उत्तर प्रदेश में ग्रीष्मावकाश में जारी रहेगा ऑनलाइन कक्षाओं का संचाल, ग्रीष्मावकाश रद्द।

0
159

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉक्टर दिनेश शर्मा ने बयानं जारी करते हुए कहा की इस बार 20 मई से प्रदेश के सभी स्कूलों में ऑनलाइन पढ़ाई जारी रहेगी। उन्होंने बताया की कोरोना के चलते अप्रैल से 20 मई तक ऑनलाइन कक्षाओं का संचालन बंद था इसलिए इसको की ग्रीष्मावकाश मानते हुए 20 मई से कक्षाओं का ऑनलाइन संचालन जारी होगी।

उप मुख्यमंत्री डॉक्टर दिनेश शर्मा ने आगे बताया की अगर किसी छात्र या उनके परिवार के किसी सदस्य को या कोई शिक्षक कोरोना से संक्रमित है तो उसको ऑनलाइन कक्षाओं में अनुपस्थिति के लिए कोई अध्यापक छात्र को बाध्य नहीं कर सकता। मगर किसी जिलें में कोरोना का संक्रमण नियंत्रण में नहीं रहता है तो वहां के अधिकारी ऑनलाइन कक्षाओं के संचालन पर पाबन्दी लगा सकते है।

उप मुख्यमंत्री ने आगे बताया नए शैक्षणिक सत्र में पठन पाठन का कार्य बाधित न हो इसलिए 20 मई से ग्रीष्मावकाश होने के बाद भी कक्षाओं का ऑनलाइन संचालन जारी रखने का फैसला किया गया है।प्रदेश के महाविद्यालय और विश्वविधालय भी 20 से कक्षाओं का संचालन कर सकते है। लेकिन सम्बंधित विश्वविधालय के कुलपति कोरोना की स्थिति को देखते हुये कक्षाओं के संचालन पर रोक लगाने का आदेश जारी कर सकते है।

यूपी बोर्ड ने अब तक अपनी कक्षा दसवीं और बारहवीं के परीक्षाओ पर अंतिम फैसला नहीं ले पाया है। मगर उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव के चलते परीक्षा को टाल दिया था। लेकिन अब परीक्षा को लेकर सभी छात्रों के बीच में असमंजस की स्थिति बनी हुई है। कुछ सूत्रों के हवाले से खबर है की इस पर शिक्षा विभाग जल्द बैठक करने वाला है और परीक्षाओ पर फैसला ले सकता है।

20 मई को उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री डॉक्टर दिनेश शर्मा अधिकारीयों के साथ इस विषय को लेकर चर्चा करने वाले है और फैसला ले सकते है और जल्द शेड्यूल जारी किया जा सकता है। लेकिन अभी तक ये तय नहीं हुआ है की कोरोना की बिकट परिस्थति में परीक्षाएं कैसे होगी।