामले सामने आए,जबकि 63 मरीज ठीक होकर घर चले गए हैं। देश की राजधानी दिल्ली में अगर बात करें तो कोरोना से एक भी मौत नहीं हुआ और यह चौथा दिन है जब दिल्ली में किसी मरीज की जान कोरोना वायरस ने नहीं ली है। दिल्ली में कोरोना संक्रमण के दर की बात करें तो इस समय 0.08 फ़ीसदी है जबकि सक्रीय मामलों के दर 0.024 फ़ीसदी हो गई है। देश की राजधानी दिल्ली में रिकवरी दर 98.23 फ़ीसदी है। दिल्ली में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 14,37,929 हो गया है। इसमें से डिस्चार्ज होने वाले मरीजों का आंकड़ा 14,12,493 तक पहुंच गया है।

भारत में क्या है आकड़े?

देश में कोरोना के आंकड़े की बात करें तो 4 सितंबर 2021 की सुबह जारी किए गए। बीते 24 घंटे में कोरोना के 42,618 नए मामले मिले जो 3 सितंबर की तुलना में 6.0 फ़ीसदी कम है। बीते 24 घंटे में देश में करीब 330 मरीजों की मौत हुई और यह आंकड़ा बढ़कर 4,40,225 तक पहुंच गया है। देश में एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर चार लाख से ज्यादा हो चुकी है।

यह भी पढ़े: JEE MAIN EXAM 2021 में हुई बड़ी गड़बड़ी, CBI ने किया खुलासा, 20 ठिकानो पर छापेमारी, 7 लोग गिरफ्तार।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *