Coronavirus Omicron : क्या कोरोना के वजह से देश में दूसरी बार लग सकता है Lockdown .

0
8

Coronavirus Omicron Variant

Coronavirus Omicron
Coronavirus Omicron

 देश में हर दिन कोरोना (Coronavirus) के रिकॉर्ड केसेज आ रहे है। ऐसे में देश में अलग अलग राज्यों में पाबंदियां लगना शुरू हो चुका है। ऐसे में हर किसी के जहन में एक ही सवाल है कि क्या देश में पूर्ण लॉकडाउन (Lockdown) लग जाएगा। कोरोना (Coronavirus) के बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नें राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात की जहा उन्होंने लॉकडाउन (Lockdown) लगाने को लेकर एक बड़ी बात कह दी। कोरोना (Coronavirus) की रफ़्तार मुंबई और  दिल्ली के साथ देश के छोटे-छोटे शहरों और कस्बों में बढ़ती जा रही हैं। जिसे देखते हुए दिल्ली में वीकेंड कर्फ्यू (Weekend Curfew) नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) उत्तर प्रदेश में धारा 144 नाईट कर्फ्यू (Night Curfew) जैसी पाबंदियां लगाई जा रही है। और यह सिर्फ हाल दिल्ली और यूपी का नहीं बल्कि देश के तमाम राज्यों का है कोरोना (Coronavirus) के बढ़ते पॉजिटिवी संक्रमण रेट को देखते हुए एक ही सवाल है, क्या लॉकडाउन (Lockdown) लग जाएगा? 

प्रधानमंत्री मोदी ने क्या कहा ?

Coronavirus Omicron

इस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात करते हुए कहा कि लोगों की आजीविका को नुकसान कम से कम करने के लिए सतर्क रहने की ज्यादा जरूरत है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोना के बाकी वेरिएट के मुकाबले ओमिक्रॉन तेजी से फैल रहा है लेकिन हमें घबराने नहीं बल्कि इससे सतर्क  रहने की जरूरत है।

दरअसल पहले कहा जा रहा था ओमिक्रॉन (Coronavirus Omicron) धीरे-धीरे फैलता है लेकिन इसके बढ़ते मामलों से साफ हो गया है। ओमिक्रॉन (Coronavirus Omicron) जंगल में आग की तरह फैल रहा है पीएम मोदी नें कहा सावधान रहना लेकिन इसपर ध्यान रखना होगा की  किसी तरह का अफरा तफरी का माहौल न बनने पाए। साथ ही लॉकडाउन (Lockdown) के बजाय जिस जगह पर  ज्यादा केसेज आ रहे है वहां कंटेनमेंट जोन(Containment Zone) बनाने पर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है। 

यह भी पढ़े : Omicron: WHO ने बताया ओमिक्रॉन किन लोगों के लिए है, खतरनाक।

3 करोड़ किशोरों का टीकाकरण कराया गया टीकाकरण ।

Coronavirus Omicron

बैठक में गृह मंत्री अमित शाह और स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया के साथ मौजूद मुख्यमंत्रियों से मोदी नें कहा कि 10 दिन में 3 करोड़ किशोरों का टीकाकरण कराया जा चुका है। यह महामारी की चुनौती से निपटने के लिए देश की क्षमता और हमारी तैयारी को दर्शाता है पूरी दुनिया में हम टीकाकरण के मामले में अच्छी स्थिति में है। हमारे लिए यह गर्व की बात है कि आज 92 फ़ीसदी भारतीय पहली खुराक लगवा चुके हैं और दूसरी खुराक लेने वाले करीब 70 फ़ीसदी हो चुके हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कोरोना से बचने के लिए सिर्फ एक तरीका है और वह है वैक्सीन। पीएम मोदी ने कहा महामारी से निपटने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों को प्राथमिकता सक्रियता और सामूहिक स्तर पर प्रयास करना जारी रखना होगा।

यह भी पढ़े : UP Assembly Election 2022 : BJP में भागमभाग, क्या योगी के विधायकों को तोड़ रहे है अखिलेश ?

फ्रंटलाइन वर्कर्स और बुजुर्गों को  बूस्टर डोज का टीकाकरण ।

 जितनी जल्दी हमारे फ्रंटलाइन वर्कर्स और बुजुर्गों में बूस्टर डोज का टीकाकरण पूरा होगा। उतनी ही जल्दी स्वास्थ्य प्रणाली मजबूत होगी साथ ही मोदी ने वैक्सीन ना लगवाने वालों और मार्क्स ना पहनने वालों को भी नसीहत दे डाली। पीएम मोदी ने जोर देते हुए कहा आम आदमी की आजीविका आर्थिक गतिविधियों अर्थव्यवस्था में कम से कम नुकसान का प्रयास किया जाना चाहिए कंटेनमेंट जोन संबंधित किसी तरह की रणनीति बनाने से पहले बातों का ख्याल जरूर रखना चाहिए बेहतर यही होगा कि ज्यादा से ज्यादा स्थानीय कंटेनमेंट पर जोर दें।

यह भी पढ़े : Capetown test: Rishabh pant नें खेली अहम पारी, Sehwag नें कहा लड़के को फ्री ही छोड़ दो।