NEET PG Exam 2022: Supreme Court का आदेश नहीं टलेगी, NEET PG परीक्षा |

0
11

NEET PG 2022 परीक्षा टालने की मांग कर रहे उम्मीदवारों के लिए एक महत्वपूर्ण अपडेट है। सुप्रीम कोर्ट ने NEET PG 2022 परीक्षा स्थगित करने की मांग वाली याचिका कों खारिज कर दिया है. सर्वोच्च न्यायालय ने 13 मई को हुई सुनवाई के दौरान कहां है कि परीक्षा स्थगित करने से मरीजों की देख-भाल और उपचार की व्यवस्था पर असर होगा। मामले की सुनवाई कर रहे खंडपीठ ने केंद्र सरकार की दलील से सहमति जताई कि पहले से ही अस्पतालों में प्रजेंट डॉक्टरों की कमी है. क्योंकि इस साल PG डॉक्टरों क़े दो बैच थे। खंडपीठ ने कहा कि किसी भी राहत से मरीजों की देखभाल और डॉक्टरों की उपलब्धता पर असर पड़ेगा यें उन 2 लाख 6 हजार डॉक्टरों के कैरियर को भी प्रभावित करेगा जिन्होंने इस साल NEET PG 2022 क़े लिए पंजीकरण कराया है।

NEET PG 2022 परीक्षा टालने की याचिका को SC नें किया खारिज !

आपको बता दें कि पोज ग्रैजुएट मेडिकल एंट्रेंस टेस्ट NEET PG 2022 का 21 मई को आयोजन कों स्थगित किए जाने की मांग वाली याचिका पर उच्चतम न्यायालय में सुनवाई होनी थी, राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा 2022 के लिए आवेदन किए कई उम्मीदवारों द्वारा इस याचिका पर सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीशो न्यायमूर्ति दीवा चंद्रचूर न्यायमूर्ति पीएस नरसिंहा की पीठ द्वारा सुनवाई की जानी थी। याचिका में मांग की गई थी कि पिछले वर्ष की परीक्षा के आधार पर काउंसलिंग की प्रक्रिया अभी पूरी नहीं हुई है ऐसे में परीक्षा का आयोजन फिलहाल टालने के आदेश शीर्ष अदालत द्वारा राष्ट्रीय परीक्षा बोर्ड कों दिए जाए। वहीं दूसरी तरफ IMNA में केंद्र स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया से पत्र लिखकर अपील की है कि NEET PG 2022 परीक्षा का 21 मई को आयोजन स्थगित किया जाए जानकारी के अनुसार IMNA द्वारा अपने पत्र में कहा गया है कि वर्ष 2021 की काउंसलिंग और फिर परीक्षा में बेहद का अंतर होने के चलते 5 हजार से अधिक मेडिकल इंटन अयोग्य हो गए है। मेडिकल इंटन जिन्होंने कोविड वारियर के तौर पर ड्यूटी निभाई वों फाइनल एग्जाम में दिए गए इंटनशिप न कर पाने के कारण NEET PG 2022 में सम्मिलित नहीं हो पा रहे है।